Advertisement

  • कांग्रेस के 55 साल के कारण भारत 2024 तक 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनेगा : प्रणब मुखर्जी

कांग्रेस के 55 साल के कारण भारत 2024 तक 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनेगा : प्रणब मुखर्जी

By: Pinki Fri, 19 July 2019 10:44 AM

कांग्रेस के 55 साल के कारण भारत 2024 तक 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनेगा : प्रणब मुखर्जी

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने गुरुवार को कहा कि भारत 2024 तक 5 ट्रिलियन डॉलर (करीब 343 लाख करोड़ रुपए) की अर्थव्यवस्था बन जाएगा। उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों की मजबूत नीव के कारण ऐसा होगा। पूर्व राष्ट्रपति ने कहा कि आजादी के बाद से भारतीयों के प्रयासों के कारण कई आर्थिक और सामाजिक क्षेत्र अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होने कहा, 'वित्त मंत्री कह सकते हैं कि भारत 2024 में 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा क्योंकि इसकी मजबूत नींव पहले रखी जा चुकी है। ब्रिटिशों के जरिए नहीं बल्कि स्वतंत्रता के बाद से भारतीयों के प्रयास से ऐसा हुआ है।' इसी के साथ उन्होंने कांग्रेस के 55 साल की आलोचनाओं को भी गलत बताया।

# मात्र 300 रुपये से कम में बिक रहा है आपका फेसबुक लॉगिन और पासवर्ड, ऐसे करें अपने अकाउंट को सुरक्षित

# मोदी सरकार दे रही है सुनहरा मौका, इस तरह घर बैठे जीते 1 लाख रुपये

उन्होंने कहा वित मंत्री कह सकती हैं कि भारत अगले पांच साल में 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था वाला देश बन जाएगा। लेकिन इसके लिए मजबूत आधार ब्रिटिशों ने नहीं बल्कि भारतीयों ने तैयार किया। हम जीरो से भारत की अर्थव्यवस्था को 1.8 ट्रिलियन डॉलर तक लेकर आए। जो लोग कांग्रेस के 50-55 साल के शासन की आलोचना करते हैं, उन्हें देखना चाहिए कि देश आजादी के वक्त क्या था और इसके बाद हमने कितनी दूरी तय की।

समृद्ध भारत फाउंडेशन के कार्यक्रम में उन्होंने कहा, 'पंचवर्षीय योजनाओं ने अर्थव्यवस्था, स्वास्थ्य और शिक्षा के लिए दृष्टिकोण का निर्माण किया। इन योजनाओं के आधार पर निवेश किया जाता था।'

# पब्लिक प्रोविडेंट फंड के जरिए कर सकते हैं टैक्स सेविंग, जानिए पीपीएफ (PPF) से जुड़ी पूरी जानकारी

# LIC ने लांच किया 'माइक्रो बचत इंश्योरेंस प्लान', जाने क्या है इसमें खास

उन्होने कहा, 'मैं इस बात से सहमत हूं कि गैर-कांग्रेसी सरकारों ने भी देश के विकास में अहम भूमिका निभाई। मंगलयान इसलिए संभव हो सका क्योंकि जादू से नहीं बल्कि निरंतर प्रयासों से जमीनी स्तर पर काम किया जाता है। भारत को भौतिक रूप से कई बार विजय मिली है लेकिन आध्यात्मिक रूप से नहीं। मुझे विश्वास है कि भारत हमेशा इससे बाहर रहा है।'

# 4 लाख 59 हजार रुपए में नीलाम हुआ महात्मा गांधी द्वारा लिखा गया बिना तिथि वाला एक पत्र

# कौन था पुलवामा एनकाउंटर में मारा गया आतंकी अब्दुल रशीद गाजी!

Tags :
|

Advertisement