Advertisement

  • बारिश के दिनों में संजीवनी बूटी का काम करता है त्रिफला, इन बिमारियों से दिलाता है मुक्ति

बारिश के दिनों में संजीवनी बूटी का काम करता है त्रिफला, इन बिमारियों से दिलाता है मुक्ति

By: Ankur Fri, 10 Aug 2018 5:27 PM

बारिश के दिनों में संजीवनी बूटी का काम करता है त्रिफला, इन बिमारियों से दिलाता है मुक्ति

आजकल के बदलते परिवेश और प्रदुषण से भरे वातावरण ने व्यक्ति के शरीर को कमजोर बना दिया हैं। जिसकी वजह से बीमारियाँ व्यक्ति के शरीर पर जल्द हावी होने लग जाती हैं। खासकर मानसून के दिनों में तो बीमारियों की यह समस्या बहुत जल्दी हो जाती हैं। क्योंकि इस समय में संक्रमण का खतरा ज्यादा रहता हैं, जिससे शरीर की पाचन क्रिया पर बहुत बुरा असर पड़ता हैं। ऐसे समय में शरीर को जरूरत होती है एक ऐसी चीज की जो शरीर को मजबूती प्रदान करें और इन रोगों से बचाए रखें। तो ऐसे में त्रिफला आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकता हैं। अब वह किस तरह आइये हम बताते हैं।

* कब्ज से राहत

आयुर्वेदिक ग्रंथों और समकालीन शोध राज्य में कहा गया है कि त्रिफला पेट को खाली करने की प्रक्रिया में तेजी लाने में मदद करता है और इस प्रकार लंबे समय तक कब्ज से राहत में मदद करता है। त्रिफला के तीन हर्बल अवयवों में से प्रत्येक हमारे शरीर की देखभाल करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। जड़ी-बूटियों ने शरीर से बाहर की आंतरिक कचरे को साफ करने में मदद की है। और, एक ही समय में, यह पाचन में सुधार भी करता है।

* आंतों के लिए बेहतर


त्रिफला में विरोधी भड़काऊ गुण हैं जो आंतों के अंदरूनी परत को फिर से जीवंत करने में मदद करता है। यह आंतों की दीवारों को शांत और शांत करता है, पेट की सूजन और ढीली से राहत देता है।

# अगर आप भी उंगलियां चटकाने के शौकीन हैं तो हो जाइए सावधान, पढ़े

# गैस, एसिडिटी और कब्ज से छुटकारा दिलाता है अमचूर, जाने इसके और फायदे

health benefits of trifla,trifla,monsoon,monsoon health tips,Health,health care tips,simple health tips,sawan health tips ,मानसून, त्रिफला,सावन हेल्थ,बारिश के दिनों में सेहत का ख्याल,सावन,सावन 2018

* चयापचय को उत्तेजित

त्रिफला चयापचय को उत्तेजित करने में मदद करता है और आपके शरीर में पाचन तंत्र को आराम देता है। प्रत्येक रात सोने से पहले एक छोटी सी खुराक आंत्र आंदोलन को विनियमित करने में मदद करता है।

* शरीर को साफ करता है

आयुर्वेदिक ग्रंथों के अनुसार, त्रिफला शरीर से चयापचय और पाचन व्यर्थ शुद्ध करके पेट और कोलन की गंदगी को साफ करता है।

* एक नैचुरल एंटीऑक्सीडेंट

त्रिफला में कई एंटीऑक्सीडेंट अणु शामिल हैं, जिनमें गैलिक एसिड, फ्लेवोनोइड और टैनिन भी शामिल हैं, जो स्वाभाविक रूप से मुक्त कणों को निशाना बनाते हैं जिससे सेल की क्षति हो सकती है। तीनों फलों से प्राप्त सक्रिय घटक, मजबूत एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव डालते हैं और आंत्र कल्याण को बढ़ावा देते हैं। इसलिए मानसून में स्वास्थ्य को बेहतर रहने के लिए इसका सेवन जरूर करें।

# मुनक्के और शहद का मैजिकल कॉम्बिनेशन

# सावधान : अगर आप भी करतें है जरुरत से ज्यादा एनर्जी ड्रिंक का सेवन, तो इस व्यक्ति के साथ जो हुआ एक बार जरुर जान ले

Advertisement