IIT के एक्सपर्ट का दावा, देश में तीसरी लहर लाएगा Omicron

By: Pinki Tue, 30 Nov 2021 1:44 PM

IIT के एक्सपर्ट का दावा, देश में तीसरी लहर लाएगा Omicron

कोरोना के नये वैरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) ने पूरी दुनिया में दहशत फैला दी है। विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना का यह स्ट्रेन बहुत ज्यादा संक्रामक है। यह डेल्टा वैरिएंट के मुकाबले 5 गुना ज्यादा संक्रामक है। अगर ये वैरिएंट भारत में आता है तो तीसरी लहर का कारण बन सकता है। IIT कानपुर के प्रोफेसर पद्मश्री मणीन्द्र अग्रवाल का कहना है कि ओमिक्रॉन बेहद संक्रामक है और इसकी वजह से भारत में तीसरी लहर आ सकती है. हालाकि, इसके पहले के मुकाबले कम घातक रहने की उम्मीद है।

प्रोफेसर अग्रवाल ने कहा कि वैक्सीन के मुकाबले नेचुरल इम्यून सिस्टम नये वैरिएंट को मात देने में ज्यादा सक्षम है। हालांकि, उन्होंने बताया कि अगले वे अगले 8 से 10 दिन में स्टडी रिपोर्ट तैयार करके सही आकलन पेश करेंगे। अभी इस पर कुछ भी सटीक कहना मुश्किल है।

प्रो. अग्रवाल ने कहा कि मजबूत इम्यूनिटी पर कोरोना के ओमिक्रॉन वैरिएंट का असर ज्यादा नहीं होगा। इसका असर अफ्रीका में युवाओं पर ज्यादा देखने को मिला है। वहां बुजुर्गों को वैक्सीनेशन का फायदा मिल रहा है, जबकि युवा संक्रमण की गिरफ्त में ज्यादा है। मजबूत इम्युनिटी के चलते बच्चे वायरस से अभी भी बचे हुए हैं।

प्रो. अग्रवाल ने कहा कि देश की 80% आबादी का नेचुरल इम्युनिटी सिस्टम मजबूत हो चुका है। ऐसे में कोरोना के नए वैरिएंट का कुछ खास असर भारत पर देखने को नहीं मिलेगा। इतना जरूर है कि कोरोना की एक लहर भारत में भी आएगी।

उन्होंने कहा कि अगले कुछ दिनों में वह कोरोना के नए वैरिएंट के बारे में पूरे विश्व के आंकड़ों पर अध्ययन करेंगे। उसके बाद अपनी रिपोर्ट सामने लाएंगे। वह रिपोर्ट ज्यादा सटीक रहेगी। फिलहाल उपलब्ध आंकड़ों के आधार पर उनका दावा है कि वायरस से लड़ने में नेचुरल इम्युनिटी सिस्टम ज्यादा कारगर साबित होगा।

ये भी पढ़े :

# ICMR के वरिष्ठ डॉक्टर ने कही डराने वाली बात, बोले - Omicron स्ट्रेन भारत में आ चुका...

# दिल्ली: कोरोना के नए वैरिएंट Omicron के खतरे को देखते हुए केजरीवाल सरकार अलर्ट, बनाया ये बड़ा प्‍लान

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन lifeberrys हिंदी की वेबसाइट पर। जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश से जुड़ीNews in Hindi

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com