बेबी फूड : पोषक तत्वों से भरपूर है पोहा, शिशुओं के लिए ऐसे तैयार करें ये दो रेसिपी

By: Nupur Sat, 29 May 2021 7:57 PM

बेबी फूड : पोषक तत्वों से भरपूर है पोहा, शिशुओं के लिए ऐसे तैयार करें ये दो रेसिपी

अमूमन बेबी फूड 6 महीने से अधिक उम्र के बच्चों के लिए ही होते हैं क्योंकि इस समय ही बच्चे को ठोस आहार खिलाना शुरू किया जाता है। हालांकि, कुछ ऐसे फूड्स भी होते हैं, जिन्हें एक साल के बाद बच्चों को देना ज्यादा फायदेमंद होता है। आप अनेक पोषक तत्व देने वाले पोहे से एक साल से अधिक उम्र के बच्चे के लिए बेबी फूड बना सकती हैं।


poha,poha recipe,baby poha,rice,curd,jaggery,baby food,baby food recipe,benefits of poha,flattened rice,recipe news in hindi ,पोहा, पोहा रेसिपी, बेबी पोहा, चावल, दही, गुड़, बेबी फूड, बेबी फूड रेसिपी, पोहा के फायदे, कच्चा चावल, चीवड़ा, हिन्दी में रेसिपी

कैसे बनाएं दही पोहा

आप बच्चे के लिए दही और पोहे को मिलाकर बेबी फूड बना सकती हैं। इसके लिए आपको चाहिए दो चम्मच पोहा, एक छोटी चम्मच दही, थोड़ा सा गुड़ और चाहें तो फल।

- सबसे पहले पोहे को धोकर कुछ देर के लिए पानी में भीगने दें।

- अब एक कटोरी में दही डालें और उसमें दो चम्मच पोहा डालें।

- आप इसमें स्वाद के लिए गुड़ और मैश किया हुआ केला भी डाल सकती हैं।

- इन सभी चीजों को अच्छी तरह से मिक्स कर लें और मिक्सर में पीस लें।

बेबी फूड बनाने के स्टेप्स

- इसके बाद एक पैन लें और उसे गैस पर रखें।

- इस पैन में तैयार किया गया पेस्ट डालें।

- फिर इसमें दूध मिलाना है और मिक्स करते हुए पांच मिनट तक पकाएं।

- अब गैस बंद कर दें और हल्का ठंडा होने पर शिशु को खिलाएं।


poha,poha recipe,baby poha,rice,curd,jaggery,baby food,baby food recipe,benefits of poha,flattened rice,recipe news in hindi ,पोहा, पोहा रेसिपी, बेबी पोहा, चावल, दही, गुड़, बेबी फूड, बेबी फूड रेसिपी, पोहा के फायदे, कच्चा चावल, चीवड़ा, हिन्दी में रेसिपी

शिशु के लिए दही के फायदे

दही में लैक्टिक एसिड होता है जो शिशु की इम्यूनिटी को मजबूत करने का काम करता है। इससे बच्चे का पेट भी ठीक रहता है। लैक्टिक एसिड शरीर में एल्केली एसिड को खत्म करने में मदद करता है जिससे शिशु को पेट में गैस बनने की शिकायत नहीं रहती है।

दही दस्त से बचाने के साथ-साथ इसका इलाज भी करता है। दही में विटामिन ए, सी, बी6, डी, ई, के, राइबोफ्लेविन, फोलिक एसिड और नियासिन होता है। इसमें कैल्शियम, फास्फोरस, पोटेशियम, मैग्नीशियम, जिंक, सोडियम और कई तरह के खनिज पदार्थ होते हैं जो शिशु के विकास में मदद करते हैं।


poha,poha recipe,baby poha,rice,curd,jaggery,baby food,baby food recipe,benefits of poha,flattened rice,recipe news in hindi ,पोहा, पोहा रेसिपी, बेबी पोहा, चावल, दही, गुड़, बेबी फूड, बेबी फूड रेसिपी, पोहा के फायदे, कच्चा चावल, चीवड़ा, हिन्दी में रेसिपी

बच्चों के लिए पोहा खाने के फायदे

पोहा में आयरन होता है जो बच्चों को एनीमिया या आयरन की कमी से बचाता है। इसमें कार्बोहाइड्रेट भी प्रचुरता में पाया जाता है जिससे पेट लंबे समय तक भरा रहता है। आप बच्चे को सुबह नाश्ते में खजूर और पोहे से बना बेबी फूड खिला सकती हैं।

पोहे में ग्लूटेन की मात्रा कम होती है जिससे बच्चों में फूड एलर्जी होने का खतरा कम रहता है। पोहे मंं प्रोबायोटिक भी होते हैं जिससे बच्चों का पेट दुरुस्त रहता है। पोहा आसानी से पच जाता है इसलिए बेबी फूड में इसे शामिल करना बहुत सही रहता है।


poha,poha recipe,baby poha,rice,curd,jaggery,baby food,baby food recipe,benefits of poha,flattened rice,recipe news in hindi ,पोहा, पोहा रेसिपी, बेबी पोहा, चावल, दही, गुड़, बेबी फूड, बेबी फूड रेसिपी, पोहा के फायदे, कच्चा चावल, चीवड़ा, हिन्दी में रेसिपी

गुड़ और पोहा रेसिपी

- इसके लिए आपको आधा कप पोहा, आधा कप गुड़, एक चम्मच घी, 4 से 5 काजू और थोड़ा-सा घिसा हुआ नारियल चाहिए।

- सबसे पहले पोहे को धोकर कुछ देर के लिए पानी में भीगने दें। अब एक पैन को गैस पर रखें और उसमें पानी और गुड़ डालकर सिरप बना लें।

- इस सिरप को छलनी से छान लें। अब पैन में निचोड़कर पोहा और गुड़ का सिरप डालें। इसके बाद घी और काजू को पीसकर बनाया हुआ पाउडर डालें। इसे अच्छी तरह से मैश कर लें और फिर गैस बंद कर दें।

- अब इसे शिशु को खिलाएं।

खजूर और पोहे को पोषक तत्वों का भंडार माना जाता है और शिशु के आहार में इन दोनों चीजों को आप एक साथ शामिल कर सकती हैं।

|
|
|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com