Advertisement

  • भारतीय सेना ने POK में गोले दागकर 3 आतंकी लॉन्च पैड किए तबाह, सेना प्रमुख ने कहा- करीब 6 से 10 पाकिस्तानी सैनिक और कई आतंकी मारे गए

भारतीय सेना ने POK में गोले दागकर 3 आतंकी लॉन्च पैड किए तबाह, सेना प्रमुख ने कहा- करीब 6 से 10 पाकिस्तानी सैनिक और कई आतंकी मारे गए

By: Pinki Sun, 20 Oct 2019 10:06 PM

भारतीय सेना ने POK में गोले दागकर 3 आतंकी लॉन्च पैड किए तबाह, सेना प्रमुख ने कहा- करीब 6 से 10 पाकिस्तानी सैनिक और कई आतंकी मारे गए

भारतीय सेना ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में आतंकी ठिकानों पर भारी गोलीबारी की। सेनाध्यक्ष बिपिन रावत ने बताया कि भारतीय सेना ने 6 से 10 पाकिस्तानी सैनिकों और लगभग इतनी ही संख्या में आतंकियों को मार गिराया है। भारतीय सेना की इस कार्रवाई में आतंकी ठिकानों को भारी नुकसान पहुंचा है। भारतीय सेना के इस पराक्रम की तस्वीरें भी सामने आ गई हैं। उन्होंने कहा कि गोलाबारी में पीओके में स्थित 3 आतंकी लॉन्च पैड तबाह हो गए और एक अन्य आतंकी ठिकाने में भी नुकसान हुआ है। सेना ने यह कार्रवाई तब की, जब पाकिस्तान ने आतंकी घुसपैठ को अंजाम देने के लिए शनिवार रात अचानक भारतीय पोस्टों पर गोलाबारी शुरू की। भारतीय सेना ने आर्टिलरी फायरिंग (गोलाबारी) कर पीओके के जूरा, ऐथमुकाम और कुंदलशाही में स्थित आतंकी लॉन्च पैड को तबाह किए। तीनों ही ठिकाने पीओके की नीलम वैली में हैं। ये भारत के तंगधार के सामने पाक अधिकृत कश्मीर में हैं। तीनों ही ठिकाने नियंत्रण रेखा (एलओसी) से 10 से 15 किलोमीटर दूर हैं।

न्यूज एजेंसी को सेना के सूत्र ने बताया कि पाकिस्तान की फायरिंग में भारतीय सेना के दो जवान शहीद हुए और एक नागरिक की जान गई। उसने कहा कि सेना की इस कार्रवाई की तुलना किसी भी सूरत में सितंबर 2016 में की गई सर्जिकल स्ट्राइक से नहीं की जानी चाहिए। इसी साल 26 फरवरी को पीओके के बालाकोट में भारतीय वायुसेना ने एयरस्ट्राइक की थी।

indian army attack,indian army,indian army attack on terror camps,indian army attack on terror camps in pok,pok,pakistan,news,news in hindi ,सेनाध्यक्ष बिपिन रावत,पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर

जनरल बिपिन रावत ने कहा- जब से जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाया गया है, तब से ही हमें लगातार घुसपैठ की खबरें मिल रही थीं। वे राज्य में शांति को बिगाड़ना चाहते हैं। राज्य में हालात सामान्य हो रहे हैं, लेकिन कोई है जो आतंकियों और एजेंसियों के पीछे काम कर रहा है। इनमें से कुछ लोग देश में हैं और कुछ देश के बाहर पाकिस्तान और पीओके में हैं। ये लोग शांति का माहौल बिगाड़ना चाहते हैं। हमें खबर थी कि आतंकी फॉरवर्ड पोस्टों के नजदीक आ रहे हैं। शनिवार रात तंगधार में घुसपैठ की कोशिश की गई और हमने जवाब दिया। पाकिस्तान ने हमारी पोस्ट पर फायरिंग की और इससे हमें नुकसान हुआ। लेकिन, इससे पहले कि वे घुसपैठ को अंजाम दे पाते, हमने फैसला किया कि हम सीमापार आतंकी कैम्प को निशाना बनाएंगे। हमें इन कैम्पों के बारे में भी जानकारी मिली थी। सीमापार आतंकी ठिकानों को हमारी कार्रवाई से बड़ा नुकसान हुआ है।

indian army attack,indian army,indian army attack on terror camps,indian army attack on terror camps in pok,pok,pakistan,news,news in hindi ,सेनाध्यक्ष बिपिन रावत,पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर

जानकारी के मुताबिक जूरा, अथमुकाम और कुंडलसाही में कई आतंकी लॉन्च पैड बनाए गए हैं। हर लॉन्च पैड पर 30 से 40 आतंकवादी मौजूद थे। इन आतंकियों को पाकिस्तानी सेना के बंकरों और सैनिकों से सुरक्षा और मदद मिल रही थी। भारतीय सेना ने इन्हीं लॉन्च पैड्स को निशाना बनाया। तोप के हमले से 3 आतंकी ठिकानों को तबाह कर दिया गया। पिछले कुछ दिनों में पाकिस्तानी सेना ने तीनों ही आतंकी ठिकानों पर भारी तादाद में आतंकियों को इकट्ठा कर लिया था। पाकिस्तान सीजफायर तोड़कर गोलीबारी करते हुए इन आतंकियों की घुसपैठ कश्मीर घाटी में कराने की फिराक में था। उसकी गोलीबारी का जवाब भारतीय सेना ने तोप के गोलों से दिया।

सेना ने बताया- हमारे पास इस बात की पुख्ता सूचना थी कि लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) के उस पार इन लॉन्च पैड्स में आतंकवादी मौजूद हैं। इसके बाद आर्मी ने इन पर गोलाबारी की। पाकिस्तानी सेना इन आतंकवादियों की भारतीय सीमा में घुसपैठ कराना चाहती थी और इसीलिए उसने शनिवार रात भारतीय पोस्टों पर अचानक गोलाबारी शुरू कर दी। जवाब में भारतीय सेना ने गोलाबारी की। पाक सेना की कुछ पोस्टें इन लॉन्च पैड्स की हिफाजत कर रही थीं और भारतीय सेना ने इनमें से कुछ पोस्टों को भी निशाना बनाया।

Tags :
|
|

Advertisement