चैत्र नवरात्रि की शुरुआत से पहले ही करें यह तैयारी, मिलेगा मां दुर्गा का आशीर्वाद

By: Ankur Thu, 08 Apr 2021 08:14 AM

चैत्र नवरात्रि की शुरुआत से पहले ही करें यह तैयारी, मिलेगा मां दुर्गा का आशीर्वाद

आने वाली 13 अप्रैल से मातारानी का महापर्व नवरात्रि शुरू होने जा रहा हैं जिसमें मातारानी के विभिन्न स्वरूपों का पूजन किया जाता हैं। इन दिनों में सभी व्रत-उपवास रखते हुए माता का पूजन करते है और उनका आशीर्वाद पाने की चाहत रखते है। लेकिन नवरात्रि की शुरुआत से पहले ही कुछ काम ऐसे हैं जिन्हें कर लेना चाहिए जो को माता को प्रसन्न करते हैं और आपको सभी मनोकामनाओं की पूर्ती करवाते हैं। तो आइये जानते है उन काम के बारे में जिससे नवरात्रि में मां दुर्गा के स्वागत के लिए घर पर विशेष प्रकार की तैयारी हो सकें।

घर की करें साफ-सफाई

नवरात्रि से पहले घर की साफ-सफाई करना बेहद आवश्यक है। जहां स्वच्छता होती है वहां पर माता लक्ष्मी का वास होता है। इसके विपरीत जहां गंदगी होती हैं वहां दरिद्रता का आगमन होता है। घर के मंदिर को अच्छी तरह से साफ करें। खंडित मूर्तियों को मंदिर में नहीं रखें।

astrology tips,astrology tips in hindi,navratri special,navratri 2021 ,ज्योतिष टिप्स, ज्योतिष टिप्स हिंदी में, नवरात्रि स्पेशल, नवरात्रि 2021

कलश स्थापना के स्थान पर इस रंग का करें प्रयोग

जिस स्थान पर कलश स्थापना की जाती है वहां पर माता की चौकी के पास हल्के रंग का उपयोग करना वास्तु शास्त्र में शुभ फलदायी माना जाता है। ऐसा करने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है।

घर के मुख्य दरवाजे पर बनाएं यह निशान

किसी भी शुभ काम शुरू करने से पहले स्वास्तिक का चिन्ह बनाया जाता है इसलिए नवरात्रि शुरू होने से पहले घर के मुख्य दरवाजे और मंदिर पर स्वास्तिक का निशान बनना शुभ होता है।

astrology tips,astrology tips in hindi,navratri special,navratri 2021 ,ज्योतिष टिप्स, ज्योतिष टिप्स हिंदी में, नवरात्रि स्पेशल, नवरात्रि 2021

रसोई घर को रखें स्वच्छ

नवरात्रि से पहले रसोई घर में लाल, पीला व नारंगी रंग का प्रयोग करें। इसके साथ ही यहां से तामसिक चीजों को (लहसुन प्याज आदि) निकाल लें। वास्तु के नियमानुसार रसोई घर को हमेशा साफ और स्वच्छ रखना चाहिए।

घर की दक्षिण पूर्व दिशा को करें ठीक

शास्त्रों के अनुसार देवी का क्षेत्र दक्षिण दिशा में होता है इसलिए माता की पूजा करते समय आपका मुख दक्षिण या पूर्व दिशा की ओर होना चाहिए। पूर्व दिशा में पूजा करने से चेतना जागृत होती है जबकि दक्षिण दिशा की तरफ करके पूजा करने से मानसिक शांति मिलती है।

घर का उत्तर-पश्चिम कोना ठीक रखें

बेचैनी मिटाने और मन की शांति के लिए उत्तर-पश्चिम कोने को ठीक रखें। चंद्रमा इस स्थान का कारक है। यहां पर कोई चीज स्थिर नहीं रहती। अतः बाथरूम या गेस्ट रूम बनाएं। इस स्थान पर भी विशेष साफ सफाई का ध्यान रखना चाहिए।

ये भी पढ़े :

# मनोकामना के अनुसार करें चावल के ये उपाय, चमकेगी आपकी किस्मत

# आपसे जुड़े कई राज खोलता हैं आपके पैर का अंगूठा, जानें कैसे लगाए इसका पता

# आने वाला हैं मातारानी का पावन पर्व नवरात्रि, वास्तु नियमों के साथ करें पूजन

# चौड़े माथे वाले लोग होते हैं सौभाग्यशाली, जानें इसकी बनावट से आपका भविष्य

# ग्रह दोष से छुटकारा दिलाएगा मोरपंख, इन तरीकों से करें परेशानियों का अंत

Tags :

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2021 lifeberrys.com