Advertisement

  • बाढ़ का कहर: असम, बिहार, मेघालय में मरने वालों की संख्या हुई 123, केरल में रेड अलर्ट जारी

बाढ़ का कहर: असम, बिहार, मेघालय में मरने वालों की संख्या हुई 123, केरल में रेड अलर्ट जारी

By: Pinki Fri, 19 July 2019 7:05 PM

बाढ़ का कहर: असम, बिहार, मेघालय में मरने वालों की संख्या हुई 123, केरल में रेड अलर्ट जारी

बिहार, असम और मेघालय में बाढ़ का कहर जारी है। गुरुवार तक तीनों राज्यों में मरने वालों की संख्या 123 पहुंच गई। आपदा प्रबंधन विभाग से बुधवार को प्राप्त जानकारी के मुताबिक, बिहार में 12 जिलों (शिवहर, सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, मधुबनी, दरभंगा, सहरसा, सुपौल, किशनगंज, अररिया, पूर्णिया और कटिहार) के 47 लाख लोग प्रभावित हैं, जबकि 78 लोगों की मौत हुई। बाढ़ के चलते सबसे गंभीर स्थिति बिहार की है। सीतामढ़ी में सबसे ज्यादा 18 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके बाद मधुबनी में 14, अररिया में 12, शिवहर में 9, दरभंगा में 9, पूर्णिया में 7, किशनगंज में 4, सुपौल में 3 और पूर्वी चंपारण में 2 लोगों की मौत हुई। मौसम विभाग ने केरल के तीन जिलों में अगले तीन दिन के लिए बारिश का रेड अलर्ट जारी कर दिया है। केंद्रीय जल आयोग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, बिहार की कई नदियां - गंडक, बूढी गंडक, बागमती, अधवारा समूह, कमला बलान, कोसी, महानंदा और परमान नदी - विभिन्न स्थानों पर आज सुबह खतरे के निशान से ऊपर बह रही थीं। राहत एवं बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की कुल 26 टीमें तैनात की गई हैं तथा 125 मोटरबोट का इस्तेमाल किया जा रहा है।

# LIC ने लांच किया 'माइक्रो बचत इंश्योरेंस प्लान', जाने क्या है इसमें खास

# जाने क्या है रूस के साथ होने वाली S-400 डील और क्यों जरुरी है भारत के लिए इस सौदे का होना!

flood in bihar,flood in assam,flood in meghalaya,heavy rain in kerala,death in flood,death due to flood in bihar,death in bihar flood,monsoon report,weather report,news,news in hindi , बिहार में बाढ़, बिहार में बारिश, दरभंगा बाढ़, सीतामढ़ी बाढ़, मधुबनी बाढ़, असम में बाढ़, मेघालय मे बाढ़, असम बाढ़ 2019, बिहार बाढ़ 2019

असम: बरपेटा के 13.48 लाख लोग बेघर, मृतकों का आंकड़ा 36 पहुंचा

उत्तर-पूर्वी राज्य असम में भी मृतकों का आंकड़ा 36 पहुंच गया और करीब 54 लाख लोग विस्थापित हुए हैं। ब्रह्मपुत्र और उसकी सहायक नदियां गुवाहाटी समेत राज्य के ज्यादातर जिलों में खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। असम आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबिक, गुरुवार को बाढ़ की चपेट में आने से 9 लोगों की मौत हुई। बाढ़ की वजह से बरपेटा की स्थिति सबसे खराब है। जिले के 13.48 लाख लोग घर छोड़ने को मजबूर हुए हैं। मानस नेशनल पार्क और पोबितोरा वाइल्डलाइफ सेंक्चुरी का बड़ा हिस्सा पानी में डूबा है। इससे 25 लाख बड़े और छोटे वन्यजीवों पर असर पड़ा है। काजीरंगा नेशनल पार्क के 50 से ज्यादा जानवरों की मौत हो गई। इनमें से कई की जान पार्क के बाहर व्यस्त हाईवे पार करते वक्त हुई। प्रशासन ने लोगों के लिए 1080 राहत कैम्प और 689 राहत सामग्री वितरण केंद्र लगाए।

मेघालय: 1.55 लाख लोग प्रभावित

मेघालय में गुरुवार को बाढ़ से दो और लोगों की मौत हुई। इसी के साथ राज्य में आपदा से अब तक आठ लोग मारे जा चुके हैं। बाढ़ से 1.55 लाख लोग प्रभावित हुए हैं।

# एक छोटी बचत योजना, तेजी से पैसा होता है डबल, पूरी जानकारी के लिए पढ़े

# कौन था पुलवामा एनकाउंटर में मारा गया आतंकी अब्दुल रशीद गाजी!

flood in bihar,flood in assam,flood in meghalaya,heavy rain in kerala,death in flood,death due to flood in bihar,death in bihar flood,monsoon report,weather report,news,news in hindi , बिहार में बाढ़, बिहार में बारिश, दरभंगा बाढ़, सीतामढ़ी बाढ़, मधुबनी बाढ़, असम में बाढ़, मेघालय मे बाढ़, असम बाढ़ 2019, बिहार बाढ़ 2019

केरल: अगले दो दिन में 20 सेमी बारिश का अनुमान

मौसम विभाग ने केरल के तीन जिलों इडुक्की, कोट्टयम और पथनमथिट्टा में अगले तीन दिन तक भारी बारिश की आशंका जताई है। अगले दो से तीन दिनों में इन शहरों में 20 सेंटीमीटर तक बारिश होने का अनुमान है। इसे देखते हुए इन इलाकों में रेड अलर्ट का ऐलान किया गया है। केरल और लक्षद्वीप के मछुआरों को तटीय इलाकों से दूर रहने के लिए कहा गया है।

पंजाब: संगरूर में बुलानी पड़ी सेना

पूर्वी और उत्तरी भारत में गुरुवार को भारी बारिश हुई। पंजाब के संगरूर में घग्गर नदी 50 फुट के खतरे के निशान को पार कर गई, जिससे 2 हजार एकड़ का खेती का इलाका पानी में डूब गया। इसके चलते आसपास के गांवों से लोगों को निकालने के लिए सेना बुलानी पड़ी।

दिल्ली में प्रदूषण में कमी

राजधानी दिल्ली में रातभर हुई बारिश के कारण तापमान में कमी आई। साथी ही प्रदूषण का स्तर भी कम हुआ। सफदरजंग ऑब्जर्वेटरी के मुताबिक, दिल्ली में बुधवार रात से गुरुवार सुबह तक 12.1 मिमी बारिश हुई। पालम, आयानगर, रिज और लोधी रोड वेधशालाओं ने क्रमश: 61 मिमी, 38.8 मिमी, 18.2 मिमी और 18 मिमी बारिश दर्ज की। इसके बाद सुबह 8:30 से शाम 5:30 तक 3.6 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई।

# क्या है 'आयुष्मान भारत योजना', घर बैठे इस तरह पता करें कैसे उठा सकते है इस योजना का लाभ

# Ayushman Bharat Jobs: जल्द होगी 1 लाख 'आयुष्मान मित्रों' की भर्ती, जानकारी के लिए पढ़े पूरी खबर

Tags :
|

Advertisement