Advertisement

  • अब तक का सबसे बड़ा नरसंहार, 900 से ज्यादा लोगों ने की एकसाथ आत्महत्या, कारण बना अंधविश्वाश

अब तक का सबसे बड़ा नरसंहार, 900 से ज्यादा लोगों ने की एकसाथ आत्महत्या, कारण बना अंधविश्वाश

By: Ankur Fri, 19 July 2019 08:09 AM

अब तक का सबसे बड़ा नरसंहार, 900 से ज्यादा लोगों ने की एकसाथ आत्महत्या, कारण बना अंधविश्वाश

कुछ समय पहले दिल्ली में एक दिल दहला देने वाली घटना हुई थी जिसमें एक ही घर के 11 लोगों ने एक साथ आत्महत्या कर ली थी। इस घटना ने सभी को हैरानी में डाल दिया था। लेकिन आज हम आपको जिस अनोखी घटना के बारे में बताने जा रहे हैं वह इससे भी भयानक और क्रूर हैं जिसमें अंधविश्वास की वजह से 900 से ज्यादा लोगों ने एकसाथ आत्महत्या कर ली थी। इससे जुड़ी पूरी जानकारी आपको सोचने पर मजबूर कर देगी। तो आइये जाने हैं अमेरिका के पास स्थित गुयाना के जोंसटाउन में घटी इस घटना के बारे में।

इस भयानक घटना को अब तक की सबसे बड़ी आत्महत्या की घटनाओं में से एक माना जाता है, जिसमें एक साथ 900 से ज्यादा लोगों ने जहर पीकर आत्महत्या कर ली थी और जिसने जहर पीने से इनकार किया, उन्हें जबरन पिला दिया गया था।

# अंतिम संस्कार की ये परम्पराएं रूह कंपा देने वाली, कर देती है सोचने पर मजबूर

# खूबसूरती की वजह से कटा महिला का चालान, घटना बेहद चौकाने वाली

weird news,weird story,900 people commit suicides,suicides due to superstitious,jonestown mass suicide ,अनोखी खबर, अनोखी कहानी, 900 लोगों की एकसाथ आत्महत्या, अंधविश्वाश के कारण आत्महत्या, अमेरिका के जोंसटाउन की घटना

यह घटना 40 साल पहले की है। 18 नवंबर, 1978 को यह दिल दहला देने वाली घटना घटी थी, जिसके बारे में सुनकर हर कोई हैरत में पड़ गया था। दरअसल, इस घटना के पीछे जिम जोंस नामक एक धर्मगुरु का हाथ था। वो खुद को भगवान का अवतार बताता था। चूंकि जिम जोंस कम्युनिष्ट विचारधारा का था और उसके विचार अमेरिकी सरकार से अलग थे। इसलिए वो अपने अनुयायियों के साथ शहर से दूर गुयाना के जंगलों में चला गया और वहीं पर उसने एक छोटा सा गांव भी बसा दिया। लेकिन कुछ दिनों के बाद ही उसकी असलियत लोगों के बीच आने लगी।

दरअसल, जिम जोंस अपने अनुयायियों (चाहे वो महिला हो या पुरुष) से दिनभर काम कराता था और रात में जब वो थक-हारकर सोने के लिए जाते तो वो उन्हें सोने भी नहीं देता था और अपना भाषण शुरू कर देता था। इस दौरान उसके सिपाही घर-घर जाकर देखते थे कि कहीं कोई सो तो नहीं रहा। अगर कोई भी सोता हुआ पाया जाता था वो उन्हें कड़ी सजा देता था। यहां तक कि वो लोगों को गांव से बाहर भी जाने देता था। पुरुष और महिलाएं जब काम करती थीं, तो उनके बच्चों को एक कम्युनिटी हॉल में रखा जाता था। उसके सिपाही गांव के चारों ओर दिन-रात पहरा देते रहते थे, ताकि कोई वहां से भाग न जाए।

# आम के पत्तों से बनी शराब, जो डायबिटीज के साथ-साथ आपके फैट भी घटाएगी

# महिला ने इस गलत काम से महज 17 दिनों में कमा लिए 35 लाख रुपये, पति को खबर लगते ही सबके सामने आई सच्चाई

weird news,weird story,900 people commit suicides,suicides due to superstitious,jonestown mass suicide ,अनोखी खबर, अनोखी कहानी, 900 लोगों की एकसाथ आत्महत्या, अंधविश्वाश के कारण आत्महत्या, अमेरिका के जोंसटाउन की घटना

जिम जोंस ने अपने अंधविश्वास का जाल इस कदर फैला रखा था कि वो जो कहता, लोग उसे मान लेते। इस बीच अमेरिकी सरकार को वहां हो रही गतिविधियों के बारे में पता चला तो सरकार ने कार्रवाई करने की सोची। लेकिन इसका पता जिम जोंस को भी चल गया और उसने अपने सभी अनुयायियों को एक जगह इकट्ठा होने को कहा।

कहा जाता है कि इस दौरान जोंस ने लोगों से कहा, 'अमेरिकी सरकार हम सबको मारने आ रही है। इससे पहले कि वो हमें गोलियों से छलनी करें, हम सबको पवित्र जल पी लेना चाहिए। ऐसा करने से हम गोलियों के दर्द से बच जाएंगे।' जिम ने लोगों से कहा कि अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो वो हमें बम से उड़ा देंगे और जो बच जाएंगे उनके साथ जानवरों जैसा सलूक करेंगे। महिलाओं के साथ रेप करेंगे, बच्चों को तरह-तरह की तकलीफें देंगे। इसलिए हमें खुद को उनसे बचाने के लिए पवित्र जल पीना पड़ेगा।

जोंस ने पहले ही एक बड़े से टब में खतरनाक जहर मिलाकर एक सॉफ्ट ड्रिंक बनवा लिया था और लोगों को पीने के लिए दे दिया। इस दौरान जिसने भी जहरीला ड्रिंक पीने से मना किया, उन्हें जबरन पिलाया गया। इस तरह एक अंधविश्वासी के चक्कर में पड़ 900 से ज्यादा लोगों ने अपनी जान गंवा दी। इनमें 300 से अधिक बच्चे भी शामिल थे। इस घटना को अब तक के सबसे बड़े नरसंहारों में से एक माना जाता है। कहा जाता है कि लोगों के मरने के बाद जिम जोंस का शव भी एक जगह पाया गया था। उसने खुद को गोली मार ली थी या शायद किसी ने उसके कहने पर उसे गोली मारी थी।

# मुम्बई : 1.7 करोड़ की उल्टी बेचने निकला था शख्स, पुलिस ने किया गिरफ्तार

# अंधविश्वास : अस्पताल में तंत्र-मंत्र, हाथों में तलवार लेकर आत्मा लेने पहुंचे परिजन

Tags :

Advertisement