Advertisement

  • होम
  • न्यूज़
  • बंगाल में हिंसा : ममता की धमकी - हम पर लगाए आरोप साबित करें, वरना मोदी को जेल में डाल दूंगी

बंगाल में हिंसा : ममता की धमकी - हम पर लगाए आरोप साबित करें, वरना मोदी को जेल में डाल दूंगी

By: Pinki Thu, 16 May 2019 4:48 PM

बंगाल में हिंसा : ममता की धमकी - हम पर लगाए आरोप साबित करें, वरना मोदी को जेल में डाल दूंगी

अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा पर तृणमूल कांग्रेस पर भाजपा में आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है। अमित शाह की रैली के दोरान हुई हिंसा पर भी पीएम मोदी ने कहा टीएमसी के गुंडों की दादागिरी परसों रात भी देखने को मिली। भाई अमित शाह की रैली के दौरान टीएमसी के गुंडों ने इश्वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति को तोड़ दिया। ऐसे करने वालों को कठोर से कठोर सज़ा दी जानी चाहिए। उनकी सरकार जहां पर इश्वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति तोड़ी गई है, वहीं पर पंचधातु की एक भव्य मूर्ति स्थापित करेगी और टीएमसी एक गुंडों को जवाब देगी। मोदी के बयान पर पलटवार करते हुए बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा- बंगाल के पास मूर्ति बनवाने के लिए पैसा है। क्या मोदी 200 साल पुरानी धरोहर को लौटा सकते हैं। ममता ने कहा कि मोदी ने हम पर जो आरोप लगवाएं हैं, उन्हें साबित करें। वरना, मैं उन्हें जेल में डाल दूंगी। मथुरापुर में चुनावी रैली में ममता बनर्जी ने कहा कल रात हमें पता चला कि भाजपा ने चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज की थी, जिससे हम नरेंद्र मोदी की बैठक के बाद कोई बैठक नहीं कर सकें। चुनाव आयोग भाजपा का भाई है। चुनाव आयोग को भाजपा चला रही है। यह एक असंवैधानिक फैसला है। जो हिंसा हुई थी, उसकी वजह अमित शाह थे। चुनाव आयोग ने उन्हें कारण बताओ नोटिस क्यों नहीं भेजा, उन्हें क्यों नहीं प्रतिबंधित किया? मुझे बुरा लग रहा है, लेकिन मेरे पास इसके अलावा कहने को कुछ नहीं है। मैं जेल जाने के लिए तैयार हूं। मैं सच कहने से डरती नहीं हूं।

‘मोदी हिटलर से भी खतरनाक’

ममता ने एक रैली में कहा कि मोदी से सावधान रहें। वे हिटलर से भी ज्यादा खतरनाक हैं। अगर वे दोबारा सत्ता में आ गए तो देश को बेच देंगे। भाजपा बंगाल के वोटरों को लुभाने के लिए यहां हवाला के जरिए पैसा ला रही है। उन्होंने राज्य की मशीनरी को हाईजैक कर लिया है। कोलकाता में ही वोटरों को करोड़ों रुपए बांटे गए। हर वोटर को वे 5 हजार रुपए दे रहे हैं। ये चुनाव है या मजाक है।

देश में मोदी का कोड ऑफ मिसकंडक्ट लागू- कांग्रेस

बंगाल में चुनाव प्रचार एक दिन पहले खत्म किए जाने पर कांग्रेस ने कहा कि यह फैसला आयोग की कमजोरी दिखाता है। देश में मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट (आदर्श आचार संहिता) की जगह मोदी कोड ऑफ मिसकंडक्ट लागू है। क्या आयोग सिर्फ मोदी-शाह के अंतर्गत एक मोहरा बनकर रह गया है।

शाह ने कहा था- मुझ पर तीन हमले हुए, तृणमूल ने कहा- बंगाल में बाहर से गुंडे आए

बुधवार को रोड शो के दौरान हुई हिंसा को लेकर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर तृणमूल कांग्रेस पर जमकर हमला बोला है। ममता सरकार पर हिंसा करने के आरोप लगाते हुए अमित शाह ने कहा हम शांति से रोड शो निकाल रहे थे, लेकिन तीन हमले हुए। हमारे पास खबर थी कि यूनिवर्सिटी से कुछ लोग आएंगे और पथराव करेंगे। अगर सीआरपीएफ न होती तो मेरा बचकर आना नामुमकिन था। अमित शाह ने कहा है कि अब तक चुनाव के 6 चरण समाप्त हो चुके हैं, इन 6 के 6 चरणों में सिवाय पश्चिम बंगाल के अलावा कहीं भी हिंसा नहीं हुई। इसका मतलब साफ है कि हिंसा का कारण सिर्फ ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस है। शाह ने कहा कि ईश्वर चंद्र विद्यासागर की मूर्ति बीजेपी कार्यकर्ताओं ने नहीं बल्कि टीएमसी कार्यकर्ताओं ने तोड़ी थी। अमित शाह ने कहा अगर सीआरपीएफ न होती तो मेरा बचकर आना नामुमकिन था। दीदी से अपील करता हूं कि अगर कुछ छिपाना नहीं है, तो किसी निष्पक्ष एजेंसी से जांच कराएं। इसके बाद तृणमूल सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा- शाह बंगाल में बाहर से गुंडे लेकर आए थे। छात्रों ने शाह को पोस्टर और काले झंडे दिखाए थे। यह लोकतांत्रिक विरोध था। भाजपा वालों ने ही पत्थर फेंके। इसके बाद ममता बनर्जी ने देर रात पैदल मार्च निकाला और कहा कि बंगाल में ठीक उसी तरह हिंसा हुई, जैसी कि अयोध्या में विवादित ढांचा गिराए जाते वक्त हुई थी।

Tags :
|
|
|

Advertisement

Error opening cache file