Advertisement

  • नवजात बच्चा भी हो सकता हैं हार्ट अटैक का शिकार, इन 4 लक्षणों से लगाए इसका पता

नवजात बच्चा भी हो सकता हैं हार्ट अटैक का शिकार, इन 4 लक्षणों से लगाए इसका पता

By: Ankur Tue, 13 Aug 2019 11:54 PM

नवजात बच्चा भी हो सकता हैं हार्ट अटैक का शिकार, इन 4 लक्षणों से लगाए इसका पता

वर्तमान समय में हार्ट अटैक एक गंभीर बिमारी बनकर उभरी हैं जो युवाओं को भी अपना शिकार बना रही हैं। हर तीसरे सेकंड में हार्ट अटैक से एक मौत होती हैं जिसमें से 50 फीसदी लोग 50 साल से अधिक उम्र वाले और 25 फीसदी 40 की उम्र वाले होते हैं। अगर आप यह सोच रहे हैं कि नवजात बच्चे को हार्ट अटैक की समस्या नहीं होती हैं तो आप गलत हैं। नवजात बच्चों को भी हार्ट अटैक की समस्या होती हैं और आज हम आपके लिए इसके लक्षणों की जानकारी लेकर आए हैं ताकि समय रहते इसका पता लगाया जा सकें।

स्तनपान न करना

शारीरिक रूप से सेहतमंद शिशु स्तनपान करने के अलावा दिन में 15 से 16 घंटे तक सोते हैं। लेकिन जन्मजात हृदय रोग से पीड़ित शिशु स्तनपान नहीं करते हैं। जिसकी वजह से उसका वजन तेजी से घटने लगता है।

heart attack,heart attack symptoms,foods responsible for heart attack,Health,health tips in hindi ,हार्ट अटैक

शरीर में नीलापन

शिशु में हृदय संबंधी गंभीर समस्या होने पर उसके शरीर में नीलापन दिखाई दे सकता है। दिल से जुड़े विकार की वजह से शरीर में मौजूद अस्वच्छ नीला खून, साफ लाल खून में मिलकर पूरे शरीर में प्रवाहित होने लगता है। ऐसी स्थिति में शरीर के अंग जैसे मुंह, कान, नाखूनों और होठों में नीलपन दिखाई देने लगता है। ऐसी स्थिति में तुरंत चिकित्सक से संपर्क करें।

ज्यादा पसीना आना

हृदय रोग से पीड़ित बच्चों को मां का दूध पीते समय बहुत पसीना आता है। इसके अलावा इस समय उसे सांस लेने में तकलीफ भी महसूस हो सकती है। ऐसी अवस्था में तुरंत बच्चे के चिकित्सक से संपर्क करें।

फेफड़ों में बार-बार इंफेक्शन

जन्मजात हृदय रोग से पीड़ित बच्चों में बार-बार फेफड़ों के संक्रमण होने का खतरा बना रहता है। ऐसे में बच्चे को बार-बार होने वाली खांसी, सांस में घरघराहट होने पर तुरंत उसके चिकित्सक से संपर्क करें।

Tags :
|

Advertisement