• Hindi News/
  • News/
  • Chhatrapati Shivaji Maharaj International Airport Rename As Adani Airport Shivsena

मुंबई एयरपोर्ट के बाहर अडाणी का बोर्ड लगने से शिवसैनिक नाराज, जमकर की तोड़फोड़

By: Pinki Mon, 02 Aug 2021 5:55 PM

मुंबई एयरपोर्ट के बाहर अडाणी का बोर्ड लगने से शिवसैनिक नाराज, जमकर की तोड़फोड़

दो महीने पहले मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के संचालन का काम अडाणी ग्रुप के हाथ में आ गया है। रविवार को एयरपोर्ट के बाहर 'अडानी एयरपोर्ट' नाम का बोर्ड लगाया गया। इस बात की जानकारी जैसे ही शिवसैनिकों को लगी तो वे नाराज हो गए। अपनी नाराज़गी ज़ाहिर करते हुए करीब दो दर्जन से ज्यादा शिवसैनिकों ने एयरपोर्ट के बाहर विरोध प्रदर्शन किया इतना ही नहीं चंद सेकंड में अडानी का बोर्ड गायब कर दिया। शिवसैनिक तोड़-फोड़ करते वक़्त यह चीखते हुए सवाल कर रहे थे कि अडानी कंपनी छत्रपति शिवाजी महाराज का नाम याद नहीं है क्या? उन्हें पता नहीं है क्या कि इस एयरपोर्ट का नाम छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम पर है? हंगामा अभी भी जारी है। मुंबई पुलिस की टीम मौके पर पहुंची हुई है और शिवसैनिकों को समझाने का काम किया जा रहा है।

प्रदर्शनकारियों ने एयरपोर्ट के VIP गेट नंबर 8 और विले पार्ले हाईवे पर छत्रपति शिवाजी महाराज के स्मारक के सामने लगे बोर्ड को लाठी-डंडे से तोड़ दिया। प्रदर्शन करने वाले शिवसेना कार्यकर्ताओं का आरोप है कि पहले ये एयरपोर्ट छत्रपति शिवाजी महाराज एयरपोर्ट के नाम से जाना जाता था, लेकिन अब यहां पर अडाणी एयरपोर्ट का बोर्ड लगा है। यह शिवाजी महाराज का अपमान करने का प्रयास किया गया है। हम इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे। हालांकि, अभी तक अडाणी समूह की ओर से एयरपोर्ट का नाम बदलने का कोई आधिकारिक ऐलान नहीं किया गया है।

शिवसेना ने सुझाव दिया है कि नाम को जस का तस रखते हुए एक लाइन ऐड की जाए और लिखा जाए, ‘मैनेज्ड बाइ अडानी एयरपोर्ट।’ शिवसैनिकों का कहना है कि अगर ऐसा नहीं किया गया तो जहां ‘अडानी एयरपोर्ट’ नाम का बोर्ड दिखेगा, वहां जाकर वे तोड़-फोड़ करेंगे।

इस घटना पर अपना अडानी ग्रुप ने एक स्टेटमेंट जारी किया है। स्टेटमेंट में लिखा गया है कि मुंबई इंटरनैशनल एयरपोर्ट में एडानी एयरपोर्ट की ब्रांडिंग को लेकर जो घटनाएं हुई हैं, उन्हें लेकर हम यह आश्वस्त करना चाहते हैं कि अडानी एयरपोर्ट होल्डिंग लिमिटेड ने टर्मिनल के पास छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनैशनल एयरपोर्ट नाम की ब्रांडिंग में कोई बदलाव नहीं किया है। यानी अडानी एयरपोर्ट ब्रांड को पिछले ब्रांड से रिप्लेस नहीं किया गया है।

स्टेटमेंट में कहा गया है कि जो ब्रांडिंग CSMIA के पास की गई है वो एयरपोर्ट ऑथोरिटी ऑफ इंडिया की गाइडलाइंस का पालन करते हुए की गई है। AAHL आगे भी सरकार की ओर जारी की गई गाइडलाइंस का पालन करेगी और एविएशन कम्यूनिटी के हितों को आगे बढ़ाएगी।

गौरतलब है कि अडाणी समूह की ओर से पिछले कुछ सालों में एविएशन सेक्टर में बड़ा निवेश किया गया है। देश के 8 बड़े एयरपोर्ट्स का संचालन अब अडाणी समूह के पास है। जुलाई में ही मुंबई के इंटरनेशनल एयरपोर्ट का संचालन पूरी तरह से अडाणी समूह के पास आया था, खुद गौतम अडाणी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी।

ये भी पढ़े :

# मुंबई की एक हाउसिंग सोसाइटी ने सड़क पर लिखवाया - यहां किस करना मना है, जाने क्या है माजरा

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन lifeberrys हिंदी की वेबसाइट पर। जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश से जुड़ीNews in Hindi

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2021 lifeberrys.com