सर्दियों के मौसम में की गई ये गलतियां बनती हैं सेहत बिगड़ने का कारण, लाएं इनमें सुधार

By: Neha Tue, 17 Jan 2023 1:53:43

सर्दियों के मौसम में की गई ये गलतियां बनती हैं सेहत बिगड़ने का कारण, लाएं इनमें सुधार

भारत के अधिकतर हिस्सों में सर्दियों का मौसम जारी हैं जहां शीतलहर का कहर लगातार लोगों को परेशान कर रहा हैं। इन दिनों में इंफेक्शन के चलते सर्दी-जुखाम का खतरा बना रहता हैं। सर्दियों का मौसम आते ही हमें अपने स्वास्थ्य और फिटनेस की चिंता सताने लगती हैं। इसलिए सर्दियों में सभी अपनी सेहत का बेहतर ख्याल रखना शुरू कर देते हैं। लेकिन कई बार सर्दियों में लोग ऐसी छोटी-छोटी गलतियां कर बैठते हैं जो अनजाने में कहीं ना कहीं आपकी सेहत के साथ खिलवाड़ करती हैं। शायद यही कारण रहता है कि लोग इस सीजन में ज्यादा बीमार हो जाते हैं। आज हम आपको उन गलतियों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनमें आपको सुधार करने की जरूरत हैं। आइये जानते हैं इनके बारे में...


these mistakes made in the winter season become the cause of health deterioration improve them,Health,healthy living

गर्म पानी से नहाना

ठंड के दिनों में ज्यादातर लोग देर तक गर्म पानी से नहाते है। यह सेहत के लिए बहुत नुकसानदायक है क्योंकि देर तक गर्म पानी से नहाने से शरीर में मौजूद केराटिन नाम के सेल्स डैमेज हो जाते है। इस कारण आपको खुजली, रैशेज और ड्राईनेस जैसी समस्या हो सकती है।

these mistakes made in the winter season become the cause of health deterioration improve them,Health,healthy living

बहुत ज्यादा गर्म कपड़े पहनना

बहुत से लोग ठंड ज्यादा होने पर बहुत ज्यादा गर्म कपड़े पहन लेते हैं। इस कारण कई बार बॉडी ओवरहीटिंग का शिकार हो जाती है। इससे शरीर में बनने वाले व्हाइट ब्लड सेल्स कमजोर हो जाती है। इससे हमारा इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है। यह शरीर को बीमारियों से ठीक तरह से नहीं बचा पाता है।

these mistakes made in the winter season become the cause of health deterioration improve them,Health,healthy living

हाथ और पैरों को ढकना

ग्लोवस और मोजों की मदद से आप अपने हाथ पैर को गर्म तो रख सकते हैं लेकिन ये सही तरीका नही है। हाथ और पैर ही हमारे शरीर के वो अंग है जो हमे बाहर के मौसम के अनुकूल बनाते हैं ,अगर आप इन्हें ढक कर रखेंगे तो इसका मतलब है की आप अपने शरीर को मौसम के अनुकूलित होने से रोक रहे हैं।

these mistakes made in the winter season become the cause of health deterioration improve them,Health,healthy living

कम पानी पीना

गर्मियों की तुलना में हमें सर्दियों में प्यास कम लगती है। लेकिन, अगर देखा जाये तो मौसम का हमारी प्यास से कोई लेना देना नही होता है। ब्रिटिश डाइटिक एसोसिएशन के अनुसार, सर्दियों में भी हमारे शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए कम से कम दो लीटर पानी की जरूरत पडती है। जबकि डिहाइड्रेशन से हमें किडनी और अपच जैसी कई और बीमारियों के होने का खतरा रहता है। सर्दियों में गुनगुना पानी पीना हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

these mistakes made in the winter season become the cause of health deterioration improve them,Health,healthy living

बहुत ज्यादा कॉफी का सेवन

कई बार लोग सर्दियों के मौसम में शरीर को गर्म रखने के लिए बहुत ज्यादा मात्रा में कॉफी पीते है। इसमें भारी मात्रा में कैफीन मौजूद होता है जो शरीर के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। कोशिश करें कि ठंड के मौसम में भी 3 कप से ज्यादा कॉफी न पिएं।

these mistakes made in the winter season become the cause of health deterioration improve them,Health,healthy living

बहुत मात्रा में खाना

सर्दियों के मौसम में आमतौर पर लोग बहुत ज्यादा मात्रा में खाना खाने लगते हैं। लोगों ठंड के कारण घर से बाहर निकलने में परहेज करते हैं। इस कारण शरीर में कैलोरी की मात्रा बढ़ने लगती है और कई बार वेट गेन की समस्या भी हो जाता है। कोशिश करें कि ठंड के मौसम में हाई कैलोरी डाइट के बजाय आप हाई फाइबर डाइट को अपनी रूटीन में शामिल करें।

these mistakes made in the winter season become the cause of health deterioration improve them,Health,healthy living

जरूरत से ज्यादा क्रीम और लोशन लगाना

सर्दियों में हम सभी अपनी स्किन के रूखेपन से परेशान रहते हैं और लोशन की मदद से इससे छुटकारा पाते हैं, लेकिन कभी -कभी इन क्रीम का ज्यादा इस्तेमाल हमारी स्किन को नुकसान भी पहुंचा सकता है और स्किन एलर्जी होने का खतरा बढ़ जाता है।

these mistakes made in the winter season become the cause of health deterioration improve them,Health,healthy living

बेडटाइम रूटीन

इस मौसम में दिन छोटे हो जाते हैं और रात लंबी हो जाती है। ऐसी दिनचर्या से न सिर्फ सिर्काडियन साइकिल डिस्टर्ब होती है, बल्कि शरीर में मेटालोनिन हार्मोन (नींद दिलाने वाला हार्मोन) का प्रोडक्शन भी बढ़ जाता है। इससे झपकियां आने लगती हैं। सुस्ती चढ़ती है। इसलिए स्लीपिंग टाइम में ही अच्छे से नींद पूरी करने की कोशिश करें।

|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2023 lifeberrys.com