Advertisement

  • यहां बच्चों को स्कूल जाने के लिए पड़ती है पासपोर्ट की जरूरत, जानें इसके पीछे की वजह

यहां बच्चों को स्कूल जाने के लिए पड़ती है पासपोर्ट की जरूरत, जानें इसके पीछे की वजह

By: Pinki Sat, 09 Feb 2019 3:37 PM

यहां बच्चों को स्कूल जाने के लिए पड़ती है पासपोर्ट की जरूरत, जानें इसके पीछे की वजह

हर बच्चे की चाहत होती है कि वह शिक्षा प्राप्त करें। शिक्षा को हर बच्चे का अधिकार माना जाता है और हर देश को चाहिए कि बच्चों की शिक्षा के लिए उचित इंतजाम किये जाए। आज हम आपको अमेरिका की एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे है जहाँ बच्चों को स्कूल जाने के लिए भी पासपोर्ट की जरूरत पड़ती है। जी हाँ, सुनने में यह अजीब लगता है लेकिन यह बिल्कुल सच है। आइये हम बताते है आपको इसकी पूरी जानकारी।

अमेरिका में एक स्कूल है कोलंबस एलीमेंट्री स्कूल, जहां हर रोज कई बच्चे इंटरनेशनल बॉर्डर पार करके पढ़ने आते हैं। यहां पासपोर्ट के बिना बच्चे का पढ़ना काफी मुश्किल है। इस स्कूल में पढ़ने वाले 600 बच्चों में से 420 बच्चे अंतरराष्ट्रीय सीमा पार करके आते हैं। वे रोजाना बॉर्डर पार करते हैं ताकि अपने क्लासरूम तक पहुंच सकें। बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, मेक्सिको के प्योर्तो पालोमस में बहुत से ऐसे बच्चे हैं, जिनका जन्म अमेरिका में हुआ है, लेकिन चूंकि यह जगह मेक्सिको में पड़ती है, इसलिए बच्चों को या यहां रहने वाले किसी को भी अमेरिका आने के लिए पासपोर्ट दिखानी पड़ती है।

# मुम्बई : 1.7 करोड़ की उल्टी बेचने निकला था शख्स, पुलिस ने किया गिरफ्तार

# खूबसूरती की वजह से कटा महिला का चालान, घटना बेहद चौकाने वाली

पालोमस में रहने वाले बच्चे हर रोज स्कूल जाने से पहले अपना पासपोर्ट अपने साथ रख लेते हैं। जब वो अमेरिका की सीमा पर पहुंच जाते हैं तो कस्टम क्लियरेंस के लिए अपना पासपोर्ट वहां खड़े अमेरिकी गार्ड को देते हैं। क्लियरेंस मिलने के बाद बच्चे अमेरिकी सीमा में दाखिल हो जाते हैं। स्कूल की बस सीमा के पास स्थित बस स्टॉप तक आती है और फिर बच्चे उसमें चढ़कर अपने स्कूल चले जाते हैं। इनमें से कुछ बच्चे ऐसे भी हैं, जो बस में चढ़ने के बाद अपना पासपोर्ट अपने पैरेंट्स को दे देते हैं, ताकि वो कहीं खो न जाए।

# महिला ने इस गलत काम से महज 17 दिनों में कमा लिए 35 लाख रुपये, पति को खबर लगते ही सबके सामने आई सच्चाई

# अंतिम संस्कार की ये परम्पराएं रूह कंपा देने वाली, कर देती है सोचने पर मजबूर

आपको बता दें कि मेक्सिको के स्कूलों में स्पेनिश में पढ़ाई होती है, जबकि अमेरिकी स्कूलों में अंग्रेजी में पढ़ाई होती है। पालोमस के रहने वाले लोगों का कहना है कि वह बॉर्डर पार कराकर अपने बच्चों को इसीलिए स्कूल भेजते हैं, ताकि उनकी पढ़ाई अच्छी हो सके, वह अंग्रेजी सीख सकें। मेक्सिको के लोगों का मानना है कि अंग्रेजी की पढ़ाई में ही भविष्य है।

# आम के पत्तों से बनी शराब, जो डायबिटीज के साथ-साथ आपके फैट भी घटाएगी

# अंधविश्वास : अस्पताल में तंत्र-मंत्र, हाथों में तलवार लेकर आत्मा लेने पहुंचे परिजन

Tags :

Advertisement