Advertisement

  • पूरे देश में लागू करेंगे NRC, धर्म के आधार पर किसी के साथ कोई भेदभाव नहीं होगा : अमित शाह

पूरे देश में लागू करेंगे NRC, धर्म के आधार पर किसी के साथ कोई भेदभाव नहीं होगा : अमित शाह

By: Pinki Wed, 20 Nov 2019 2:30 PM


पूरे देश में लागू करेंगे NRC,  धर्म के आधार पर किसी के साथ कोई भेदभाव नहीं होगा : अमित शाह

गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने संसद सत्र के तीसरे दिन राज्यसभा में एनआरसी (NRC) को लेकर बड़ा बयान दिया है। अमित शाह ने कहा जल्द पूरे देश में एनआरसी लागू की जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इस प्रक्रिया में धर्म के आधार पर किसी के साथ कोई भेदभाव नहीं किया जाएगा। गृहमंत्री ने कहा कि सरकार मानती है कि सारे धर्म के जो शरणार्थी बाहर से आए हैं। उन्हें नागरिकता दी जाएगी।'

एक सवाल के जवाब में गृह मंत्री ने यह भी कहा कि सिटीजनशिप अमेडमेंट बिल वापस लाया जाएगा। इसका एनआरसी (NRC) से कोई संबंध नहीं है। अमित शाह ने कहा कि एनआरसी में धर्म के आधार पर भेदभाव करने की बात नहीं है। एनआरसी की प्रक्रिया जब पूरे देश में होगी तो असम में एनआरसी की प्रक्रिया फिर से की जाएगी। किसी भी धर्म के लोगों को डरने की जरूरत नहीं है। सारे लोगों को एनआरसी के अंदर समाहित करने की व्यवस्था है।

बता दे, 31 अगस्त को असम की नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस (NRC) की फाइनल लिस्ट जारी की गई थी। असम में एनआरसी में शामिल होने के लिए 3,30,27,661 लोगों ने आवेदन किया था। फाइनल लिस्ट से 19,06,657 लोगों को निकाल दिया गया, जबकि 3,11,21,004 लोगों को भारतीय नागरिक बताया गया था।

Tags :
|

Advertisement