अक्षय तृतीया पर किए जाते हैं सभी मांगलिक कार्य, इन वास्तु उपायों से अपने समय को बनाए शुभ

By: Ankur Fri, 14 May 2021 09:16 AM

अक्षय तृतीया पर किए जाते हैं सभी मांगलिक कार्य, इन वास्तु उपायों से अपने समय को बनाए शुभ

वैशाख का महीना जारी हैं जो कि भगवान विष्णु को बहुत प्रिय हैं और इस महीने की शुक्ल तृतीया का बहुत महत्व माना जाता हैं जिसमें भगवान विष्णु के साथ ही मां लक्ष्मी का भी आशीर्वाद मिलता हैं। इस दिन दान-पुण्य कर शुभ फल प्राप्त किया जाता हैं। आज अक्षय तृतीया के दिन सभी मांगलिक कार्यों को संपन्न कराया जाता हैं। हम आपको आज के दिन किए जाने वाले कुछ ऐसे वास्तु उपायों के बारे में बताने जा रहे हैं जिससे जीवन में खिशियों का आगमन होगा और सभी कामों में सफलता प्राप्त होगी।

तोरण से आएंगी खुशियां

मुख्य द्वार पर बाँधने वाले तोरण को बंधनवार भी कहा जाता है। इस दिन घर की सुख-समृद्धि के लिए घर के मुख्य द्वार पर आम या अशोक के ताज़े पत्तों की बंधनवार बांधना शुभ माना गया है। तोरण का चयन घर की दिशा अनुसार,रंगों और आकार को ध्यान में रखकर करने से सौभाग्य में वृद्धि होती है।

vastu tips,vastu tips in hindi,akshaya tritiya 2021,lord vishnu,maa laxmi ,वास्तु टिप्स, वास्तु टिप्स हिंदी में, अक्षय तृतीया, भगवान विष्णु, मां लक्ष्मी

लक्ष्मीजी की रहेगी कृपा

अक्षय तृतीया के दिन आपको घर की विशेष साफ-सफाई करनी चाहिए। घर में कहीं भी किसी प्रकार के मकड़ी के जाले नहीं होने चाहिए इससे घर में नकारात्मकता फैलती है एवं धन हानि होती है। पोंछा लगाते समय पानी में थोड़ा साबुत खड़ा नमक (समुद्री नमक) मिला लेना चाहिए। इस उपाय से घर की नकारात्मक ऊर्जा नष्ट हो जाती है एवं दरिद्रता दूर होकर धन का आगमन बना रहेगा।

उत्तर दिशा में रखें सोना

पौराणिक मान्यता है कि स्वर्ण में लक्ष्मीजी का वास होता है और उत्तर दिशा लक्ष्मीजी और धन के देवता कुबेर की मानी गई है। अक्षय तृतीया के दिन स्वर्ण खरीदने से इसका क्षय कभी नहीं होता है तथा यह पीढ़ियों तक बढ़ता है। यदि आप इस दिन सोना खरीद रहें हैं तो इसे घर की उत्तर दिशा में रखें मान्यता है कि ऐसा करने से साल भर आपकी तरक्की होती रहेगी।

vastu tips,vastu tips in hindi,akshaya tritiya 2021,lord vishnu,maa laxmi ,वास्तु टिप्स, वास्तु टिप्स हिंदी में, अक्षय तृतीया, भगवान विष्णु, मां लक्ष्मी

शुभ-लाभ की रंगोली

अक्षय तृतीया के दिन पूजा स्थल पर रंगोली बनाना बहुत शुभ माना गया है। शुभता का प्रतीक रंगोली आटा, चावल, हल्दी, कुमकुम,फूल-पत्तियों या अनेक प्रकार के रंगों से अलग-अलग डिजाइन में बनाई जाती है। रंगोली बनाने से आस-पास की नकारात्मक ऊर्जा समाप्त होती है एवं वहां सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। घर पर देवी-देवताओं की कृपा बनी रहती है।

पौधारोपण

अनेक शास्त्रों में इस दिन पौधारोपण का भी अमोघ फल बताया गया है।जिस प्रकार इस दिन लगाए हुए पौधे हरे-भरे होकर फलते-फूलते हैं उसी प्रकार पौधा लगाने वाला व्यक्ति भी सफलता के चरम को छूता है।पौधे लगाकर छाया करने वाले प्राणी को सभी क्लेशों से छुटकारा मिलता है एवं उसके ऊपर सदैव ईश्वर का आशीर्वाद रहता है। लॉकडाउन के चलते यदि पौधारोपण करना संभव न हो तो आज के दिन वृक्ष लगाने का संकल्प लें।

ये भी पढ़े :

# अक्षय तृतीया पर करें ये 6 उपाय, मां लक्ष्मी की कृपा से मिलती हैं धन-संपदा

# आपका देखा गया हर सपना कुछ कहता हैं, जानें इनका शुभ-अशुभ महत्व

# इन उपायों की मदद से टालें अकाल मृत्‍यु का योग, लंबी होगी आपकी उम्र

# महामारी की परेशानियों का अंत करेंगे श्रीकृष्‍ण के ये मंत्र, आसानी से दूर होंगे बड़े कष्‍ट

# क्या आप भी नौकरी ना मिलने से हो रहे हैं परेशान, आजमाए ये वास्तु टिप्स

Tags :

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2021 lifeberrys.com