मीडिया के निशाने पर आए शास्त्री ने किया पलटवार, कहा-पूरा देश खुला है, गावस्कर ने भी किया बचाव

By: RajeshM Sun, 12 Sept 2021 7:50 PM

मीडिया के निशाने पर आए शास्त्री ने किया पलटवार, कहा-पूरा देश खुला है, गावस्कर ने भी किया बचाव

टीम इंडिया के खेमे में कोरोनावायरस के सेंध लगाने के बाद भारत और इंग्लैंड के बीच पांचवां और आखिरी टेस्ट ऐनवक्त पर रद्द कर दिया गया था। यह टेस्ट 10 सितंबर से शुरू होना था। टेस्ट नहीं होने से भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली इंग्लिश मीडिया के निशाने पर आ गए थे। डेली मेल ने लिखा था कि भारत के कोच रवि शास्त्री और विराट कोहली का अपने बायो बबल के बाहर लंदन के एक होटल में बुक लॉन्च में शामिल होना गैर-जिम्मेदार था। शास्त्री ने 1 सितंबर को अपनी बुक लॉन्च का आयोजन किया था, जिसमें कोहली भी आए थे।

इस घटना के बाद ओवल में चौथे टेस्ट से ठीक पहले शास्त्री कोविड पॉजिटिव पाए गए थे। बुक लॉन्च इवेंट की वजह से बीसीसीआई ने भी कोहली और शास्त्री से नाराजगी जताई थी। अब इस पूरे मामले पर शास्त्री ने चुप्पी तोड़ी है। शास्त्री ने मिड-डे से बातचीत में कहा कि पूरा यूनाइटेड किंगडम (यूके) खुला है। और वहां किसी तरह का कोई प्रतिबंध नहीं है। पहले ही टेस्ट मैच से कुछ भी हो सकता था। भारतीय टीम ने कोरोनाकाल में जिस तरह ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड में खेला है वैसा कोई टीम नहीं खेली। यहां के विशेषज्ञों से पूछें। किसी भी चीज ने मुझे खेल में इतनी संतुष्टि नहीं दी जैसी अब मिली।


ravi shastri,sunil gavaskar,india,england,india vs england,fifth test,manchester test,book launch,ian chappell,sports news in hindi ,रवि शास्त्री, सुनील गावस्कर, भारत, इंग्लैंड, भारत वि. इंग्लैंड, पांचवां टेस्ट, मैनचेस्टर टेस्ट, बुक लॉन्च, इयान चैपल, हिन्दी में खेल समाचार

गावस्कर ने कहा, कैसे पता कि शास्त्री बुक लॉन्च के कारण हुए पॉजिटिव

पांचवां टेस्ट फिर से कराने को लेकर बीसीसीआई और इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) बात कर रहे हैं। इंग्लिश मीडिया के हवाले से कहा गया कि भारतीय खिलाड़ी अंतिम टेस्ट नहीं खेलना चाहते थे। पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने इन आरोपों को सिरे से नकार दिया है। गावस्कर ने स्पोर्ट्स तक से बात करते हुए कहा कि हमारे खिलाड़ियों ने सीरीज में 2-1 से बढ़त बनाने के लिए कड़ी मेहनत की। मैनचेस्टर में गेंदबाजों को मदद मिलती। ऐसे में वे क्यों नहीं खेलना चाहेंगे। भारत सीरीज 3-1 से जीत सकता था।

गावस्कर ने शास्त्री का भी बचाव किया, जिन पर कोरोना प्रोटोकॉल तोड़ने का आरोप लगा। गावस्कर ने कहा कि किसी को कैसे पता कि शास्त्री बुक लॉन्च कार्यक्रम के कारण पॉजिटिव हुए। कार्यक्रम के बाद जब खिलाड़ियों का टेस्ट किया गया तो सभी नेगेटिव थे। इंग्लिश मीडिया कभी भी भारतीय खिलाड़ियों के बारे में न अच्छा बोलेगा और न ही अच्छा लिखेगा। पहले वे सच्चाई का पता लगाएं।


ravi shastri,sunil gavaskar,india,england,india vs england,fifth test,manchester test,book launch,ian chappell,sports news in hindi ,रवि शास्त्री, सुनील गावस्कर, भारत, इंग्लैंड, भारत वि. इंग्लैंड, पांचवां टेस्ट, मैनचेस्टर टेस्ट, बुक लॉन्च, इयान चैपल, हिन्दी में खेल समाचार

चैपल ने कहा, रहाणे के स्थान पर इन तीन में से किसी एक को बनाएं नं.5 बल्लेबाज

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान इयान चैपल ने माना कि मौजूदा भारतीय टीम को हराना मुश्किल है लेकिन उन्हें कई पक्षों में सुधार करने की जरूरत है। इसमें से एक है मिडिल ऑर्डर बैटिंग। चैपल ने कहा कि ऋषभ पंत, हार्दिक पांड्या और रवींद्र जडेजा भारतीय एकादश में अजिंक्य रहाणे की जगह पांचवें नंबर (थर्ड डाउन) के उम्मीदवार हो सकते हैं। एक मध्य क्रम जो जडेजा, पंत, पांड्या और अश्विन से सजा हो वो आपको रन दिलाएगा।

तीन तेज गेंदबाजों के साथ बल्लेबाजी को भी एक मजबूत अटैक से मदद मिलेगी। ये एक मजबूत और संतुलित अटैक होने का फायदा है और आपको जीत के लिए बड़े स्कोर का पीछा करने की जरूरत नहीं पड़ती। टेस्ट जीतने का सबसे आसान समीकरण बल्लेबाजों के लिए जल्दी स्कोर करना है ताकि गेंदबाजों को 20 विकेट लेने के लिए पर्याप्त समय मिल सके।

ये भी पढ़े :

# ‘बबीता जी’ भड़कीं, कहा-खुद को भारत की बेटी कहने में आती है शर्म, कृति ने खरीदी यह लग्जरी कार

# रोजाना 7000 स्टेप्स चलने से मौत का खतरा 50 से 70% तक कम, नई स्टडी में दावा

# इतनी महंगी टी-शर्ट पहनने के बाद ट्रोल हुईं करीना कपूर खान, फिर से शुरू की इस फिल्म की शूटिंग

# जम्‍मू कश्‍मीर के बारामूला में फटा बादल, ए‍क ही परिवार के 4 लोगों की मौत, एक लापता

# नरगिस फाखरी ने उदय चोपड़ा को 5 साल तक किया था डेट, ब्रेकअप के बाद न्यूयॉर्क लौट गई थीं एक्ट्रेस

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन lifeberrys हिंदी की वेबसाइट पर। जानिए क्रिकेट और खेल से जुड़ी News in Hindi
|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com