कल मनाया जाना हैं तुलसी विवाह का पर्व, इन उपायों से बनाए वैवाहिक जीवन को सुखमय

By: Ankur Thu, 03 Nov 2022 07:53:52

कल मनाया जाना हैं तुलसी विवाह का पर्व, इन उपायों से बनाए वैवाहिक जीवन को सुखमय

हर साल कार्तिक माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी के दिन तुलसी विवाह का पर्व मनाया जाता है जो कि इस बार 04 नवंबर, शुक्रवार को पड़ रहा हैं। तुलसी विवाह के दिन तुलसी जी और भगवान शालीग्राम के विवाह का आयोजन किया जाता है। धर्म शास्त्रों के अनुसार, तुलसी विवाह के दिन से ही शादी के लिए शुभ मुहूर्त शुरू हो जाते हैं। हांलाकि इस बार तुलसी विवाह के दिन शादी के लिए कोई भी शुभ मुहूर्त नहीं बन रहा है। लेकिन शास्त्रों में तुलसी विवाह के दिन से जुड़े कुछ उपाय बताए गए हैं जिन्हें करने से वैवाहिक जीवन में कुछ परेशानियां चल रही हैं, तो उन्हें दूर किया जा सकता हैं। तो आइये जानते हैं वैवाहिक जीवन को सुखमय बनाने वाले इन उपायों के बारे में...

astrology tips,astrology tips in hindi,tulsi vivah,positivity in life

लगाए तुलसी का पौधा

तुलसी विवाह के लिए घर में लाना श्रेष्ठ माना गया है। इस दिन घर में तुलसी रोपण करने के बाद उनसे सालभर हरी-भरी रहने की प्रार्थना करें। इसके साथ ही, इस बात का भी ध्यान रखें कि तुलसी के आसपास कोई कांटेदार पौधा या कैक्ट्स नहीं होना चाहिए। साथ ही, झाड़ू या डस्टबिन भी तुलसी के पास नहीं होना चाहिए।

तुलसी जी को चढ़ाएं सुहाग सामग्री


पति-पत्नी के बीच चल रहे मनमुटाव को दूर करने के लिए तुलसी विवाह के दिन तुलसी जी और शालीग्राम का विवाह कराएं। पूजा में तुलसी जी को लाल चुनरी और सुहाग का सामान जैसे सिंदूर, बिंदी, चूड़ी, लाल वस्त्र, आलता आदि भी चढ़ाएं। सुहाग के इन सामान को पूजा के बाद किसी सुहागिन स्त्री को दान दे दें। इस उपाय को करने से दांपत्य जीवन सुखमय होता है।

astrology tips,astrology tips in hindi,tulsi vivah,positivity in life

तुलसी के पानी का छिडकाव

तुलसी के पत्तों को साफ पानी में डालें और कुछ देर रखने के बाद उस जल का पुरे घर में छिड़काव कर दें। इस उपाय से घर पर मौजूद सभी नकारात्मक ऊर्जाएं खत्म होती है और पति-पत्नी के रिश्ते में चल रही परेशानियां दूर होती है। इस बात का विशेष ध्यान रखें कि आप तुलसी के पत्ते न तो एकादशी और न ही द्वादशी के दिन तोड़ें। बल्कि इस उपाय के लिए 2-3 दिन पहले ही तुलसी के पत्ते इकठ्ठा कर लें या अपने आप टूट कर गिरे पत्तों का इस्तेमाल करें।

देसी घी का दीपक

इस दिन तुलसी पर शुद्ध देसी घी का दीपक जलाएं और ऊं नमो भगवते वासुदेवाय नम:’ मंत्र का 11, 21, 51 या 101 बार जाप करें। इससे मां तुलसी प्रसन्न होती हैं और घर में हमेशा हरी-भरी रहती हैं। साथ ही, उनकी कृपा से जातकों के जीवन में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

साथ मिलकर करें पूजा


तुलसी विवाह के दिन यदि पति-पत्नी एक साथ मिकर पूजा-पाठ करते हैं तो इससे भी लाभ होता है। इससे आपसी प्रेम बढ़ता है और वैवाहिक जीवन की सभी परेशानियां दूर हो जाती है। पूजा में तुलसी मंगलाष्टक का पाठ करना भी लाभकारी होता है।

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2023 lifeberrys.com