Advertisement

  • EVM पर उठे सभी सवालों को नीतीश कुमार ने बताया फर्ज़ी , कहा - हारने वाले दल यही कहते हैं, जीत NDA की ही होगी

EVM पर उठे सभी सवालों को नीतीश कुमार ने बताया फर्ज़ी , कहा - हारने वाले दल यही कहते हैं, जीत NDA की ही होगी

By: Pinki Tue, 21 May 2019 2:49 PM

EVM पर उठे सभी सवालों को नीतीश कुमार ने बताया फर्ज़ी , कहा - हारने वाले दल यही कहते हैं, जीत NDA की ही होगी

लोकसभा चुनाव के नतीजों से पहले ईवीएम की विश्वसनीयता को लेकर विपक्षी दल एक बार फिर सवाल उठा रहे हैं। इसी बीच बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने एक बार फिर से लोकसभा चुनाव में एनडीए की जीत का दावा किया है। एग्जिट पोल के नतीजों पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए नीतीश ने कहा कि देश भर में हुए एग्जिट पोल का कोई भी परिणाम आए, लेकिन जीत NDA की होगी। नीतीश कुमार ने ईवीएम का बचाव करते हुए कहा है कि ईवीएम पर सभी सवाल फर्ज़ी (बोगस) हैं।

नीतीश कुमार ने कहा, "ईवीएम पर सारे सवाल फर्ज़ी (बोगस) हैं। इवीएम के आने से ही चुनावों में पारदर्शिता आई है। इसकी तकनीक पर कई बार सवाल खड़े किए गए हैं और चुनाव आयोग से उनके जवाब भी मिले हैं। जो दल हारने लगते हैं वो कहते ही हैं कि चुनाव में खामी है। ये नई बात नहीं है।"

# आतंकी मसूद अजहर : एक प्रिंसिपल का बेटा कैसे बन बैठा इंसानियत के लिए बड़ा खतरा!

# तीन साल का बच्चा 30 फीट गहरे बोरबेल में गिरा, सिर्फ 45 मिनट में किसान ने बाहर निकाला

तेजस्वी यादव को वोट डालना चाहिए था : नितीश कुमार

तेजस्वी यादव के वोट नहीं देने पर नीतीश ने कहा कि उनको वोट डालना चाहिए था। उन्होंने पूछा कि जब आपको वोट ही नहीं डालना था तो आपने चुनाव प्रचार क्‍यों किया था, संविधान के साथ क्या इंसाफ़ किया? नीतीश कुमार ने तेजस्‍वी यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि आपने संविधान की मर्यादा नहीं निभाई ऐसे में आपको इस विषय पर सफ़ाई देनी चाहिए। नीतीश ने बंगाल में जारी हिंसा पर भी अपनी प्रतिक्रिया दी और कहा कि बंगाल से हिंसा की जो ख़बरें आ रही हैं, उसे देख कर लगता है कि वहां विचित्र हालात हैं। बात बंगाल की हो या फिर देश के किसी भी हिस्से की हर किसी को वोट डालने का हक़ है।

स्ट्रॉन्ग रूम में ईवीएम से छेड़छाड़


आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के बाद ईवीएम को स्ट्रॉन्ग रूम में रखा जाता है। ऐसे में विपक्षी दलों के नेता स्ट्रॉन्ग रूम की सुरक्षा को लेकर भी सवाल खड़े कर रहे हैं। पिछले एक-दो दिनों में कई नेताओं स्ट्रॉन्ग रूम में ईवीएम से छेड़छाड़ का दावा करते हुए इसकी शिकायत की है। साथ ही अपने कार्यकर्ताओं से स्ट्रॉन्ग रूम की निगरानी करने की भी अपील की है। विपक्षी नेताओं और कार्यकर्ताओं ने गाज़ीपुर, चंदौली कन्नौज और हाजीपुर जैसी जगहों पर ईवीएम रखने के लिए बनाए गए स्ट्रॉन्ग रूम पर गड़बड़ी को लेकर जमकर हंगामा किया।

प्रियंका गांधी की कार्यकर्ताओं से अपील

कांग्रेस अध्यक्ष प्रियंका गांधी ने ईवीएम मशीन पर निगरानी रखने के लिए अपने कार्यकर्ताओं से अपील की है। सोमवार को एक ऑडियो जारी कर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने सभी कार्यकर्ताओं से कहा, 'आपलोग अफ़वाहों और एग्जिट पोल से हिम्मत मत हारिये। यह अफवाहें आपका हौसला तोड़ने के लिये फैलाई जा रही है। इस बीच आपकी सावधानी और भी महत्वपूर्ण बन जाती है। स्ट्रांग रूम और मतगणना केंद्रों पर डटे रहिए और चौकन्ने रहिए।' उन्होंने कहा, 'हमें पूरी उम्मीद है कि हमारी और आपकी मेहनत का फल मिलेगा।' कांग्रेस नेता पीएल पुनिया ने भी कहा कि सरकार ने एग्जिट पोल के आंकड़े पहले ही मंगा लिये थे। इन्होंने ईवीएम में गड़बड़ी का पूरा इंतजाम कर रखा है।

# मोदी सरकार के लिए करें ये काम और घर बैठे मिनटों में कमाये 25 हजार रुपये, जाने कैसे

# LIC की शानदार पालिसी, नाम है 'कन्‍यादान योजना', 121 रु से शुरू करें बेटी के लिए फ्यूचर इन्वेस्टमेंट

प्रियंका गांधी के अलावा राबड़ी देवी, तेजस्वी यादव, मनीष सिसोदिया समेत कई नेताओं ने भी स्ट्रॉन्ग रूम (जहां वोटिंग के बाद ईवीएम रखे गए हैं) पर निगरानी रखने के लिए कार्यकर्ताओं से अपील की है।

वहीं चुनाव आयोग ने मंगलवार को विपक्षी दलों के दावों को खारिज करते हुए कहा कि ''गाजीपुर, चंदौली, डुमरियागंज और झांसी में ईवीएम को लेकर जो आरोप लगाए गए वो सही नहीं हैं। जिन ईवीएम का मतदान में इस्तेमाल हुआ है वो पूरी तरह सुरक्षित हैं।''

बीजेपी ने भी इसे विपक्ष की हताशा करार दिया। बीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन ने एबीपी न्यूज़ से कहा, ''ये हार तय देखकर ऐसा कर रहे हैं। मोदी को गाली देते देते अब चुनाव आयोग और ईवीएम को गाली देने लगे हैं। सुप्रीम कोर्ट ने तो अपना फ़ैसला दे दिया है। प्रणब मुखर्जी ने कहा है कि चुनाव आयोग ने बहुत अच्छा काम किया है। कांग्रेस और बाकी पार्टियों को कम से कम प्रणब दा की बात सुननी चाहिए।''

आयोग ने डुमरियागंज के मामले पर कहा है कि ईवीएम सुरक्षित हैं। आरोप बेबुनियाद हैं। उन्हें डीएम और एसपी ने समझा दिया। मामला सुलझ गया है। वहीं झांसी के बारे में कहा कि ईवीएम राजनीतिक दलों के उम्मीदवारों की उपस्थिति में उचित सुरक्षा और प्रोटोकॉल के तहत हैं। कोई समस्या नहीं।

इसके साथ ही साथ ही चुनाव आयोग ने कहा, 'ईवीएम और वीवीपैट को उम्मीदवारों के सामने ठीक से सील किया गया और उनकी वीडियोग्राफी भी हुई। सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। वहां पर केंद्रीय सुरक्षाबल के जवान तैनात हैं। उम्मीदवारों को स्ट्रॉंगरूम की एक बार निगरानी रखने की अनुमति दी गई है और उनके एक प्रतिनिधि को हर वक्त वहां रहने की मंजूरी है। आरोप बेबुनियाद हैं।

# इन आसान तरीको को अपनाकर जोड़े अपने आधार को पैन कार्ड के साथ...

# LIC ने लांच किया 'माइक्रो बचत इंश्योरेंस प्लान', जाने क्या है इसमें खास

राजनीतिक दलों का दावा

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने ट्वीट कर कहा कि देशभर के स्ट्रॉन्ग रूम के आसपास ईवीएम की बरामदगी हो रही है। ट्रकों और निजी वाहनों में ईवीएम पकड़ी जा रही है। ये कहां से आ रही है, कहां जा रही है? कब, क्यों, कौन और किसलिए इन्हें ले जा रहा है? क्या यह पूर्व निर्धारित प्रक्रिया का हिस्सा है? चुनाव आयोग को अतिशीघ्र स्पष्ट करना चाहिए।''

आरजेडी ने कहा ''अभी-अभी बिहार के सारण और महाराजगंज लोकसभा क्षेत्र स्ट्रॉन्ग रूम के आस-पास मंडरा रही EVM से भरी एक गाड़ी जो शायद अंदर घुसने के फ़िराक़ में थी उसे राजद-कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पकड़ा। साथ मे सदर BDO भी थे जिनके पास कोई जबाब नहीं है। सवाल उठना लाजिमी है? छपरा प्रशासन का कैसा खेल।''

तेजस्वी यादव ने कहा, ''एग्ज़िट से पहले बाज़ार की अपनी मजबूरियां एग्जिट पोल के नाम से बेची जाती हैं। संघ समर्थित संस्थानों और संसाधनों की मदद से वंचितो के मनोविज्ञान से खेलना इनका पुराना हथियार है। इसे ख़ारिज करें। हम जीत रहे है। स्ट्रॉन्ग रूम पर कड़ी निगरानी रखे। गंदे खेल के माहिर लोगों की चाल कामयाब ना हो।''

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा, ''झांसी, मेरठ, ग़ाज़ीपुर, चंदौली, सारण, हर जगह मतगणना केंद्रों पर मशीने बदली जा रही है।लेकिन चुनाव आयोग और तथाकथित-मीडिया मोदी के सामने नतमस्तक, आंखों पर पट्टी बांधे घुटनों के बल बैठा है।। जनता ने मोदी के ख़िलाफ़ वोट दिया है उसे मीडिया और चुनाव आयोग मिलकर बदल रहे हैं।''

# मोदी सरकार दे रही है सुनहरा मौका, इस तरह घर बैठे जीते 1 लाख रुपये

# पब्लिक प्रोविडेंट फंड के जरिए कर सकते हैं टैक्स सेविंग, जानिए पीपीएफ (PPF) से जुड़ी पूरी जानकारी

Tags :
|
|
|
|

Advertisement