Advertisement

  • होम
  • मनोरंजन
  • मास्टरजी की बायोपिक बनाना चाहते हैं रेमो, कहा- ये मेरा ड्रीम प्रोजेक्ट

मास्टरजी की बायोपिक बनाना चाहते हैं रेमो, कहा- ये मेरा ड्रीम प्रोजेक्ट

By: Pinki Tue, 07 July 2020 11:35 PM

मास्टरजी की बायोपिक बनाना चाहते हैं रेमो, कहा- ये मेरा ड्रीम प्रोजेक्ट

इरफान खान, ऋषि कपूर, सुशांत सिंह राजपूत के बाद सरोज खान के निधन से बॉलीवुड को बड़ा झटका लगा है। सरोज खान को इंडस्ट्री में मास्टर जी के नाम से भी पुकारा जाता था। सरोज खान का शुक्रवार देर रात कार्डियक अरेस्ट के चलते मुंबई में निधन हो गया था। वह 71 साल की थीं। रिपोर्ट्स की माने तो सरोज खान की जिंदगी पर एक फिल्म भी बन सकती है जिसे डायरेक्टर और कोरियोग्राफर रेमो डिसूजा बना सकते हैं। इस बात का खुलासा सरोज खान की बेटी सुकैना नागपाल ने किया। नवभारतटाइम्स से बातचीत में सुकैना नागपाल ने बताया कि उनकी मां सरोज खान पर तीन लोग बायॉपिक बनाना चाहते थे। मां ने कहा था कि वह रेमो डिसूजा के साथ अपनी जिंदगी की कहानी पर फिल्म बनाना चाहेंगी। रेमो से पहले कुणाल कोहली और डायरेक्टर बाबा यादव की वाइफ भी बायोपिक बनाने के लिए अप्रोच कर चुके हैं।

बता दे, रेमो ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया था कि 'हमारे बीच आखिरी बातचीत लॉकडाउन से पहले हुई थी। सरोज जी मेरे ऑफिस आई थीं और इस बारे में बात की थी। सॉन्ग 'तबाह हो गए' सॉन्ग की शूटिंग के दौरान मैं, सरोज जी और माधुरी जी घंटों साथ होते थे, उस समय मैंने सरोज जी को कहा था कि उनकी लाइफ काफी लोगों को प्रेरणा देती है और आपकी यात्रा पर एक महिला केंद्रित फिल्म बन सकती है। इस पर उन्होंने कहा था कि बिल्कुल, बोल कब बनाएगा। जल्दी बना दे। हालांकि मैं इस प्रोजेक्ट पर आधिकारिक तौर पर कुछ नहीं कह सकता हूं लेकिन इतना कह सकता हूं कि ये मेरा ड्रीम प्रोजेक्ट है।'

बता दें कि सरोज खान ने बॉलीवुड को एक से बढ़कर एक गाने दिए हैं। उनके सिखाए गए डांस के चलते बॉलीवुड में कई अदाकाराओं के करियर बन गए। उन्होंने साल 1983 में 'हीरो' फिल्म में कोरियोग्राफी की थी, जबकि बतौर कोरियोग्राफर उनकी आखिरी फिल्म 'कलंक' थी। तीन बार की राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता रहीं सरोज खान ने कुछ यादगार गानों को कोरियोग्राफ किया है, जिसमें माधुरी दीक्षित-स्टारर फिल्म 'तेजाब', 'ये इश्क है' से 2007 में 'जब वी मेट' से लेकर संजय लीला भंसाली की 'देवदास' तक शामिल हैं। सरोज खान ने मात्र तीन साल की उम्र से बतौर बैकग्राउंड डांसर अपना करियर शुरू किया था। उन्हें 1974 में पहली बार 'गीता मेरा नाम' से बतौर कोरियोग्राफर फिल्म इंडस्ट्री में ब्रेक मिला था।

उन्होंने सुपरडुपरहिट फिल्मों 'मिस्टर इंडिया, चादनी, बेटा, तेजाब, नगीना, डर, बाजीगर, अंजाम, मोहरा, याराना, दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे, परदेश, देवदास, लगान, सोल्जर, ताल, फिजा, साथ‌िया, स्वदेश, कुछ ना कहो, वीर जारा, डॉन, फना, गुरु, नमस्ते लंदन, जव वी मेट, एजेंट विनोद, राउडी राठौड़, एबीसीडी, तनु वेड्स मनु रिटर्न्स, मणिकर्णिका' तक के गानों को कोरियोग्राफ किया है। उनके निधन पर शाहरुख खान, अक्षय कुमार, नीना गुप्ता, मनीषा कोईराला जैसे कई दिग्गज कलाकारों ने शोक जताया था।

Tags :

Advertisement

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2020 lifeberrys.com