Advertisement

  • कोरोना ने लगाया पर्यटन पर ग्रहण, इन मशहूर जगहों पर पसरा है सन्नाटा

कोरोना ने लगाया पर्यटन पर ग्रहण, इन मशहूर जगहों पर पसरा है सन्नाटा

By: Ankur Wed, 18 Mar 2020 5:37 PM

कोरोना ने लगाया पर्यटन पर ग्रहण, इन मशहूर जगहों पर पसरा है सन्नाटा

कोरोनावायरस समय के साथ भीषण होता जा रहा हैं जिसमें मरने वालों की संख्या 7000 से ऊपर तो संक्रमित लोगों की संख्या का आंकड़ा 2 लाख को पार कर गया हैं। इसका असर विश्व बाजार पर भी बुरी तरह पड़ रहा है। खासतौर से पर्यटन पर इसका सबसे बुरा असर पड़ा हैं और सरकारों द्वारा सलाह दी जा रही हैं कि अपने घरों में ही रहें और जरूरत हो तो ही बाहर निकलें। ऐसे में आज हम आपके लिए कुछ ऐसी जगहों की जानकारी लेकर आए हैं जो पर्यटन के लिहाज से बहुत मशहूर मानी जाती हैं और अभी वहां सन्नाटा पसरा हुआ हैं।

उगते सूर्य का देश कहलाने वाला जापान दुनिया घूमने के शौकीन पर्यटकों की ट्रैवल डायरी में जरूर दर्ज रहता है। यहां की राजधानी टोक्यों में हर साल लाखों लोग पहुंचते हैं, लेकिन इन दिनों यहां के कई टूरिस्ट डेस्टिनेशन पर पर्यटकों की संख्या नदारद है। कोरोनावायरस फैलने के डर की वजह से लोग जापान की यात्रा करने से भी बच रहे हैं।

tourism,coronavirus,coronavirus effect on tourism ,पर्यटन, कोरोनावायरस, कोरोनावायरस का पर्यटन पर असर

थाइलैंड पर्यटकों के बेस्ट टूरिस्ट डेस्टिनेशनों में शामिल है। थाइलैंड की राजधानी बैंकॉक अपनी नाइट लाइफ और मार्केट के लिए फेमस है। बैंकॉक में यहां शॉपिंग करना बेहद सस्ता माना जाता है। भारतीयों को तो यहां के लिए आसानी से वीजा भी मिल जाता है, लेकिन फिलहाल लोग बैंकॉक टूर के बारे में सोच भी नहीं रहे हैं। थाइलैंड के पर्यटन मंत्रालय के अनुसार बैंकॉक के ग्रैंड रॉयल पैलेस में पर्यटकों की तादाद लगभग आधी हो गई है।

tourism,coronavirus,coronavirus effect on tourism ,पर्यटन, कोरोनावायरस, कोरोनावायरस का पर्यटन पर असर

भगवान विष्णु के सबसे बड़े हिंदू मंदिर के रूप में कंबोडिया स्थित अंगकोरवाट मंदिर दुनियाभर में प्रसिद्ध है। बताया जाता है कि हर साल यहां करीब 20 लाख पर्यटक पहुंचते हैं। लगभग हर दिन यहां पर्यटकों की भीड़ रहती है, लेकिन इन दिनों यहां एक तरह का सन्नाटा पसरा हुआ है। यहां आने वाले पर्यटक नदारद हो गए हैं।

tourism,coronavirus,coronavirus effect on tourism ,पर्यटन, कोरोनावायरस, कोरोनावायरस का पर्यटन पर असर

दुनियाभर के मुसलमानों के लिए सऊदी अरब का मक्का पवित्र स्थान माना जाता है। यहां स्थित पवित्र स्थल काबा में न केवल हज के समय, बल्कि सालों भर जायरीनों की भीड़ लगी रहती है। लेकिन कोरोना की वजह से बीते दिनों इसे जायरीनों के लिए बंद कर दिया गया था। सैनिटाइज करने की खातिर ऐसा किया गया था। फिलहाल इसे खोल तो दिया गया है, लेकिन अब भी उमरा के लिए बहुत कम लोग पहुंच रहे हैं।

Tags :

Advertisement