त्यौहारों से भरा हैं यह सप्ताह, आइये जानें किस दिन आ रहा कौनसा प्रमुख दिन

By: Ankur Mon, 19 July 2021 08:33 AM

त्यौहारों से भरा हैं यह सप्ताह, आइये जानें किस दिन आ रहा कौनसा प्रमुख दिन

आज 19 जुलाई, सोमवार को नया सप्ताह शुरू हो रहा हैं जो कि 25 जुलाई तक जारी रहने वाला हैं। यह सप्ताह त्यौहारों के लिहाज से बहुत महवपूर्ण माना जा रहा हैं जिसमें कई प्रमुख दिन आने वाले हैं। जहां कल से चातुर्मास का प्रारंभ हो रहा हैं वहीँ इस सप्ताह मुस्लिम सम्प्रदाय का प्रमुख त्यौहार बकरीद भी आ रहा हैं। तो आइये जानते हैं इस सप्ताह आने वाले प्रमुख त्यौहारों का महत्व और ये त्यौंहार किस दिन पद रहे हैं इससे जुड़ी जानकारी।

देवशयनी एकादशी

20 जुलाई को देवशयनी एकादशी व्रत रखा जाएगा। आषाढ़ शुक्ल पक्ष की एकादशी को देवशयनी एकादशी के नाम से जाना जाता है। इसी दिन से चातुर्मास प्रारंभ हो जाते हैं। इस दौरान चार महीनों तक समस्त प्रकार के मांगलिक कार्यों पर रोक लग जाती है।

astrology tips,vrat tyohar list,vrat tyohar importance

ईद-उल-अजहा

इस साल बकरीद 21 जुलाई 2021 को मनाई जा सकती है। हालांकि ईद की वास्तविक तारीख चांद के दीदार पर ही तय होगी। बकरीद को ईद-उल-अजहा, ईद-उल-जुहा, बकरा ईद, के नाम से जाना जाता है। बकरीद इस्लाम मजहब का प्रमुख त्योहार है।

वासुदेव द्वादाशी

हिन्दू पंचांग के अनुसार, आषाढ़ माह में शुक्ल पक्ष की द्वादशी को वासुदेव द्वादशी मनाई जाती है। इस साल वासुदेव द्वादशी 21 जुलाई 2021 बुधवार के दिन मनायी जाएगी। इस दिन भगवान श्रीकृष्ण और माता लक्ष्मी की पूजा की विधान है। धार्मिक मान्यता है कि जो भक्त इस व्रत को सच्ची श्रद्धा और भक्ति से करता है उसके पूर्व जन्म के सभी पाप मिट जाते हैं।

astrology tips,vrat tyohar list,vrat tyohar importance

प्रदोष व्रत

21 जुलाई को शुक्ल प्रदोष व्रत रखा जाएगा। प्रदोष व्रत भगवान शिव का आशीर्वाद पाने के लिए रखा जाता है। यह व्रत प्रति माह में दो बार त्रयोदशी तिथि के दिन रखा जाता है। एक शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी में और दूसरा कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी में।

गुरु पूर्णिमा

गुरु पूर्णिमा पर्व प्रति वर्ष आषाढ़ मास की पूर्णिमा तिथि पर मनाया जाता है। इस साल यह तिथि 24 जुलाई को गुरु पूर्णिमा पर्व मनाया जाएगा। आषाढ़ पूर्णिमा के दिन पवित्र नदी में स्नान और गरीबों में दान-पुण्य करने का महत्व है।

सावन माह प्रारंभ

सावन का महीना 25 जुलाई 2021 से प्रारंभ हो रहा है, जो 22 अगस्त 2021 को समाप्त होगा। हिन्दू पंचांग का यह पांचवां महीना होता है। यह भगवान शिव का प्रिय माह है। श्रावण में भगवान शिव की पूजा-अर्चना करने से सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं। इसलिए धार्मिक दृष्टि से सावन महीने का विशेष महत्व है।

ये भी पढ़े :

# देवशयनी एकादशी के साथ शुरू हो रहा चातुर्मास, नियमों का पालन कर पाए भगवान विष्णु का आशीर्वाद

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2021 lifeberrys.com