• हिन्दी न्यूज़››
  • न्यूज़››
  • झुंझुनूं : दाे भाइयाें की माैत से गांव में छाया मातम, छोटे की मौत का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाया बड़ा भाई

झुंझुनूं : दाे भाइयाें की माैत से गांव में छाया मातम, छोटे की मौत का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाया बड़ा भाई

By: Ankur Mon, 19 Apr 2021 6:08 PM

झुंझुनूं : दाे भाइयाें की माैत से गांव में छाया मातम, छोटे की मौत का सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाया बड़ा भाई

झुंझुनूं के शिशियां गांव में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया जहां 15 मिनट के अंतराल में ही दो भाइयों की मौत से पूरे गांव में मातम छा गया। यह खबर सुनकर बड़े भाई को हार्टअटैक आ गया। इससे उनकी भी मौत हो गई। एक सरकारी स्कूल में शिक्षक थे, तो दूसरे बड़ागांव स्थित पाेस्ट ऑफिस में बाबू थे। मामले की सूचना पुलिस काे दी गई। पुलिस ने पाेस्टमार्टम कराकर शव परिजनाें काे साैंप दिया। बाद में दाेनाें भाइयाें की अंत्येष्टि हुई।

दरअसल शिशियां निवासी चंद्राराम पूनिया के बेटे विजय सिंह (44) व रामनिवास (55) खेत में काम कर रहे थे। इसी दाैरान विजय सिंह की तबीयत बिगड़ गई। उसे तत्काल निजी गाड़ी से झुंझुनूं डाॅक्टर के पास ले जाया गया, जहां उसकी माैत हाे गई। छाेटे भाई की माैत की खबर सुनकर कुछ समय बाद ही उसके बड़े भाई रामनिवास (55) की भी हार्ट अटैक से माैत हाे गई। विजय सिंह पूनिया सरकारी स्कूल में शिक्षक थे, जबकि उनका भाई रामनिवास बड़ागांव स्थित पाेस्ट ऑफिस में बाबू थे।

विजय सिंह का बेटा मनाेज सेना में है, जबकि बेटी नेट की तैयारी कर रही है। रामनिवास के दाे बेटी व एक बेटा है। बेटी कविता शादीशुदा है। छाेटी बेटी प्रियंका रीट की तैयारी कर रही है। बेटा कमलेश चंडीगढ़ में पुलिस में है। एक साथ दाेनाें भाइयाें की माैत पर घर में काेहराम मच गया।

ये भी पढ़े :

# अजमेर : लगातार बढ़ती जा रही जांच कराने वालों की संख्या, रविवार को मिले 350 नए मरीज

Tags :
|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2021 lifeberrys.com