फीफा वर्ल्ड कप 2018 : अंतिम-16 में पहुंचा पुर्तगाल, ईरान के साथ मुकाबला 1-1 की बराबरी पर खत्म हुआ

By: Pinki Tue, 26 June 2018 07:51 AM

फीफा वर्ल्ड कप 2018 : अंतिम-16 में पहुंचा पुर्तगाल, ईरान के साथ मुकाबला 1-1 की बराबरी पर खत्म हुआ

फीफा वर्ल्ड कप 2018 की प्रबल दावेदार मानी जा रही पुर्तगाल ने ईरान के खिलाफ 1-1 से ड्रॉ खेला। इसके साथ ही पुर्टगाल की टीम अगले दौर में प्रवेश कर चुकी है। ग्रुप बी के तहत खेले गए इस मुकाबले में पुर्तगाल की तरफ से क्वारेसमा ने 45वें मिनट में शानदार गोल कर अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिलाई।

वहीं, ईरान की तरफ से आखिरी पलों में स्थानापन्न खिलाड़ी अनसारीफार्ड ने 90 +2:48 मिनट में पेनल्टी गोल कर स्कोर को 1-1 से बराबरी की।

पहले हाफ के 44वें मिनट तक दोनों टीमों के बीच कोई नहीं हुआ था, लेकिन 45वे मिनट में पुर्तगाल की तरफ से क्वारेसमा ने बेहतरीन गोल कर अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिलाई। पहले हाफ के शुरुआत से ही पुर्तगाल की टीम ईरानी टीम पर हावी रही। पहले हाफ तक पुर्तगाल के पास गोल करने के कई मौके थे लेकिन उन्होंने सिर्फ एक ही मौके को भुना पाए। वहीं, ईरान को पहले हाफ में गोल करने के मौके कम मिले। पुर्तगाल की टीम हमेशा से ईरान पर दबाव बना के रखी। दूसरे हाफ में ईरान की टीम पुर्तगाल के स्कोर की बराबरी करने के लिए काफी मशक्कत कर रही थी, लेकिन 90 +2:48 मिनट में अनसारीफार्ड ने पेनल्टी को गोल में बदलकर स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया।

गौरतलब है कि ग्रुप बी में स्पेन और पुर्तगाल दोनों के 5-5 अंक हो गए हैं, लेकिन स्पेन की टीम इस ग्रुप में टॉप पर है। दूसरे नंबर पर पुर्तगाल की टीम है। वहीं, चार अंकों के साथ ईरान तीसरे नंबर पर है, जबकि मोरक्को एक अंकों के साथ चौथे स्थान पर मौजूद है।

अपने पहले मैच में स्पेन के खिलाफ हैट्रिक गोल करने वाले रोनाल्डो पर इस मुकाबले को जिताने का पूरी जिम्मा था, लेकिन यह मुकाबला 1-1 की बराबरी परसमाप्त हुआ। हालांकि, रोनाल्डों को इस मुकाबले में कई मौके मिले, पर वह उस मौके को सही से भुना नहीं पाए। 33 वर्षीय रोनाल्डो इस वक्त हालांकि शानदार फॉर्म में चल रहे हैं, लेकिन इस मैच में वह थोड़ा असफल रहे। इस मुकाबले में वह लियोनेल मेसी की तरह पेनल्टी गोल करने से चूक गए। जिसका नतीजा यह रहा कि पुर्तगाल को यह मैच 1-1 से ड्रॉ खेलना पड़ा।

दरअसल, 50वें मिनट में पेनल्टी एरिया में रोनाल्डो के कब्जे में गेंद थी, एजतोलाही भाग कर आए और उन्हें फाउल करा दिया। जिसके बाद पेनल्टी रिव्यू लिया गया। रेफरी ने पेनल्टी रिव्यू को वीएआर के जरिए चेक किया।

पेनल्टी रिव्यू देने की वजह से ईरानी खिलाड़ी रेफरी से उलझने लगे, जिस कारण हाजीसाफी को येलो कार्ड दिखाया गया। 52वें मिनट में पुर्तगाल को पेनल्टी मिली, जिसका फायदा रोनाल्डो नहीं उठा पाए और पेनल्टी गोल करने से चूक गए। रोनाल्डो के शॉट का ईरानी गोलकीपर बेइरानवंद ने बेहतरीन बचाव किया।

बता दें कि इस मुकाबले में पुर्तगाल टीम का पूरा दारोमदार उन्हीं के जिम्मे था, लेकिन वह नाकाम रहे। गौरतलब है कि पुर्तगाल और ईरान 12 साल बाद विश्व कप के किसी मुकाबले में आमने-सामने हुए थे। इन दोनों के बीच एकमात्र मुकाबला 2006 में खेला गया था, जिसमें रोनाल्डो के विश्व कप के पहले गोल के दम पर पुर्तगाल ने ईरान को 2-0 से शिकस्त दी थी। एक गोल डिगो ने किया था। पुर्तगाल की टीम पिछले 16 साल किसी भी एशियन देश के खिलाफ विश्व कप में हारी नहीं है। 2002 में उसे दक्षिण कोरिया के हाथों आखिरी बार हार मिली थी।

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन lifeberrys हिंदी की वेबसाइट पर। जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश से जुड़ीNews in Hindi
|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com