कोरोना के खिलाफ मजबूत हथियार है मास्क, हमें करनी होगी इसकी भी केयर वर्ना... ये हैं तरीके

By: Nupur Tue, 11 May 2021 6:55 PM

कोरोना के खिलाफ मजबूत हथियार है मास्क, हमें करनी होगी इसकी भी केयर वर्ना... ये हैं तरीके

कोरोनाकाल में मास्क पहनना न्यू नॉर्मल हो गया है। कोविड संक्रमण से इससे काफ़ी हद तक बचाव हो सकता है। सोशल डिस्टेंसिंग, दो-दो घंटे में हाथ धोना, सैनिटाइज़र का इस्तेमाल हमारी आदतों में शामिल हो गए हैं। इन सभी सुरक्षा उपायों में मास्क की अहमियत काफ़ी बढ़ जाती है, क्योंकि इसे लगाने से ड्रॉपलेट्स हमारे श्वसन तंत्र में प्रवेश नहीं कर पाते हैं।

मास्क लगाना भले ही बेहद ज़रूरी है, पर लंबे समय तक इसका इस्तेमाल करना कई और तरह की परेशानियों की सौगात दे सकता है। पर मास्क को किसी भी हाल में किनारे नहीं कर सकते हैं। ऐसे में वो कौनसी सावधानियां हैं, जो आपको लंबे समय तक मास्क लगाने की स्थिति में बरतनी चाहिए।

coronavirus,corona period,safety,mask,corona mask,covid-19,breath,respiratory system,lungs,skin,face,health news in hindi ,कोरोनाकाल, सुरक्षा, मास्क, कोरोना मास्क, कोविड-19, सांस, श्वसन तंत्र, फेफड़े, त्वचा, चेहरा, हिन्दी में स्वास्थ्य संबंधी समाचार

समस्याएं, जो मास्क हमें दे सकता है

लंबे समय मास्क पहनने से कई समस्याएं हो सकती हैं, जैसे-अगर मास्क बहुत ज़्यादा टाइट है तो चेहरे की त्वचा डैमेज हो सकती है। वहीं संवेदनशील त्वचा वालों को मास्क एरिया पर ऐक्ने की समस्या हो सकती है। विशेष रूप से हेल्थ केयर से जुड़े प्रोफ़ेशनल्स को लंबे समय तक और टाइट मास्क पहने रहना पड़ता है। जिस वजह से मास्क की जगह पर लाल धारियां उभर जाती हैं। इरिटेशन होता है, वहां की त्वचा डार्क हो जाती है, पिंपल्स की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

अगर त्वचा कुछ ज़्यादा ही सेंसिटिव है तो बार-बार मास्क का फ़ैब्रिक रगड़ाने से त्वचा के सेंसरी नर्व्स डैमेज हो जाते हैं। त्वचा में सूजन आ जाती है। चेहरे की त्वचा लाल हो जाती है। इसके अलावा मास्क के अंदर नमी होती है। पसीना, म्यूकस और गंदगी बाहर नहीं निकल पाता। मास्क के एरिया में ऐक्ने होने के लिए इतने कारण पर्याप्त हैं। आम तौर पर मास्क के चलते माइल्ड से लेकर मॉडरेट ऐक्ने होते हैं।


coronavirus,corona period,safety,mask,corona mask,covid-19,breath,respiratory system,lungs,skin,face,health news in hindi ,कोरोनाकाल, सुरक्षा, मास्क, कोरोना मास्क, कोविड-19, सांस, श्वसन तंत्र, फेफड़े, त्वचा, चेहरा, हिन्दी में स्वास्थ्य संबंधी समाचार

मास्क पहने रहने के दौरान बरती जाने वाली सावधानियां

मास्क लगाने के चाहे जितने भी दुष्परिणाम क्यों न हों, पर मास्क लगाए बिना काम भी तो नहीं चल सकता। इसके लिए ज़रूरी हैं कुछ सावधानियां, जो आपको लंबे समय तक मास्क लगाए रखने की मजबूरी जैसे हालत में बरतनी चाहिए।

- मास्क का काम है हमारे मुंह और नाक को अच्छी तरह ढककर हवा के माध्यम से फैलने वाले इस संक्रमण से हमें बचाना। आपको अपना मुंह और अपनी नाक को ढके रखना है, पर इसके लिए ज़रूरी नहीं कि मास्क बहुत टाइट ही हो। तो बहुत ज़्यादा टाइट मास्क का इस्तेमाल न करें।

- जहां लोग न हों, आप अकेले हों। मसलन घर में, अपनी कार में तब मास्क को निकाल सकते हैं।

- अगर आपका मास्क गीला हो गया हो तो उसे उतारकर दूसरा मास्क पहन लें। गीले मास्क की वजह से इरिटेशन और खुजली जैसी समस्या हो सकती है। इसलिए अगर आप कहीं बाहर जा रहे हों तो अपने पास एक्स्ट्रा मास्क रखें। क्योंकि मास्क महज औपचारिकता नहीं है कि चाहे जैसा भी हो, बस चेहरे पर लगा होना चाहिए। साफ़ और सूखे मास्क का ही इस्तेमाल करें।

- आजकल कई तरह के फ़ैब्रिक्स से बने मास्क मार्केट में उपलब्ध हैं, पर आप कॉटन से बने मास्क ही लें, क्योंकि इससे त्वचा को उतना नुक़सान नहीं पहुंचता।

- अगर आपको मास्क पहनना है तो भूलकर भी हैवी मेकअप न करें। इससे त्वचा की कई समस्याएं हो सकती हैं, जैसे-दाग़-धब्बे और ऐक्ने।


coronavirus,corona period,safety,mask,corona mask,covid-19,breath,respiratory system,lungs,skin,face,health news in hindi ,कोरोनाकाल, सुरक्षा, मास्क, कोरोना मास्क, कोविड-19, सांस, श्वसन तंत्र, फेफड़े, त्वचा, चेहरा, हिन्दी में स्वास्थ्य संबंधी समाचार

मास्क उतारने के बाद चेहरे की इस तरह करें देखभाल

घर आकर मास्क उतारने के बाद अपने चेहरे की त्वचा की इस तरह देखभाल करें, त्वचा संबंधी कई समस्याओं से आप बचे रहेंगे।

- चेहरे को किसी सौम्य साबुन से रोज़ाना दो बार धोएं।

- संवेदनशील त्वचा वाले लोग मास्क उतारने के बाद हाइपोएलर्जेनिक मॉइस्चराइज़र चेहरे पर लगाएं। ऑइटमेंट बेस वाले मॉइस्चाइज़र के इस्तेमाल से बचें।

- मास्क से होने वाली स्किन इरिटेशन से बचने के लिए ठंडक पहुंचाने वाली क्रीम लगाएं।

- चूंकि लंबे समय तक मास्क के अंदर रहने के कारण त्वचा गीली हो जाती है ऐसे में स्क्रब और एक्सफ़ॉलिटर्स का इस्तेमाल न करें। इससे त्वचा छिल सकती है।

- आप पेट्रोलियम जेली या मुलायम करने वाली क्रीम लगा सकते हैं।

- यदि इन सावधानियों के बावजूद आपको त्वचा संबंधी समस्याएं हों तो किसी अच्छे डर्मैटोलॉजिस्ट से मिलें।

|
|
|
|
|
|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com