High Cholesterol: पैरों में दिखते हैं हाई कोलेस्ट्रॉल के ये संकेत, अनदेखा करना ले सकता है जान

By: Pinki Thu, 12 May 2022 10:55 PM

High Cholesterol:  पैरों में दिखते हैं हाई कोलेस्ट्रॉल के ये संकेत, अनदेखा करना ले सकता है जान

खराब जीवनशैली स्वास्थ्य से जुड़ी कई समस्याओं का कारण बन सकती है। इनमें से एक है हाई कोलेस्ट्रॉल। कोलेस्ट्रॉल लेवल के बढ़ने से हार्ट अटैक, हार्ट फेलियर जैसी बीमारियों का खतरा अधिक बढ़ जाता है। 2018 की एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में कार्डियोवस्कुलर डिजीज से मरने वाले लोगों की दर में 34% की बढ़त हुई थी। मृत्यु की दर 155.7 से बढ़कर 209.19 प्रतिशत हो गई थी। जिन लोगों की मौत हुई थी, उनमें कोलेस्ट्रॉल लेवल अधिक था।

हाई कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने के लिए सिर्फ अच्छी डाइट के साथ-साथ समय-समय पर कोलेस्ट्रॉल की जांच भी करानी होती है ताकि समय रहते कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल किया जा सके और हेल्थ रिस्क को कम कर सकें। हाल ही में एक एक्सपर्ट ने हाई कोलेस्ट्रॉल के कुछ लक्षण बताए हैं जो कि पैरों में नजर आते हैं। इन लक्षणों को अनदेखा करने की गलती बिल्कुल नहीं करनी चाहिए। अगर आपको भी ये लक्षण नजर आते हैं तो तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए।

high cholesterol,cholesterol,cholesterol warnings,cholesterol legs,body,Health,cholesterol level,good cholesterol

कोलेस्ट्रॉल क्या है?

कोलेस्ट्रॉल एक तरीके का फैट है जो ज्यादा बढ़ जाने पर तरह तरह की परेशानियां पैदा करने लगता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञ बताते हैं, कोलेस्ट्रॉल दो प्रकार को होता है। गुड कोलेस्ट्रॉल यानी हाई डेंसिटी लिपोप्रोटीन (HDL) और लो डेंसिटी लिपोप्रोटीन यानी बैड कोलेस्ट्रॉल (LDL)। एलडीएल कोलेस्ट्रॉल शरीर के लिए खतरनाक होता है। गुड कोलेस्ट्रॉल शरीर के स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है जबकि बैड कोलेस्ट्रॉल धमनियों में प्लाक के निर्माण और रुकावट का कारण बन सकता है। ऐसे स्थिति हार्ट अटैक, स्ट्रोक या कार्डियक अरेस्ट के जोखिम को बढ़ा देती है। डॉक्टर द्वारा हाई कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ने पर स्थिति देखकर इलाज किया जाता है।

स्वस्थ व्यक्ति के लिए कोलेस्ट्रॉल की मात्रा

कुल कोलेस्ट्रॉल: 200- 239 mg/dL से कम
HDL: 60 mg/dL से अधिक
LDL: 100 mg/dL से कम

high cholesterol,cholesterol,cholesterol warnings,cholesterol legs,body,Health,cholesterol level,good cholesterol

पैरों में दिखते हैं हाई कोलेस्ट्रॉल के ये लक्षण

ओलियो लुसो में मेडिकल डायरेक्टर डॉक्टर मोनिका वासरमैन के मुताबिक, आमतौर पर हाई कोलेस्ट्रॉल के लक्षण तब तक नजर नहीं आते, जब तक स्थिति खतरनाक स्तर तक न पहुंच जाए। ब्लड टेस्ट कराने से हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल की पहचान की जा सकती है। जब खून में कोलेस्ट्रॉल का लेवल काफी अधिक हो जाता है तो पैरों में कुछ लक्षण दिखने लगते हैं।

डॉक्टर मोनिका आगे कहती हैं, पैर और पैरों के पंजों का सुन्न होना और पीले नाखून होना भी हाई कोलेस्ट्रॉल के संकेत हैं। इनका मतलब होता है कि धमनियों और ब्लड वेसिल्स में खराब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा अधिक हो गई है। अगर किसी को अपने पैरों में ये लक्षण नजर आते हैं तो उन्हें अनदेखा नहीं करना चाहिए क्योंकि ये लक्षण शरीर में कोलेस्ट्रॉल की अधिक मात्रा का संकेत देते हैं।

पैरों में कोलेस्ट्रॉल जमा होने की वजह से ऑक्सीजन युक्त ब्लड की आपूर्ति ठीक से नहीं हो पाती । जिससे पैरों के नाखून और त्वचा का रंग बदलने लगता है। इस स्थिति में त्वचा अक्सर पीली और नसें नीली या बैंगनी रंग की दिखाई देने लगती हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि ब्लड ले जाने वाले पोषक तत्वों और ऑक्सीजन के प्रवाह में कमी के कारण सेल्स को सही पोषण नहीं मिल पाता। इससे त्वचा टाइट हो जाती है और पैर के नाखून मोटे होने के अलावा इनका विकास भी धीमा पड़ जाता है।

इसके अलावा सोते समय पैर में ऐंठन, कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने का सामान्य लक्षण है। यह निचले अंगों की आर्टरीज को नुकसान पहुंचाने के लिए जिम्मेदार है। यह ऐंठन ज्यादातर एड़ी, तर्जनी और पैर की एडिय़ों में महसूस होती है। खासतौर से रात में सोते समय हालत और भी खराब हो जाती है। पैरों को बिस्तर से टिकाना इससे राहत पाने का एक बेहतर विकल्प साबित होता है।

कोलेस्ट्रॉल लेवल के बढ़ने से पैरों के नाखून का रंग ही नहीं बदलता बल्कि पैर के हिस्से के तापमान में भी बदलाव आ सकता है। ऐसे में हो सकता है आपके पैर हरदम ठंडे रहने लगें। यहां तक की गर्मियों में भी अगर आप इन्हें छूएं, तो आपको ये ठंडे ही लगेंगे। ज्यादातर लोगों के अंगूठे को देखकर जमे हुए कोलेस्ट्रॉल का अनुमान आसानी से लगाया जा सकता है।

इसके अलावा नीचे बताए हुए लक्षण भी हाई कोलेस्ट्रॉल के लक्षण हो सकते हैं

- सीने में दर्द
- लोअर बॉडी का ठंडा होना
- बार-बार सांस लेने में तकलीफ
- मतली आना
- थकान महसूस होना
- ब्लड प्रेशर बढ़ना

तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें

डॉक्टर मोनिका के मुताबिक, अगर कोई शरीर में इनमें से कोई भी लक्षण महसूस करता है तो उसे तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। हाई कोलेस्ट्रॉल की संभावना वाले लोगों को रेड मीट, प्रोसेस्ड मीट, वेक्ड फूड, फ्राइड फूड का सेवन करने से बचना चाहिए। इसके साथ ही डाइट में ऑयली मछली (मैकेरल और सैल्मन), ब्राउन राइस, ब्राउन ब्रेड, ब्राउन पास्ता, नट्स, सीड्स, फल और सब्जियों का सेवन करना चाहिए।

high cholesterol,cholesterol,cholesterol warnings,cholesterol legs,body,Health,cholesterol level,good cholesterol

बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल को कैसे कंट्रोल करें?

खान पान सही रखें


कोलेस्ट्रॉल को सही रखने के लिए हेल्दी खान पान बहुत ज्यादा जरुरी है। ऐसे में ज्यादा पैकेज्ड स्नैक्स, डेयरी प्रोडक्ट्स, मांस आदि से दूर रहना चाहिए। इन सारी चीजों के सेवन से कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाता है इसलिए इन चीजों का सेवन कम करें।

high cholesterol,cholesterol,cholesterol warnings,cholesterol legs,body,Health,cholesterol level,good cholesterol

व्यायाम करें

जब कोलेस्ट्रॉल कम हो जाता है तो ऐसे में व्यायाम करें क्योंकि व्यायाम आपके शरीर में अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में मदद करता है। तो ऐसे में जब भी कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाएं तो व्यायाम जरूर करें।

high cholesterol,cholesterol,cholesterol warnings,cholesterol legs,body,Health,cholesterol level,good cholesterol

शराब न पिएं

अधिक शराब पीने से कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाता है जो शरीर के लिए नुकसानदायक है। ऐसे में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर शराब न के बराबर पिएं या तो बिलकुल भी न पिएं।

high cholesterol,cholesterol,cholesterol warnings,cholesterol legs,body,Health,cholesterol level,good cholesterol

मोटापे से बचकर रहें

मोटापा के कारण अक्सर कोलेस्ट्रॉल बढ़ने का खतरा रहता है। ऐसे में 30 या उससे ज्यादा बॉडी मास इंडेक्स होने से परेशानी हो सकती है। कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल रखने के लिए मोटापा कम रखें और फिट रहें।

high cholesterol,cholesterol,cholesterol warnings,cholesterol legs,body,Health,cholesterol level,good cholesterol

धूम्रपान से बचकर रहें

सिगरेट पीने से गुड कोलेस्ट्रॉल कम हो जाता है और बेड कोलेस्ट्रॉल बढ़ने लग जाता है, जिससे हार्ट अटैक की संभावना बढ़ जाती है। अगर कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल रखना है तो सिगरेट पीना एकदम छोड़ दें ताकि आपका शरीर तंदुरुस्त रह पाएं।

high cholesterol,cholesterol,cholesterol warnings,cholesterol legs,body,Health,cholesterol level,good cholesterol

कोलेस्ट्रॉल को कम करने के घरेलू उपाय

लहसुन खाएं


लहसुन को सुबह सुबह या रात में सोने से पहले कच्चा खाएं। दरअसल लहसुन में एलीसिन, मैगनीज और फॉस्फोरस प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं जो कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करता है और साथ ही दिल से जुड़ी समस्याओं के खतरे को भी कम करता है।

high cholesterol,cholesterol,cholesterol warnings,cholesterol legs,body,Health,cholesterol level,good cholesterol

ग्रीन टी पिएं

ग्रीन टी में ऐसे कई तत्त्व होते है जो सेहत के लिए काफी अच्छे होते हैं। जैस लोग ग्रीन टी का सेवन करने से वजन कम करने में मदद मिलती है। हेल्दी खान पान के लिए, मेटाबोलिज्म ठीक करने के लिए और कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए लोग ग्रीन पीते है। आपको बता दें ग्रीन टी में ऐसे तत्त्व होते हैं जो बेड कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करते हैं।

high cholesterol,cholesterol,cholesterol warnings,cholesterol legs,body,Health,cholesterol level,good cholesterol

हल्दी वाला दूध पिएं

हल्दी में कुरकुमिन नामक तत्व होता है जो एथेरोस्क्लेरोसिस होने से बचाता है। एथेरोक्लेरोसिस में व्यक्ति की धमनियां सख्त और छोठी होने लगती है। हल्दी में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण होते हैं जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करते हैं। विशेष रूप से, हल्दी कोरोनरी प्रॉब्लम्स के घतरे को कम करने में सहायता करता है। हल्दी वाला दूध निश्चिंत रूप से पिएं।

high cholesterol,cholesterol,cholesterol warnings,cholesterol legs,body,Health,cholesterol level,good cholesterol

तुलसी

तुलसी में यूजेनॉयल नामक फेनोलिक कम्पाइंड होता है जो कोलेस्ट्रॉल को कम करता है और साथ ही साथ इसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण होते हैं जो शरीर के विषाक्त पदार्थ को बाहर निकालने में मदद करते हैं। यह बल्ड प्रेशर को भी नियंत्रित रखता है।

high cholesterol,cholesterol,cholesterol warnings,cholesterol legs,body,Health,cholesterol level,good cholesterol

अलसी

अलसी के बीज में सबसे ज्यादा पॉवरफुल तत्त्व पाएं जाते हैं जैसे ओमेगा 3 फैटी एसिड और लिनोलेनिक एसिड जो सीधा-सीधा बैड कोलेस्ट्रॉल पर वार करता है और काफी असरदार भी होता है। इसलिए कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए अलसी के बीज का सेवन तो जरूर ही करें।

high cholesterol,cholesterol,cholesterol warnings,cholesterol legs,body,Health,cholesterol level,good cholesterol

अदरक

अदरक में बायोएक्टिव कम्पाउंड होता है जो ब्लड में कोलेस्टॉल के स्तर को नियंत्रित रखता है। यह शरीर में कोरोनरी डिजीज के खतरे को कम करने के साथ कोलेस्टॉल के स्तर को कम करने में मदद कम करता है।

high cholesterol,cholesterol,cholesterol warnings,cholesterol legs,body,Health,cholesterol level,good cholesterol

आंवला

यदि आपके घर पर आंवला है तो आप उसका सेवन कर सकते हैं। आप चाहें तो आंवला के पाउडर को गुनगुने पानी में मिलाकर भी पी सकते हैं। दरअसल आंवला में अनिमो एसिड और एंटी-ऑक्सीडेंट पाएं जाते है, जो बेड कोलेस्ट्रॉल को खत्म करने में शरीर की मदद करते है और कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम करते है। ऐसे में आवला का सेवन पूर्ण रूप से जरूर करें।

ये भी पढ़े :

# बाजार की बजाय बच्चों को खिलाएं घर पर बनाकर सेरेलक, मिलेगा भरपूर पोषण

# घर पर बनाएं 3 तरह की टेस्‍टी लस्सी, भीषण गर्मी से मिलेगी राहत #Recipe

# ब्‍लीच के बाद चेहरे पर होती है जलन, इन घरेलू नुस्खों की मदद से मिलेगा आराम

# आंखों के काले घेरे, थकावट और ड्राईनेस से मिलेगा छुटकारा, कूलिंग जेल आई मास्‍क का ऐसे करे इस्तेमाल

# चेहरे की खोई रौनक वापस लाएगा आलू, चेहरे पर इस तरह करे इस्तेमाल

|
|

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2022 lifeberrys.com