अमेरिका में ओमिक्रॉन ने शुरू किया पैर पसारना, न्यूयॉर्क में एक साथ मिले इतने मरीज; मचा हड़कंप

By: Pinki Fri, 03 Dec 2021 09:21 AM

अमेरिका में ओमिक्रॉन ने शुरू किया पैर पसारना, न्यूयॉर्क में एक साथ मिले इतने मरीज; मचा हड़कंप

दुनिया में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron Variant) से हड़कंप मचा है। ओमिक्रॉन के संक्रमित मिलने वाले देशों की संख्या 31 हो गई है। इन देशों में 376 मरीज मिल चुके हैं। अमेरिका में अब तक ओमिक्रॉन के 8 मरीज मिल चुके हैं। कैलिफोर्निया में पहला केस मिलने के बाद ओमिक्रॉन के 5 मामले गुरुवार को न्यूयॉर्क में मिले। अमेरिकी मीडिया ने गवर्नर कैथी होचुल के हवाले से रिपोर्ट में कहा गया है कि न्यूयॉर्क में ओमिक्रॉन कोरोना वायरस वेरिएंट के 5 मामलों की पुष्टि हुई है। इससे पहले कोलोराडो और मिनेसोटा में ओमिक्रॉन वेरिएंट के एक-एक मरीज मिले थे। इसकी पुष्टि बुधवार रात को US सेंटर फॉर डिजिज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (USCDCP) ने कर दी।

USCDCP ने बताया कि जिन मरीजों में ओमिक्रॉन वेरिएंट की पुष्टि हुई है, वो साउथ अफ्रीका से लौटे थे। इनमें से 3 मरीजों ने कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज ले ली थी। हालांकि, इन सभी में अभी ओमिक्रॉन के हल्के लक्षण दिख रहे हैं। जिसके बाद इन्हें क्वारैंटाइन कर दिया गया है।

ग्रीस में मिला ऑमिक्रॉन का पहला केस

कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन ने ग्रीस में भी अपने कदम रख लिए है। दक्षिण अफ्रीका से लौटा शख्स ओमिक्रॉन से संक्रमित पाया गया है। नेशनल पब्लिक हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन के हेड थियोक्लिस जौटिस ने एक ब्रीफिंग में कहा कि वह ग्रीस का ही रहने वाला है और 26 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका से देश लौटा था। एयरपोर्ट पर उसका एक्सप्रेस टेस्ट किया गया था। तब उसकी रिपेार्ट निगेटिव आई थी। हालाकि, अगले दिन उसमें हल्के लक्षण दिखाई दिए। इसके बाद भी एक्सप्रेस टेस्ट किए गए, लेकिन फिर रिपोर्ट निगेटिव आई। 29 नवंबर को रिपोर्ट पॉजिटिव निकली। इसके वेरिफिकेशन के लिए PCR टेस्ट किया गया। गुरुवार को ओमिक्रॉन की पुष्टि हुई।

क्या है यह वेरिएंट?

इस नए वेरिएंट का का औपचारिक नाम B.1.1.529 है। इससे संक्रमित सबसे पहले मरीज की पुष्टि दक्षिण अफ्रीका में हुई थी। इस वेरिएंट में कई म्युटेशन हैं और इनकी वजह से वायरस के काम करने के तरीके में बड़े बदलाव आ सकते हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन की कोविड-19 तकनीकी टीम की प्रमुख मारिया वान करखोव ने बताया कि वेरिएंट का दक्षिण अफ्रीका में पता लगाया गया और इस समय इसके 100 से भी कम पूरे जीनोम सीक्वेंस उपलब्ध हैं।

ये भी पढ़े :

# राजस्थान में भी मंडरा रहा ओमिक्रॉन का खतरा, दक्षिण अफ्रीका से आए एक परिवार के 4 लोग पॉजिटिव, संपर्क में आए रिश्तेदारों में बच्चे सहित 5 संक्रमित

# ग्रीस में मिला ऑमिक्रॉन का पहला केस, दक्षिण अफ्रीका से लौटा था शख्स

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन lifeberrys हिंदी की वेबसाइट पर। जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश से जुड़ीNews in Hindi

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com