बिहार: कहर बनकर टूटी आकाशीय बिजली, 33 लोगों की हुई मौत

By: Pinki Sat, 21 May 2022 09:10 AM

बिहार: कहर बनकर टूटी आकाशीय बिजली, 33 लोगों की हुई मौत

बिहार में प्रचंड गर्मी के बाद कुछ घंटों की बारिश और आंधी की वजह से 16 जिलों में 33 लोगों की मौत आकाशीय बिजली गिरने की वजह से हो गई। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तरफ से मृतकों के आश्रितों को तत्काल 4-4 लाख रुपये सहायता राशि देने का ऐलान कर दिया गया है।

नीतीश कुमार ने ट्वीट कर लिखा है कि राज्य के 16 जिलों में आंधी एवं वज्रपात से 33 लोगों की मृत्यु दुःखद। मृतकों के आश्रितों को तत्काल 4-4 लाख रूपये अनुग्रह अनुदान देने तथा आंधी एवं वज्रपात से हुई गृह क्षति एवं फसल क्षति का आकलन कर प्रभावित परिवारों को जल्द से जल्द सहायता राशि उपलब्ध कराने का निर्देश भी दिया गया। सीएम ने लोगों से भी सावधानी बरतने की अपील की।

उन्होंने जोर देकर कहा कि लोगों से अपील है कि खराब मौसम में पूरी सतर्कता बरतें। वज्रपात से बचाव के लिए आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा समय-समय पर जारी किए गए सुझावों का अनुपालन करें। खराब मौसम में घर में रहें और सुरक्षित रहें। जानकारी के लिए बता दें कि गुरुवार दोपहर को बिहार में तेज बारिश और आंधी का दौर देखने को मिला था। तब जगह-जगह पेड़ गिर गए थे और घंटों तक बिजली बाधित रही थी।

अब जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक बिहार का भागलपुर इलाका इस आंधी-तूफान की वजह से सबसे ज्यादा प्रभावित रहा है। यहां पर 7 लोगों की आकाशीय बिजली गिरने की वजह से मौत हुई है। मुजफ्फरपुर का आंकड़ा भी 6 पहुंच चुका है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तरफ से भी इस घटना पर दुख जाहिर किया गया है। उन्होंने बताया है कि राज्य प्रशासन बिना समय गंवाए बचाव कार्य में जुटा हुआ है। ट्वीट में लिखा गया है कि बिहार के कई जिलों में आंधी एवं बिजली गिरने की घटनाओं में कई लोगों की मृत्यु से अत्यंत दुख हुआ है। ईश्वर शोक-संतप्त परिवारों को इस अपार दुख को सहने की शक्ति दे। राज्य सरकार की देखरेख में स्थानीय प्रशासन राहत और बचाव कार्य में तत्परता से जुटा है।

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन lifeberrys हिंदी की वेबसाइट पर। जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश से जुड़ीNews in Hindi
|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com