Advertisement

  • आगरा के पास बस हादसा, ड्राइवर की एक झपकी बनी 29 लोगों की मौत का कारण

आगरा के पास बस हादसा, ड्राइवर की एक झपकी बनी 29 लोगों की मौत का कारण

By: Pinki Mon, 08 July 2019 1:20 PM

आगरा के पास बस हादसा, ड्राइवर की एक झपकी बनी 29 लोगों की मौत का कारण

आगरा के थाना एताम्दपुर क्षेत्र के पास यमुना एक्सप्रेसवे पर सोमवार सुबह के साढ़े चार बजे एक भीषण सड़क हादसा हुआ। 52 यात्रियों को ले जा रही एक जनरथ बस एक्सप्रेसवे की रेलिंग तोड़ते हुए 50 फीट गहरे नाले में जा गिरी। इस सड़क हादसे में 29 लोगों के मारे जाने की खबर है, जबकि 20 लोग घायल हैं। बस कंडक्टर असनीस मिश्रा का कहना है कि उसे ये तो सही-सही याद नहीं कि बस की वास्तविक रफ्तार कितनी थी, लेकिन उन्हें इतना जरूर पता है कि बस एक तेज झटके के साथ पुल की रेलिंग पर चढ़ गई। कोई कुछ समझ पाता इससे पहले ही तेज रफ्तार बस करीब 60 मीटर रेलिंग पर चल पड़ी। बस में एक और तेज झटका लगा कुछ सेंकेंड के लिए बस रेंलिंग से उतरी और वापस चढ़ गई। बस ड्राइवर कुछ नहीं कर पाया।और बस रेलिंग तोड़ती हुई 40 फीट नीचे नाले में गिर गई। बस कंडक्टर असनीस मिश्रा के मुताबिक तीन से चार मिनट के भीतर सब कुछ बदल गया और हमारे वश में कुछ नहीं रहा। हादसा कितना भयंकर था इसका अंदाजा इसी बात से लग सकता है कि बस नाले में गिरने से पहले ही उसे पहिए उखड़कर अलग हो चुके थे। बस कंडक्टर असनीस मिश्रा ने बताया कि घटना से करीब दो-तीन घंटे पहले ही बस कन्नौज में रुकी थी। उस वक्त ड्राइवर बिल्कुल ठीक था, लेकिन घटना से ठीक पहले ड्राइवर को एक झपकी आई थी। बस वही काल बन गई। खबर लिखे जाने तक ड्राइवर और कंडक्टर दोनों का अस्पताल में इलाज चल रहा था।

# मोदी सरकार के लिए करें ये काम और घर बैठे मिनटों में कमाये 25 हजार रुपये, जाने कैसे

# LIC की शानदार पालिसी, नाम है 'कन्‍यादान योजना', 121 रु से शुरू करें बेटी के लिए फ्यूचर इन्वेस्टमेंट

सुबह का समय था। गावों में आज भी शौच के लिए लोग घर से जल्दी निकल जाते हैं। पास में ही 50 मीटर की दूरी पर एक गांव है बघेल की थार। निहार सिंह नाम का युवक भी आसपास ही था। शोर मचते ही वो नाले की तरफ दौड़ा। उसने देखा कि यात्रियों से भरी एक टूटी हुई बस नाले में आधी डूबी पड़ी है। कोई चीख रहा था, कोई बस से बाहर आने की कोशिश कर रहा था। मंजर खौफनाक था। निहार सिंह ने भी हिम्मत दिखाई। तुरंत मोबाइल निकालकर 100 नंबर डायल कर दिया। इस दौरान आसपास के गांव वालों को भनक लग गई और लोगों को बचाने का काम शुरू हो गया।

गांव वालों ने मंगाई JCB

नाला करीब 20 फीट गहरा है। आधी से ज्यादा बस डूबी हुई थी। बस को सीधा करने के लिए JCB की जरूरत थी। सरकारी JCB आने में देर थी। ऐसे में पड़ोस के गांव में रहने वाले एक व्यक्ति से JCB मंगा ली गई।

# तीन साल का बच्चा 30 फीट गहरे बोरबेल में गिरा, सिर्फ 45 मिनट में किसान ने बाहर निकाला

# पब्लिक प्रोविडेंट फंड के जरिए कर सकते हैं टैक्स सेविंग, जानिए पीपीएफ (PPF) से जुड़ी पूरी जानकारी

बता दे, घटना की सूचना पाकर थाना एत्तमादपुर सहित तमाम पुलिस थानों के अधिकारी मौके पर पहुंच गए और जेसीबी क्रेन से राहत और बचाव का काम शुरू कर दिया गया। सूचना के बाद डीएम आगरा एनजी रवि कुमार और एसएसपी बबलू कुमार भी मौके पर पहुंच गए हैं। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बस लखनऊ से दिल्ली आ रही थी। मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया गया है। यूपी के डीजीपी ओपी सिंह ने राहत और बचाव कार्य तेजी से चलाने का निर्देश दिया है और व्यक्तिगत तौर पर भी वे कार्यों की निगरानी कर रहे हैं। घटनास्थल पर सभी वरिष्ठ अधिकारी मौजूद हैं। डीजीपी ने मृतकों के परिजनों को सांत्वना दे रहे है।

# SHOCKING !! यात्रियों की इस एक गंदी आदत ने इंडियन रेलवे को लगाई पिछले 3 सालों में 4000 करोड़ का चपत

# LIC अलर्ट! प्रीमियम जमा करते वक्त पॉलि‍सी होल्‍डर्स को अब करना होगा ये काम

Tags :
|
|

Advertisement