Advertisement

  • कोरोना वायरस : चीन ने बदला संक्रमित लोगों की गिनती का तरीका, आई गिरावट, उठे सवाल

कोरोना वायरस : चीन ने बदला संक्रमित लोगों की गिनती का तरीका, आई गिरावट, उठे सवाल

By: Pinki Fri, 21 Feb 2020 07:44 AM

कोरोना वायरस : चीन ने बदला संक्रमित लोगों की गिनती का तरीका, आई गिरावट, उठे सवाल

चीन के हुबेई प्रांत में कोरोना वायरस (Coronavirus)से संक्रमित लोगों की संख्या में गिरावट आई है। वैसे तो यह खबर बात अच्छी है लेकिन चीन की तरफ से जारी किए जा रहे आंकड़ों पर संदेह उठ रहा है। दरअसल, चीन ने इस महीने में दूसरी बार संक्रमण के मामलों को गिनने के तरीके में बदलाव किया है। ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के मुताबिक बुधवार को हुबेई में 1700 नए मामलों की पुष्टि हुई थी लेकिन गिनने के तरीके को बदले जाने के बाद गुरुवार को सिर्फ 349 नए मामलों की पुष्टि की गई। अब इन आकड़ों में बदलाव से यह सवाल उठ रहा है कि क्या चीन दुनिया से सच्चाई छिपाने की कोशिश तो नहीं कर रहा। हो सकता है कि चीन दुनिया से यह जताने के लिए कि स्थिति अब नियंत्रण में है, चीन मामलों को दबा रहा है। दरअसल, कोरोना वाइरस से चीन की अर्थव्यवस्था बुरी तरह प्रभावित हुई है।

डायमंड प्रिंसेस क्रूज पर 2 बुजुर्ग यात्रियों की कोरोना वायरस से मौत, 7 भारतीय संक्रमित

इंडियन कंपनी ने कर दिखाया, मिला कोरोना का तोड़

कोरोना: चीन में फंसे इंड‍ियन कपल ने लगाई भारत सरकार से मदद की गुहार, कहा - 'प्लीज, हमें यहां से बाहर निकालिए

दरअसल, कोरोना वाइरस से चीन की अर्थव्यवस्था बुरी तरह चरमरा गई है। इसका अंदाजा इसी से लगा सकते हैं कि सार्स वाइरस के प्रकोप के वक्त उसकी जीडीपी में एक फीसदी से ज्यादा गिरावट दर्ज हुई थी, जबकि कोरोना सार्स से कई गुना ज्यादा घातक साबित हो रहा है। ब्लूमबर्ग ने हुबेई की तरफ से कोरोना वाइरस को लेकर जारी किए गए डेटा पर स्पष्टीकरण मांगा था लेकिन चीन के नैशनल हेल्थ कमिशन और हुबेई के प्रांतीय स्वास्थ्य आयोग ने सवालों के जवाब नहीं दिए।

coronavirus,china,china coronavirus,coronavirus patient,world  news ,कोरोना वायरस

चीन ने बदला संक्रमित लोगों को गिनने का तरीका

हुबेई में कोरोना वाइरस के संक्रमण के नए मामलों में एक ही दिन में 500 प्रतिशत से ज्यादा की अचानक गिरावट को लेकर कोई स्पष्टीकरण भी नहीं दिया गया। बुधवार को ही संक्रमण के मामलों को गिनने के लिए नई नैशनल गाइडलाइन जारी की गई थी। इसमें सिर्फ 2 आंकड़ों को ही शामिल करने के लिए कहा गया है- पुष्ट मामले और संदिग्ध मामले। चीन के दूसरे राज्य पहले से ही काउंटिंग में यही तरीका अपना रहे थे।

शुरुआत में हुबेई प्रांत में कोरोना वाइरस के संक्रमण के मामलों की पुष्टि के सीटी स्कैन या न्यूक्लिक एसिड टेस्ट का इस्तेमाल हो रहा था। यह व्यवस्था बमुश्किल एक हफ्ते तक ही चली और चीन ने 13 फरवरी को काउंटिंग के तरीके को बदल दिया। उस बदलाव के बाद संक्रमण के कुल केसों में अचानक 45 प्रतिशत का इजाफा हो गया। इसके एक दिन बाद 14 फरवरी को चीन के नैशनल हेल्थ कमिशन ने हुबेई में कोरोना से मौत के आंकड़े में 108 की यह कहते हुए कमी कर दी कि इन्हें 'दो बार गिन लिया गया' था।

coronavirus,china,china coronavirus,coronavirus patient,world  news ,कोरोना वायरस

चीन की तरफ से जारी किए गए ऑफिशल डेटा पर अगर यकीन किया जाए तो नए मामलों में तेजी से गिरावट एक शुभ संकेत हो सकता है। हालांकि, हाल के दिनों में चीन ने जिस तरह आंकड़ों से 'खेल' किया है, काउंटिंग के तरीकों को बदला है, उससे ये आंकड़े ही सवालों के घेरे में हैं।

7 साल की बच्ची से हारा कोरोना

चीन में घातक कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण 114 और लोगों की मौत होने के साथ ही मृतक संख्या बढ़कर 2,118 हो गई है। इसके साथ ही संक्रमण के कुल पुष्ट मामलों की संख्या बढ़कर 74,576 हो गई है। वहीं एक सात साल की बच्ची ने इस जानलेवा संक्रमण को मात देने में सफल हुई है। चीन में कोरोना वायरस से संक्रमित हुए सात माह के बच्चे को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, चोंगक्विंग में सबसे कम उम्र के मरीज का यह पहला मामला था, बच्चे में कोरोनावायरस से संक्रमण की पुष्टि 3 फरवरी को हुई थी। चोंगक्विंग हेल्थ कमीशन के डेप्टी पार्टी सचिव शिआ पेई ने कहा कि अस्पतला ने बच्चे के उपचार के लिए विशेष चिकित्सक टीम का गठन किया था। इलाज में सबकुछ ठीक रहा और पूर्ण रूप से स्वस्थ होने के बाद आज (बुधवार) सुबह बच्चे को छुट्टी दे दी गई।

Tags :
|

Advertisement