उदयपुर हत्याकांड: कन्हैयालाल के हत्यारों को कोर्ट में पेशी के दौरान वकीलों ने पीटा, 12 जुलाई तक NIA कस्टडी में सौंपा

By: Pinki Sat, 02 July 2022 4:57 PM

उदयपुर हत्याकांड: कन्हैयालाल के हत्यारों को कोर्ट में पेशी के दौरान वकीलों ने पीटा, 12 जुलाई तक NIA कस्टडी में सौंपा

उदयपुर में हुए कन्हैयालाल हत्याकांड के चारों आरोपियों को शनिवार दोपहर डेढ़ बजे जयपुर NIA कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट में पेशी के दौरान आक्रोशित वकीलों ने आरोपियों पर हमला कर दिया। वकीलों ने आरोपियों के कपड़े फाड़ दिए। हालांकि मौके पर मौजूद पुलिस ने बीच-बचाव करते हुए उन्हें कोर्ट रूम ले गई। आरोपियों के कोर्ट में जाने के बाद 5 घंटे तक दरवाजा बंद कर दिया गया। लेकिन जब वो बाहर निकले तो जूते चप्पल और डंडों से पिटाई हुई, जब पुलिस उन्हें गाड़ी पर चढ़ा रही थी उस दौरान भी वकील और मौके पर मौजदू लोगों ने थप्पड़ों से पिटाई कर दी।

कोर्ट ने नेशनल इन्विस्टगेशन एजेंसी (NIA) को हत्यारों को 12 जुलाई तक 10 दिन की रिमांड पर सौंप दिया है। तालिबानी हत्याकांड के मुख्य आरोपी गौस मोहम्मद और रियाज जब्बार को कड़ी सुरक्षा के बीच अजमेर से सुबह जयपुर लेकर पहुंची थी। दोनों यहां की हाई सिक्योरिटी जेल में बंद थे। दो अन्य आरोपी मोहसिन और आसिफ हैं। ये दोनों टेलर कन्हैया के मर्डर की साजिश में शामिल बताए जाते हैं।

उधर, पांचवें दिन शनिवार को प्रशासन ने उदयपुर में कर्फ्यू में 4 घंटे की ढील देने का ऐलान किया है। जिला मजिस्ट्रेट ताराचंद मीणा के आदेश के मुताबिक दोपहर 12 बजे से लेकर शाम 4 बजे तक छूट रही। ऐसे में वे अपनी रोजमर्रा की जरूरतों के लिए बाहर निकले।

28 जून को उदयपुर में टेलर कन्हैयालाल की गला रेतकर हत्या कर दी गई थी। वारदात के बाद राजस्थान में जगह-जगह बवाल शुरू हो गए थे। उसी दिन शाम तक 2 आरोपियों को पुलिस ने पकड़ लिया। बताया जा रहा है कि कन्हैयालाल के मोबाइल से नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट हुई थी। इसके चलते ही रियाज और गौस मोहम्मद ने उनकी हत्या कर दी थी। राजस्थान सरकार की ओर से घटना की जांच के लिए SIT का गठन किया गया था। बाद में कोर्ट ने इस केस को एनआईए को सौंप दिया था।

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन lifeberrys हिंदी की वेबसाइट पर। जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश से जुड़ीNews in Hindi

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com