चौंकाने वाली स्टडी! कोरोना संक्रमित मरीज के आंसुओं से भी फैल सकता है वायरस, आंख के डॉक्टर रहे सावधान

By: Pinki Tue, 03 Aug 2021 09:25 AM

चौंकाने वाली स्टडी! कोरोना संक्रमित मरीज के आंसुओं से भी फैल सकता है वायरस, आंख के डॉक्टर रहे सावधान

कोरोना पर लगातार हो रही रिसर्च में कई चौकाने वाले रिपोर्ट सामने आ रही है। हाल ही में एक रिपोर्ट में सामने आया है कि कोरोना संक्रमित व्यक्ति के आंसुओं से भी संक्रमण के फैलने का खतरा है। अमृतसर के गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज ने एक रिसर्च में यह दावा किया है। इस स्टडी के लिए मरीज की RT-PCR रिपोर्ट आने से 48 घंटों के भीतर आंसू के नमूने लिए गए थे।

इस रिसर्च को डॉ प्रेमपाल कौर, डॉ गौरांग सहगल, डॉ शैलप्रीत, केडी सिंह और भावकरण सिंह ने किया है। स्टडी रिपोर्ट के मुताबिक, कोरोना से संक्रमित मरीजों के आंसू इनके देखभाल में लगे मेडिकल स्टाफ के लिए संक्रमण का जरिया बन सकते है।

ऐसे में मेडिकल स्टाफ और आंख के डॉक्टरों के लिए अधिक सावधानी बरतने की सलाह दी गई है। उन्हें विशेष तौर पर आंख, नाक और मुंह की जांच करते समय सावधानी बरतने की सलाह दी गई है।

कोरोना के 120 मरीजों पर हुई ये स्टडी

अमृतसर के गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज ने कोरोना के 120 मरीजों पर ये रिसर्च की है। रिपोर्ट में यह बात सामने आई कि 60 मरीजों में आंसुओं के जरिए कोरोना वायरस शरीर के दूसरे हिस्से में पहुंच गया। जबकि 60 मरीजों में इस तरह का कुछ भी देखने को नहीं मिला। 41 रोगियों में कंजंक्टिवल हाइपरमिया, 38 में फॉलिक्युलर रिएक्शन, 35 में केमोसिस, 20 रोगियों में म्यूकॉइड डिस्चार्ज और 11 को ईचिंग की दिक्कत थी।

वहीं ऑक्युलर मैनिफेस्टेशन वाले लगभग 37% मरीजों में कोरोना वायरस के आंशिक लक्षण मिले। बाकी 63% में संक्रमण के गंभीर लक्षण पाए गए। रिपोर्ट के मुताबिक, करीब 17.5% मरीज जिनके आंसू के RT-PCR टेस्ट हुए वो भी कोरोना पॉजिटिव निकले। 11 रोगियों (9.16%) में ऑक्युलर मैनिफेस्टेशन थे और 10 (8.33%) को ऐसी कोई भी शिकायत नहीं थी। रिपोर्ट में कहा गया है कि संक्रमित मरीज कंजेक्टिवायटल सेक्रेशन (स्राव) में संक्रमण को दूर कर सकते हैं।

रिसर्च के मुताबिक, ऑक्युलर मैनिफेस्टेशन या इसके बिना वाले रोगियों के आंसू कोरोना इंफेक्शन के संभावित कारण हो सकते हैं। ऑक्युलर मैनिफेस्टेशन वह लक्षण है जो शरीर में होने वाले किसी रोग की वजह से आंख पर असर डालता है।

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन lifeberrys हिंदी की वेबसाइट पर। जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश से जुड़ीNews in Hindi
|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com