कैंसर के इन शुरूआती लक्षणों को ना करें नजरअंदाज, भारी पड़ सकती हैं लापरवाही

By: Neha Sat, 03 Dec 2022 3:36:54

कैंसर के इन शुरूआती लक्षणों को ना करें नजरअंदाज, भारी पड़ सकती हैं लापरवाही

आज के दौर में कैंसर जैसी घातक बीमारी बहुत फैल रही हैं जिसके नाम से ही लोगों को डर बैठ जाता हैं। कैंसर ऐसी बीमारी है जो धीरे-धीरे पूरे शरीर में फैल जाती है। अगर सही समय में इसका पता न चले तो कैंसर रोगी को बचा पाना लगभग नामुमकिन हो जाता है। ऐसे में जरूरी हैं कि कैंसर के शुरूआती लक्षणों की पहचान करते हुए समय पर इसका इलाज किया जाए। कई बार शरीर में होने वाले सामान्य से बदलाव या लक्षण बड़ी बीमारी की वजह हो सकते हैं। जितनी जल्दी कैंसर की उपस्थिति का पता चलता है, उतना ही बेहतर रोग का निदान होता है। आज हम आपको कुछ ऐसे ही लक्षणों के बारे में बताने जा रहे हैं। आइए जानतें है क्या हो सकते हैं कैंसर के शुरूआती लक्षण।

do not ignore these early symptoms of cancer,negligence can be heavy,Health,healthy living

लंबे समय तक होने वाला दर्द

शरीर के किसी भी हिस्से में लंबे समय तक दर्द का बने रहना। दवाओं के बावजूद असर न होना। कोई बीमारी न होने के बावजूद दर्द का रहना, असहज महसूस होना। ऐसे में पर्याप्त जांच जरूरी है। डॉक्टर्स कहते हैं कि लगातार छाती, फेफड़े में दर्द या सिरदर्द, पेट में दर्द की समस्या है तो जांच करानी चाहिए। हालांकि इस दर्द का सीधा मतलब ये नहीं है कि आपको कैंसर है लेकिन ये दर्द इग्नोर नहीं किए जाने चाहिए।

do not ignore these early symptoms of cancer,negligence can be heavy,Health,healthy living

शरीर में गांठ का दिखना

एक रिपोर्ट के मुताबिक अगर किसी व्यक्ति के शरीर में अचानक ही कोई गांठ उभर आए, तो उसे इग्नोर करना खतरनाक हो सकता है। शरीर में किसी भी प्रकार की गांठ धीरे-धीरे बड़ी हो जाती है, जो कैंसर या सिस्ट का रूप ले लेती है। कई बार गांठ अपने आप ठीक भी हो जाती है, लेकिन गांठ में दर्द हो या खून निकले तो उसे तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

do not ignore these early symptoms of cancer,negligence can be heavy,Health,healthy living

वजन घटना

कैंसर वाले लोगों में वजन कम होना आम है। यह रोग का पहला दिखाई देने वाला लक्षण हो सकता है। एक रिसर्च के अनुसार 40 प्रतिशत लोगों का कहना है कि जब उन्हें पहली बार कैंसर का पता चला था तो उनका वजन कम हो गया था। डॉक्टर "कैशेक्सिया" नामक वजन घटाने के सिंड्रोम का उल्लेख करते हैं, जो कि बढ़े हुए चयापचय, अस्थि मांसपेशियों की हानि, थकान, भूख की कमी और जीवन की गुणवत्ता में कमी की विशेषता है।

do not ignore these early symptoms of cancer,negligence can be heavy,Health,healthy living

लगातार खांसी होना

मौसम और प्रदूषण के चलते कई लोग खांसी जैसी सामान्य समस्या का सामना करते हैं। वहीं लगातार खांसते रहना और खांसते समय छाती में दर्द होना कैंसर के संकेत हो सकते हैं। लंबे समय तक खांसी का होना लंग्स या थायरोइड कैंसर के लक्षण हो सकते हैं। अगर आपको भी ऐसे कोई लक्षण महसूस हो रहे हैं, तो उसे इग्नोर न करें।

do not ignore these early symptoms of cancer,negligence can be heavy,Health,healthy living

मूत्राशय से जुड़ी दिक्कतें

अगर आपके मूत्राशय या पेशाब की आदतों में लगातार बदलाव देखने को मिल रहा है तो यह कैंसर के शुरुआत का संकेत भी हो सकता है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक अगर आपके पेशाब से खून की समस्या हो रही है तो यह मूत्राशय या गुर्दे से जुड़े कैंसर का संकेत हो सकता है। टॉयलेट की आदतों में बदलाव को गंभीरता से लिया जाना चाहिए। अगर आप पेशाब करते वक्त दर्द या दिक्कत का सामना कर रहे हैं तो ऐसे में आपको चिकित्सक की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

do not ignore these early symptoms of cancer,negligence can be heavy,Health,healthy living

अत्यधिक थकान

जॉन्स हॉपकिन्स मेडिसिन की रिपोर्ट में कहा गया है कि छिपे हुए कैंसर के कारण होने वाली थकान उस तरह नहीं है जैसा आप दिन भर के काम या खेल के बाद महसूस करते हैं। अत्यधिक थकान जो आराम करने से ठीक नहीं होती है, वह कैंसर का प्रारंभिक संकेत हो सकता है। कैंसर रिसर्च यूके नामक एक चैरिटी के अनुसार, सुबह उठना मुश्किल होना अक्सर थकान का एक स्पष्ट संकेत होता है। लेकिन सिर्फ इसलिए कि आप थके हुए हैं इसका मतलब यह नहीं है कि आपको कैंसर है। थकान के बहुत सारे कारण होते हैं, उनमें से कई कैंसर से संबंधित नहीं होते हैं। यदि आपके लक्षण काफी गंभीर हैं, तो अपने डॉक्टर को बुलाएं।

do not ignore these early symptoms of cancer,negligence can be heavy,Health,healthy living

आंत की आदतों में बदलाव

अगर आपकी आंतों से जुड़ी आदतों में लगातार बदलाव हो रहे हैं तो इसे सामान्य समस्या समझकर नजरअंदाज नही किया जाना चाहिए। अगर आपको मल त्याग करने में दिक्कत का सामना करना पड़ता है या फिर पहले की तरह मलत्याग नहीं हो रहा तो यह समस्या कोलन कैंसर का लक्षण हो सकती है। ऐसी समस्या में चिकित्सक की राय के अनुसार जांच के बाद उचित उपचार किया जाना चाहिए।

do not ignore these early symptoms of cancer,negligence can be heavy,Health,healthy living

बार-बार आने वाला बुखार

बुखार सर्दी और फ्लू का एक सामान्य लक्षण हो सकता है, और यह अपने आप ठीक हो जाता है। लेकिन अगर बुखार का कैंसर से संबंध है, तो कुछ निश्चित संकेत हैं जिन पर आपको ध्यान देना चाहिए। क्या बुखार बिना किसी स्पष्ट कारण के बार-बार आता है या क्या आपको ज्यादातर रात में बुखार आता है। आपके पास संक्रमण के कोई अन्य लक्षण नहीं हैं। तो बुखार का कारण क्या है। क्या आपको रात में पसीना आता है। यदि हां, तो जांच कराइये।

|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2023 lifeberrys.com