Corona India: कोरोना से राहत के संकेत, लगातार तीसरे दिन नए मामलों में आई कमी

By: Pinki Tue, 04 May 2021 09:30 AM

Corona India: कोरोना से राहत के संकेत, लगातार तीसरे दिन नए मामलों में आई कमी

अप्रैल में तेजी से बढ़ते कोरोना के कदम अब मई में थमने लगे है। दिल्ली, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश समेत कुछ राज्यों में रोजाना मिलने वाले मरीजों में या तो गिरावट आई है या फिर इनमें स्थिरता आ गई है। सोमवार को लगातार तीसरे दिन नए मरीजों की संख्या में गिरावट दर्ज हुई है। पिछले 24 घंटे के अंदर देश में 3.55 लाख लोग संक्रमित पाए गए हैं। वहीं, पहली बार भारत में एक दिन के अंदर रिकॉर्ड 3.18 लाख लोग रिकवर हुए हैं। 30 अप्रैल को एक दिन में रिकॉर्ड 4.02 लाख मरीजों मिले थे। इसके बाद शनिवार को 3.92 लाख और रविवार को 3.70 लाख केस मिले थे। केंद्रीय स्वास्थ्य संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि देश में एक और पॉजिटिव ट्रेंड है। रिकवरी रेट लगातार बढ़ रहा है। 2 मई को यह 78% था। 3 मई को 82% हो गया।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, उत्तर प्रदेश में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते हुए 27 अप्रैल को संक्रमितों का आंकड़ा 34 हजार को भी पार गया था। बाद में बढ़ने का सिलसिला थमा और कुछ गिरावट के साथ दो मई को यह संख्या 33 हजार पर आ गई।

इसी तरह दिल्ली में 25 अप्रैल को पीक पर पहुंचने के बाद दो मई तक नए मामलों में एक हजार की गिरावट दर्ज की गई है। छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र में भी संक्रमण का यही ट्रेंड दिखा है।

मध्य प्रदेश, पंजाब, तेलंगाना और गुजरात में नए मामलों में बढ़ोतरी थम गई है। लव अग्रवाल ने कहा कि ये शुरुआती संकेत हैं और यदि राज्य सरकारें संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए इसी तरह कदम उठाती रहीं तो आने वाले समय में और भी बेहतर नतीजे देखने को मिल सकते हैं।

6वां दिन जब 3 हजार से ज्यादा की हुई मौत

सोमवार को देश में 3436 लोगों की संक्रमण के चलते मौत हो गई। ये लगातार 6वां दिन था जब 3 हजार से ज्यादा लोगों ने जान गंवाई है। पूरे हफ्ते के आंकड़ों पर नजर डालें तो इस हफ्ते मौतों की संख्या में 41% का इजाफा दर्ज हुआ है। इस दौरान 24 हजार 503 मरीजों की मौत हुई है। हालात ये है कि देश की राजधानी दिल्ली में हर 3 मिनट में एक मौत हो रही है। यहां सोमवार को 448 लोगों ने जान गंवा दी।

अलग-अलग देशों से मदद आना जारी

देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच अलग-अलग देशों से मदद आना जारी है। इस बीच कुवैत ने भारत की मदद की है। भारत में कुवैत से 282 सिलेंडर, 60 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स, वेंटिलेटर और अन्य मेडिकल सप्लाई वाली फ्लाइट मंगलवार सुबह आई। भारत में कुवैत के राजदूत ने जानकारी दी कि आज एक जहाज भारत के लिए 3 टैंक ले जाने के लिए रवाना हुआ है। इसमें कुल 75 मीट्रिक टन गैस और 40 लीटर के 1000 गैस सिलेंडर और अन्य राहत सामग्री है। बता दें दिल्ली अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पिछले पांच दिनों में 25 उड़ानें 300 टन कोविड-19 राहत सामग्री लेकर पहुंची हैं। हवाई अड्डे के संचालक डेल्ही इंटरनेशल एयरपोर्ट लिमिटिड (डायल) ने सोमवार को एक बयान में बताया कि हवाई अड्डे ने राहत सामग्री को अंतरिम रूप से रखने व वितरण करने के लिए 3500 वर्ग मीटर में ‘जीवोदय गोदाम’ बनाया है।

बयान के मुताबिक, 28 अप्रैल से 2 मई के बीच, पांच दिनों में करीब 25 उड़ानें दिल्ली हवाई अड्डे पहुंची जिनमें करीब 300 टन सामान था। बयान में बताया गया है कि ये उड़ानें अमेरिका, ब्रिटेन, संयुक्त अरब अमीरात, उज्बेकिस्तान, थाइलैंड, जर्मनी, कतर, हांगकांग और चीन आदि जैसे विभिन्न देशों से आई थी। उसमें कहा गया है कि अधिकतर राहत उड़ानों का संचालन भारतीय वायुसेना के विमानों ने किया है जिनमें आईएल76, सी-130, सी-130, सी-5, सी-17 शामिल हैं। बकौल बयान, ये उड़ानें 5500 ऑक्सीजन कंसंटेटर, 3200 ऑक्सीजन सिलेंडर, 9,28,000 से अधिक मास्क, 1,36,000 रेमडेसिविर इंजेक्शन लेकर आई हैं।

ये है प्रमुख राज्यों का हाल

महाराष्ट्र में सोमवार को 48,621 लोग संक्रमित पाए गए। 59,500 लोग रिकवर हुए और 567 की मौत हो गई। अब तक राज्य में 47 लाख 71 हजार लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 40.41 लाख लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 70,851 लोगों की मौत हो गई है। 6.56 लाख मरीजों का अभी इलाज चल रहा है। मुंबई में 1 जून तक वायरस से होने वाले संक्रमण की स्पीड में कमी आ सकती है। यह दावा किया है टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च (TIFR) के वैज्ञानिकों द्वारा जारी की गई एक रिपोर्ट में। हालाकि, रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि इस बीच वायरस का कोई नया वैरिएंट सामने नहीं आना चाहिए। रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया है कि लोकल ट्रेन की वजह से मुंबई में तेजी से कोरोना फैला।

उत्तर प्रदेश
में सोमवार को 29,052 लोग संक्रमित पाए गए। 38,687 लोग रिकवर हुए और 285 लोगों की मौत हो गई। अब तक राज्य में 13.42 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 10.43 हजार ठीक हो चुके हैं, जबकि 13,447 मरीजों ने दम तोड़ दिया। 2 लाख 85 हजार मरीजों का इलाज चल रहा है।

देश की राजधानी दिल्ली में सोमवार को 18,043 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। 20,293 लोग ठीक हुए और 448 की मौत हो गई। अब तक 11 लाख 94 हजार लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 10 लाख 85 हजार ठीक हो चुके हैं, जबकि 17,414 मरीजों की मौत हो चुकी है। 89,592 का इलाज चल रहा है। इस समय दिल्ली में 50,441 लोग होम आइसोलेशन में अपना इलाज करा रहे हैं, जबकि बीते 24 घंटों में दिल्ली में कुल 61,045 सैंपल की कोरोना जांच की गई है, वहीं मृत्यु दर अब 1.44 % पहुंच गई है। अगर पॉजिटिविटी रेट की बात करें तो वह रविवार से घटने लगा है। सोमवार को भी पॉजिटिविटी रेट 29.56 % था। पिछले दो सप्ताह में पहली बार रविवार को पॉ‌जिटिविटी रेट 30% से गिरकर 28.33% पर आ गई थी। लॉकडाउन के बाद ऐसा पहली बार है जब पॉजिटिविटी रेट 30% के नीचे आया। हालांकि, पिछले रविवार को 407 लोगों ने इस संक्रमण के चलते दम तोड़ दिया।

छत्तीसगढ़ में सोमवार को 15,274 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। 14,398 लोग ठीक हुए और 266 की मौत हो गई। अब तक राज्य में 7,71,701 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 6,41,449 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 9,275 मरीजों की मौत हो चुकी है। 1,20,977 का इलाज चल रहा है।

गुजरात में सोमवार को 12,820 लोग संक्रमित मिले। 11,999 लोग रिकवर हुए और 140 की मौत हो गई। अब तक 6,07,422 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 4,52,275 ठीक हो चुके हैं, जबकि 7,648 मरीजों की मौत हो चुकी है। 1,47,499 मरीज ऐसे हैं जिनका इलाज चल रहा है।

मध्यप्रदेश में सोमवार को 12,062 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए। 13,408 लोग ठीक हुए और 93 की मौत हो गई। अब तक 6,00,430 लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 5,08,775 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 5,905 लोगों की मौत हो चुकी है। 85,750 मरीज ऐसे हैं जिनका इलाज चल रहा है।

राजस्थान में कोरोना संक्रमण की दर अब भी कम होने का नाम नहीं ले रही। बीते 24 घंटे में कुल 17,296 नए संक्रमित मिले है, जबकि 154 लोगों की मौत हो गई। सूर्यनगरी जोधपुर में कोरोना पूरी तरह से बेलगाम हो चुका है। यहां, सोमवार को 2130 संक्रमित मिले और 37 लोग अपनी जान गंवा बैठे। मई महीने के पहले तीन दिन में ही मृतकों की संख्या सौ से अधिक हो चुकी है। जोधपुर में 1129 संक्रमितों को ठीक होने पर डिस्चार्ज किया गया। जोधपुर में अप्रैल की तुलना में मई भारी पड़ता नजर आ रहा है। मई के शुरुआती तीन दिन के अंदर 6,160 संक्रमित मिल चुके हैं।

Tags :

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2021 lifeberrys.com