Advertisement

  • होम
  • न्यूज़
  • मध्यस्थता : कश्मीर मसले पर दखलअंदाजी नहीं करेगा अमेरिका, कहा - यह भारत-पाकिस्तान का द्विपक्षीय मामला

मध्यस्थता : कश्मीर मसले पर दखलअंदाजी नहीं करेगा अमेरिका, कहा - यह भारत-पाकिस्तान का द्विपक्षीय मामला

By: Pinki Tue, 13 Aug 2019 12:42 PM

मध्यस्थता : कश्मीर मसले पर दखलअंदाजी नहीं करेगा अमेरिका, कहा - यह भारत-पाकिस्तान का द्विपक्षीय मामला

अमेरिका (America) अब कश्मीर मसले पर दखलअंदाजी नहीं करेगा। जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) मसले पर भारत के रूख साफ करने के बाद अमेरिका का कहना है कि कश्मीर भारत-पाकिस्तान का द्विपक्षीय मामला है। इस स्तिथि में मध्यस्थता का सवाल नहीं उठता।

अमेरिका में भारतीय राजदूत हर्षवर्धन सिंगला ने फॉक्स न्यूज़ से कहा, 'अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप पहले ही ये साफ कर चुके हैं कि कश्मीर मसले पर उनकी मध्यस्थता भारत-पाकिस्तान की सहमति पर निर्भर करती है। चूंकि भारत ने मध्यस्थता की पेशकश ठुकरा दी है। लिहाजा कश्मीर मामला अब और आगे नहीं बढ़ाया जाएगा।'

हर्षवर्धन सिंगला ने कहा अमेरिका अपनी पुरानी नीति पर चलना चाहता है। अमेरिका चाहता है कि भारत और पाकिस्तान एक साथ मिलकर इस मुद्दे को सुलझाने की कोशिश करें, क्योंकि ये दो देशों के बीच का मसला है।

बता दें कि भारत हमेशा इस बयान पर कायम रहा है कि जम्मू-कश्मीर आंतरिक मामला है। सिर्फ पाकिस्तान से ही इसपर बात होगी। इसमें किसी भी दूसरे देश का दखल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

Tags :
|

Advertisement