Advertisement

ज्यादा चाय बन सकती हैं आपके लिए खतरा, करना पड़ेगा इन 5 मुसीबतों का सामना

By: Ankur Tue, 09 Feb 2021 1:28 PM

ज्यादा चाय बन सकती हैं आपके लिए खतरा, करना पड़ेगा इन 5 मुसीबतों का सामना

कई लोगों के दिन की शुरुआत चाय के साथ ही होती हैं जिसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं। लेकिन किसी भी चीज की अधिकता हानिकारक होती हैं और ऐसा ही कुछ चाय के साथ भी हैं। जी हां, चाय के एक कप में करीब 20-60 मिलीग्राम कैफीन की उपलब्धता होती हैं जिसके चलते दिन में 3 कप से अधिक चाय का सेवन आपके लिए खतरा साबित हो सकता हैं। आज इस कड़ी में हम आपको उन परेशानियों के बारे में बताने जा रहे हैं जो चाय की अधिकता के कारण शरीर में पनपती हैं। तो आइये जानते हैं उन प्रभावों के बारे में।

कुछ दवाओं के प्रभाव को कम कर सकता है

स्टडी के अनुसार, बहुत अधिक चाय का सेवन करने से कुछ एंटीबायोटिक दवाओं की प्रभावशीलता कम हो सकती है। चाय कीमोथेरेपी दवाओं, क्लोजापाइन और गर्भ निरोधकों के प्रभाव को कम कर सकती है।

Health tips,health tips in hindi,tea side effects,healthy lifestyle ,हेल्थ टिप्स, हेल्थ टिप्स हिंदी में, चाय के नुकसान, स्वस्थ जीवनशैली

सिर चकराना

चाय में बहुत अधिक मात्रा में कैफीन होती है, जिससे चक्कर आ सकता है। ऐसा तब होता है जब कोई बहुत अधिक यानी 400-500 मिलीग्राम से अधिक कैफीन का सेवन करता है। हालांकि कैफीन के प्रति संवेदनशील या चिंता की समस्या से ग्रसित व्यक्ति को कम मात्रा में चाय का सेवन करने पर भी चक्कर आ सकता है।

आयरन के अवशोषण को कम करता है

चाय में पाए जाने वाले टैनिन बहुत अधिक मात्रा में सेवन करने पर शरीर की आयरन को अवशोषित करने की क्षमता को कम करता है। कोलोराडो स्टेट यूनिवर्सिटी की रिपोर्ट के अनुसार, चाय आयरन को अवशोषित करने की क्षमता को 60 प्रतिशत तक कम कर सकती है। यह शाकाहारियों पर प्रतिकूल प्रभाव डाल सकता है, जिनमें आयरन की कमी का जोखिम अधिक हो सकता है।

Health tips,health tips in hindi,tea side effects,healthy lifestyle ,हेल्थ टिप्स, हेल्थ टिप्स हिंदी में, चाय के नुकसान, स्वस्थ जीवनशैली

सीने में जलन

बहुत अधिक चाय होने से एसिड रिफ्लक्स की समस्या बढ़ सकती है। यह आंत में अम्ल के उत्पादन को बढ़ा सकता है। यदि आप सीने में जलन की समस्या से पीड़ित हैं, तो चाय का सेवन सीमित करें अन्यथा आपकी परेशानी बढ़ सकती है।

गर्भावस्था की जटिलता

गर्भावस्था के दौरान चाय का बहुत अधिक सेवन करने से कैफीन जोखिम को बढ़ा सकता है। इसके कारण गर्भपात और जन्म के समय शिशु का वजन कम हो सकता है। यह सलाह दी जाती है कि गर्भवती होने पर प्रतिदिन 200 मिलीग्राम से अधिक कैफीन का सेवन नहीं करना चाहिए।

ये भी पढ़े :

# पाचन तंत्र को बनाना हैं मजबूत, आहार में शामिल करें ये 6 विटामिन

# महिलाएं रखें अपनी सेहत का ख्याल, इन 5 आहार से मिलेगा भरपूर पोषण

# परीक्षा के लिए तेज करना चाहते हैं बच्चों का दिमाग, आहार में शामिल करें ये 4 चीजें

# कोरोना वैक्सीन की क्या सिर्फ एक खुराक से बन सकता हैं काम! जानें शोध से जुड़ी जानकारी

# अस्थमा मरीज सर्दियों में ऐसा रखें अपना खानपान, बनी रहेगी अच्छी सेहत

Tags :

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2021 lifeberrys.com