IIT कानपुर के प्रोफेसर का दावा - जुलाई में फिर बढ़ने लगेंगे कोरोना वायरस के मामले

By: Pinki Sat, 25 June 2022 4:58 PM

IIT कानपुर के प्रोफेसर का दावा - जुलाई में फिर बढ़ने लगेंगे कोरोना वायरस के मामले

IIT कानपुर के वैज्ञानिक प्रोफेसर मणींद्र अग्रवाल ने दावा किया है कि अगले महीने यानी जुलाई में कोरोना वायरस के मामले देशभर में बढ़ने लगेंगे। उन्होंने कहा कि इस दौरान प्रतिदिन 20-25 हजार केस सामने आ सकते हैं। आपको बता दे, देश में कोरोना के मामले एक बार फिर बढ़ना शुरू हो गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में 15,940 नए मामले दर्ज किए गए हैं जो कल की तुलना में 8.1% कम हैं। वहीं, 20 मरीजों की मौत भी हुई। इस दौरान 12,425 मरीज ठीक हुए हैं। देश में अब तक मिले संक्रमितों की संख्या 4 करोड़ 33 लाख 78 हजार 234 हो गई है। 4 करोड़ 27 लाख 61 हजार 481 ठीक भी हुए है। मरने वालों की संख्या बढ़कर 5,24,974 हो गई है। कल सक्रिय मामलों में 3,495 का इजाफा हुआ है। इसके बाद इलाज करा रहे मरीजों की संख्या बढ़कर 91,779 हो गई है। जिन पांच राज्यों में कोरोना के केस दर्ज किए गए हैं, उनमें महाराष्ट्र में 4,205, केरल में 3,981 मामले, दिल्ली में 1,447, तमिलनाडु में 1,359 और कर्नाटक में 816 नए मरीज सामने आए हैं। देश में मिले कुल नए मामलों में से 74.08% नए मामले इन पांच राज्यों से सामने आए हैं।

पद्मश्री सम्मान से अलंकृत प्रोफेसर मणीन्द्र अग्रवाल ने देश भर में एक बार फिर से कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच बताया कि सूत्र माडल के आधार पर भारत में कोरोना का यह चरण अब स्थिर हो गया है। वह कहते हैं, 'वर्तमान में कोरोना के मामलों में जिस तरह से वृद्धि हो रही है, यह केवल एक छोटी लहर की तरह है, जो जुलाई के मध्य में प्रतिदिन 20-25 हजार मामलों के बीच चरम पर होगी और इससे डरने की जरूरत नहीं है।'

मणीन्द्र अग्रवाल ने बताया कि भविष्य में इस तरह की और लहरें भी आने की आशंका है, क्योंकि कुछ समय के बाद लोग प्राकृतिक प्रतिरक्षा खो देते हैं।

वह कहते हैं, 'जब तक कोरोना का कोई नया म्यूटेंट नहीं आता है, जो प्राकृतिक प्रतिरोधक क्षमता को बाइपास कर सके, तब तक देश में किसी बड़ी लहर की आशंका नहीं है। अब तक के म्यूटेंट ऐसा नहीं कर पाए हैं।'

उन्होंने कहा कि लोगों को कोरोना से बचने के लिए कोविड नियमावली का पालन करना चाहिए और मास्क लगाकर ही घरों से निकलना चाहिए।

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन lifeberrys हिंदी की वेबसाइट पर। जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश से जुड़ीNews in Hindi

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com