स्ट्रीट लाइट्स और वाहनों की हेड लाइट से भी बढ़ता है डायबिटीज का खतरा! जानें क्या कहती है ये रिसर्च

By: Pinki Mon, 21 Nov 2022 08:46 AM

स्ट्रीट लाइट्स और वाहनों की हेड लाइट से भी बढ़ता है डायबिटीज का खतरा! जानें क्या कहती है ये रिसर्च

अनहेल्दी लाइफस्टाइल, मोटापा और खाने-पीने की लापरवाही डायबिटीज के खतरे को बढ़ा देती है। यह तो हम सभी जानते है लेकिन अगर हम आपसे कहे कि घर और ऑफिस में चमकने वाली लाइट्स भी डायबिटीज जैसी खतरनाक बीमारी का कारण बन सकती है तो आप जरुर सोच में पड़ जाएंगे की ये कैसे हो सकता है। दरअसल, इसका खुलासा चीन में की गई एक हालिया स्टडी में हुआ है। इस स्टडी में डायबिटीज को लेकर जो बातें सामने आई हैं, वह काफी हैरान करने वाली हैं। डायबिटीज को लेकर यह रिसर्च शंघाई की जिआतोंग यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने की है। करीब 98000 लोगों का डाटा एनालिसिस करने के बाद इस स्टडी की रिपोर्ट तैयार की गई है।

diabetes,street lights,car lights,outdoor light causes for diabetes,street light causes for diabetes,diabetes care tips,health news in hindi,latest health research in hindi

मेडिकल न्यूज टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक एक हालिया रिसर्च में शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि रात के वक्त आर्टिफिशियल लाइट के ज्यादा संपर्क में रहने वाले लोगों को डायबिटीज का खतरा अन्य लोगों की अपेक्षा 28% तक बढ़ जाता है। रिसर्च में आउटडोर आर्टिफिशियल लाइट और डायबिटीज का कनेक्शन सामने आया है।

रिसर्च में यह बात सामने आई है कि रात के वक्त स्ट्रीट लाइट्स, पार्किंग लॉट लाइट्स, वाहनों की हेड लाइट, घर और ऑफिसों के बाहर इस्तेमाल की जाने वाली लाइट से पॉल्यूशन बढ़ जाता है। आर्टिफिशियल लाइट की वजह से आसमान ग्लो करने लगता है और पॉल्यूशन की एक परत बन जाती है। इससे आसमान के तारे साफ नजर नहीं आते। जिसकी वजह से नेचुरल इको सिस्टम बिगड़ जाता है।

diabetes,street lights,car lights,outdoor light causes for diabetes,street light causes for diabetes,diabetes care tips,health news in hindi,latest health research in hindi

शहरों में गांव की अपेक्षा लाइट से होने वाला पॉल्यूशन अधिक होता है जिसके कारण शहरी लोगों को डायबिटीज होने का खतरा भी ज्यादा रहता है। दुनिया की करीब 80% आबादी लाइट पॉल्यूशन के साए में रहती है। अमेरिका और यूरोप की करीब 99% आबादी लाइट पॉल्यूशन का शिकार हो रही है, जिससे कई बीमारियां हो रही हैं।

इससे पहले भी कई स्टडी में यह बात सामने आ चुकी है कि लाइट पॉल्यूशन की वजह से हमारी मेंटल हेल्थ पर कई बुरे प्रभाव पड़ते हैं। रात में जलने वाली लाइट की वजह से बड़ी संख्या में लोग मूड और एंजायटी डिसऑर्डर, मोटापा, नींद ना आने की समस्या का शिकार हो रहे हैं। कई स्टडी में सामने आया है कि इन लाइट्स से कैंसर का खतरा भी बढ़ रहा है। कुल मिलाकर यह कहा जा सकता है कि रात के वक्त लाइट के संपर्क में अधि रहना सेहत के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है।

ये भी पढ़े :

# हार्ट अटैक से एक महीने पहले दिखाई देते हैं ये संकेत, मिलते ही हो जाए सतर्क

# मांसपेशियों को मजबूत बनाता है गोमुखासन, जाने और भी फायदे

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com