कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ने बढ़ाया सिर दर्द, ब्रिटेन के बाद अब इटली में मिला पहला संक्रमित

By: Pinki Mon, 21 Dec 2020 10:03 AM

कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ने बढ़ाया सिर दर्द, ब्रिटेन के बाद अब इटली में मिला पहला संक्रमित

ब्रिटेन में वैक्सीनेशन शुरू होने के बावजूद वायरस में म्यूटेशन (कोरोना वायरस का नया वैरिएंट) की बात सामने आई है। यहां सरकार ने कड़े प्रतिबंध भी लागू कर दिए हैं। लंदन में लोगों को घर से निकलने की मनाही हो सकती है। वहीं, 13 यूरोपीय देशों फ्रांस, जर्मनी, इटली, स्विट्जरलैंड, पुर्तगाल, बेल्जियम, ऑस्ट्रिया, बुल्गारिया, डेनमार्क, फिनलैंड, रोमानिया, क्रोएशिया और नीदरलैंड्स ने UK से आने वाली फ्लाइट्स पर प्रतिबंध लगा दिया है।

वहीं, ब्रिटेन के बाद अब इटली में कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन का पता चला है। इटली के स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, ब्रिटेन से आए एक मरीज में कोरोना के नए स्ट्रेन मिले हैं। वह मरीज पिछले दिनों ही ब्रिटेन से रोम के फिमिसिनो हवाई अड्डे पर पहुंचा, जिसके बाद उसे आइसोलेट कर लिया गया है। इटली के विदेश मंत्री लुइगी डी मायो ने ट्विटर पर कहा कि सरकार कोरोना वायरस के नए प्रकार से इटली के निवासियों को बचाने के लिए आवश्यक कदम उठा रही है।

ब्रिटेन में रविवार से सख्त लॉकडाउन

ब्रिटेन ने भी रविवार से सख्त लॉकडाउन लागू कर दिया है, जिसके चलते लाखों लोग घरों के अंदर ही रहने को मजबूर हो गए हैं। गैर-जरूरी वस्तुओं की दुकानें और प्रतिष्ठान भी बंद कर दिए गए हैं। माना जा रहा है कि कोरोना वायरस का नया प्रकार देश में संक्रमण को तेजी से फैलाने के लिए जिम्मेदार है। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने शनिवार शाम नए सख्त प्रतिबंधों के बाबत घोषणा की थी। पांच दिवसीय प्रस्तावित 'क्रिसमस बबल' कार्यक्रम को भी रद्द कर दिया गया है। पहले क्रिसमस के कार्यक्रम के लिए प्रतिबंधों में ढील देने का निर्णय लिया गया था लेकिन अब जॉनसन ने प्रतिबंधों को और सख्त करने का फैसला लिया है।

दुनिया में कोरोना के 7 करोड़ 71 लाख 69 हजार 359 केस हो चुके हैं। अच्छी बात ये है कि 5 करोड़ 40 लाख 88 हजार 483 लोग ठीक हो चुके हैं। अब तक महामारी से 16 लाख 99 हजार 560 लोगों की मौत हो चुकी है।

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन lifeberrys हिंदी की वेबसाइट पर। जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश से जुड़ीNews in Hindi
|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com