Advertisement

  • होम
  • अजब गजब
  • इंसान जिंदगी के 6 साल बिताता है सिर्फ सपने देखने में, जानें इनसे जुड़े रोचक तथ्य

इंसान जिंदगी के 6 साल बिताता है सिर्फ सपने देखने में, जानें इनसे जुड़े रोचक तथ्य

By: Ankur Sat, 13 July 2019 06:31 AM

इंसान जिंदगी के 6 साल बिताता है सिर्फ सपने देखने में, जानें इनसे जुड़े रोचक तथ्य

हर इंसान अपने जीवन में सपने जरूर देखता हैं कुछ सपने खुली आँखों से होते हैं जिन्हें पाने की ख्वाहिश होती हैं। वहीँ दूसरी ओर कुछ सपने बंद आँखों से सोते समय देखे जाते हैं जिनपर इंसान का काबू नहीं होता हैं। सपनों से जुड़े हुए भी अपने कई रोचक तथ्य हैं जो आपको हैरानी में डाल देंगे। आज हम आपके लिए सपनों से जुड़े कुछ ऐसे ही रोचक तथ्यों की जानकारी लेकर आए हैं। तो आइये जानते हैं इनके बारे में।

- सपनों में हम सिर्फ चेहरे देखते है, जो हम पहले से ही जानते होते हैं। हमारा दिमाग अपने आप चेहरे नही बनाता। सपनें में हमे सिर्फ वही चेहरे दिखते हैं जो हमने अपनी जिन्दगी या T.V. पर देखे होते हैं।

- हर किसी के सपने रंगदार नही होते। सारे मनुष्य रंगदार सपने नही देखते हैं।

- ज्यादातर सपने चिंता और फिक्र वाले होते है। सपनो में Negative emotions, Positive से ज्यादा होते हैं।

- जानवर भी सपनें देखते हैं। अध्ययनों के बाद पता चला है कि जानवर भी सोते समय मनुष्यों की तरह ही दिमागी तरंगे छोड़ते है। कभी आप एक कुत्ते को सोते देखें। वह अपने पैर इस तरह से हिला रहा होगा जैसे किसी का पीछा कर रहा हो।

- जब कोई व्यक्ति खराटे मार रहा हो तो वो उस समय सपने नही देख सकता।

- अगर कोई इंसान आप को कहता है कि उसे सपने नही आते ते इसका मतलब वह अपने सपने भूल चुका है।

- एक औसतन मनुष्य रात में 4 सपने और एक साल में 1,460 सपने देखता है।

- आप को कभी भी यह याद नहीं रहेगा कि आपका सपना कहां से शुरू हुआ था।

- आप जागने के बाद अपने आधे सपने और दस मिनट बाद 90% सपनें भूल जाते हैं।

- अंधे लोगो को भी सपने आते हैं। जो लोग जन्म के बाद अंधे बनते है उन्हें अपने सपनो में तस्वीरे दिखाई देती है। मगर जो जन्म से ही अंधे होते है उन्हें कोई तस्वीर नही दिखती और उनके सपनों में चीजों की आवाजे, smells, छूना और भावनाएँ ही आती हैं।

amazing facts,interesting facts,facts related to dreams,dreams related things,human dreams ,रोचक तथ्य, अनोखी जानकारी, सपनों से जुड़े मजेदार तथ्य, रोचक तथ्य, मानव के सपने

- आदमी और औरतों के सपने अलग-अलग होते हैं। लगभग 70% आदमीयों के सपनें अन्य आदमीयों के बारे में ही होते है जब कि औरतो के सपने आदमी और औरतो दोनो के बारे में होते हैं।

- फेड्रिक ओगस्ट ने बेनजेन (C6H6) जैसा जटिल रसायनिक फार्मूला तैयार किया वह भी सपने के आभारी है। उन्होंने अपने सपने में कुछ साँप देखे थे जो अपनी पूंछ खा रहे थे।

- अमरीका के 16वे राष्ट्रपति अब्राहम लिंकन ने अपनी मौत से कुछ समय पहले अपनी पत्नी से कहा था, “मैने अपने सपने में कुछ लोगों को रोते देखा था”।

- हम सोते समय 90 मिनट में एक सपना जरूर देखते हैं और हमारा सबसे लंबा सपना सुबह आता है जो कि 30 से 45 मिनट तक का होता है।

- अगर सपने में किसी को गंदा पानी दिखता है तो उसका मतलब यह है कि सपना देखने वाला सेहतमंद नही है।

- हमारे प्राचीन वेदों में लिखा है कि यह संसार असल में एक सपना ही है और असलीयत कुछ और ही है।

- लगभग 5 से 10 प्रतीशत लोग महीने में एकाध बार भयानक और डरावने सपने देखते है। इस तरह के सपनों में कोई हमारे पीछे भागता है। 3 से 8 साल को बच्चों को इस तरह के सपने अधिक आते हैं।

- इलियास होवे ने सिलाई मशीन की खोज की थी। उन्होंने अपने सपनें में खुद को आदिवासियों की कैद में देखा था जो उन्हें जलाने वाले थे। इस दौरान वे आदिवासी अपने हथियारों को अजीब तरह से सिल रहे थे। परन्तु इससे एलियास को सिलाई मशीन की तकनीक समझ में आ गई।

- जेम्स वाटसन जिन्होंने अपने मित्र फ्रांसिस क्रिक के साथ मिलकर D.N.A की खोज की थी का कहना था कि, “मैंने अपने सपने में ढेर सारी स्पायर सीढ़ियॉ देखी थी।”

- जिसका IQ जितना ज्यादा होता है, उसे उतने ही ज्यादा सपने आते हैं।

amazing facts,interesting facts,facts related to dreams,dreams related things,human dreams ,रोचक तथ्य, अनोखी जानकारी, सपनों से जुड़े मजेदार तथ्य, रोचक तथ्य, मानव के सपने

- छोटे बच्चों को पहले 3-4 साल तक सपने नहीं आते।

- सपनों के ऊपर सबसे पहली किताब मिसर में लिखी गई थी और यह लगभग 6 हज़ार साल पहले लिखी गई थी।

- कई लोग सोचते हैं कि दिनभर का करने के बाद दिमाग थक जाता है लेकिन ऐसा नहीं है। दिमाग सोते समय, जगे हुए की तुलना में और ज्यादा तेजी से काम करता हैं।

- जो लोग सपने नहीं देखते, उन्हें “Personality Disorders” नामक बीमारी होती हैं। इस बिमारी को हिंदी में “विभाज्‍य व्‍यक्तित्‍व” कहा जाता है।

- कई लोगों का मानना है कि सुबह के सपने सच होते हैं लेकिन ऐसा बहुत कम होता है कि जो सपने में देखा है वही भविष्य में घटित हो गया हो।

- कई लोगों को नींद में चलने की बिमारी होती है। असल में ये एक मनोवैज्ञानिक बिमारी है। सही समय पर ठीक से नींद लेकर इस बिमारी की संभावना को खत्म किया जा सकता है।

- सपनों में कुछ भी पढ़-लिख नहीं सकते, यहां तक कि सपने में दिख रही घड़ी में समय देखना भी बेहद मुश्किल होता है।

- हम अपनी जिंदगी के 6 साल सपने देखने में बिता देते हैं।

- रात में स्वप्नदोष होने का कारण है नींद में सेक्सी सपना देखना। स्वप्नदोष होने के बाद ही हमारी आंखें खुलती है जबकि हमें पहले से पता होता है कि दोष हो रहा हैं। अगर समय-समय पर हस्तमैथुन कर लिया जाए तो समस्या होने के चांस थोड़े कम होते हैं।

Tags :

Advertisement

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2020 lifeberrys.com