Advertisement

  • आतंकवाद पर PM मोदी की पाकिस्तान को दो टूक- हर चुनौती से निपटने में सक्षम

आतंकवाद पर PM मोदी की पाकिस्तान को दो टूक- हर चुनौती से निपटने में सक्षम

By: Pinki Wed, 11 Sept 2019 1:58 PM

आतंकवाद पर PM मोदी की पाकिस्तान को दो टूक- हर चुनौती से निपटने में सक्षम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बुधवार को मथुरा (Mathura) में कहा कि अब सिंगल यूज प्लास्टिक (Single Use Plastic) से हमें छुटकारा पाना ही होगा। हमें कोशिश करनी है कि 2 अक्टूबर तक अपने दफ्तरों, घरों और अपने आस-पास के वातावरण को सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त करना है। मैं देश भर के गांव-गांव में काम कर रहे हर सेल्फ हेल्प ग्रुप से, सामाजिक संगठनों से, युवा मंडलों से, महिला मंडलों से, क्लबों से, स्कूलों और कॉलेजों से, सरकारी और निजी संस्थानों से, हर व्यक्ति हर संगठन से इस अभियान से जुड़ने का आग्रह करता हूं। उन्होंने कहा कि स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम के साथ ही कुछ परिवर्तन हमें अपनी आदतों में भी करने होंगे। हमें ये तय करना है कि हम जब भी बाजार में कुछ भी खरीददारी करने जाए, तो साथ में कपड़े या जूट का झोला जरूर ले जाएं। पैकिंग के लिए दुकानदार प्लास्टिक का उपयोग कम से कम करें।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज के कार्यक्रम को प्लास्टिक के कचरे से मुक्ति के लिए शुरू किया गया है, प्लास्टिक से पशुओं, नदियों, झील, तालाब में रहने वाले प्राणियों का नुकसान होता है। ऐसे में हमें सिंगल यूज प्लास्टिक से छुटकारा पाना होगा। सिंगल यूज प्लास्टिक को रिसायकल किया जाएगा, जो रिसायकल नहीं किया जाएगा उनका इस्तेमाल सड़क बनाने में किया जाएगा। पीएम मोदी ने कहा कि अब आप अपने घर से बाहर जाएं तो सामान लेने के लिए साथ में झोला लेकर जाएं, सरकारी दफ्तरों में अब प्लास्टिक की बोतलों की बजाय मिट्टी के बर्तनों की व्यवस्था हो।

आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान पर साधा निशाना

पीएम मोदी ने अपने भाषण में बिना नाम लिए आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान पर भी निशाना साधा। पीएम मोदी ने कहा कि आतंकवाद आज दुनिया के लिए मुसीबत बन गया है। पूरी दुनिया को एकजुट होकर इससे लड़ना चाहिए। पीएम मोदी ने कहा आतंकवाद की जड़ें हमारे पड़ोस में पल रही हैं। भारत इस चुनौती से निपटने में सक्षम है, हमने ये करके दिखाया है और आगे भी करेंगे। हमारी सरकार ने आतंकियों के खिलाफ कानून को कड़ा किया है।

पशुओं के लिए सबसे बड़े कार्यक्रम की शुरुआत की

PM मोदी ने कहा कि हमारे देश में कुछ लोगों के कान पर अगर ऊं या गाय शब्द पड़ता है तो उनके बाल खड़े हो जाते हैं। पीएम मोदी ने कहा कि ऐसा कहने वालों ने देश को बर्बाद करने में कुछ नहीं छोड़ा है। हमारे भारत में पशुधन काफी बड़ी बात है, इसके बिना अर्थव्यवस्था, गांव कुछ नहीं चल सकता है। PM मोदी ने मथुरा की वेटरनेरी यूनिवर्सिटी (Mathura Veterinary University) में आजादी के बाद पशुओं के लिए सबसे बड़े कार्यक्रम की शुरुआत की। इस दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह भी मौजूद रहे। पीएम मोदी ने कहा कि आज हम 13 हजार करोड़ के अभियान की शुरुआत कर रहे हैं। ये अभियान है FMD यानी फूड एंड माउथ डिसीज से निपटना। ये यूपी में मुंहपका के नाम से भी जाना जाता है। दुनिया के कई गरीब छोटे देश भी पशुओं को मुसीबत से बाहर निकाल चुके हैं, लेकिन हमारा देश अभी भी इससे जूझ रहा है। इस अभियान में देश के गाय, भैंस, बकरी और सुअरों को साल में दो बार टीके लगाए जाएंगे। पीएम मोदी ने देश भर के लिए 40 मोबाइल पशु चिकित्सा वाहनों को झंडी दिखाकर रवाना किया।

PM मोदी ने कहा कि यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में फैलते बुखार के खिलाफ लड़ाई लड़ी, सड़क से संसद तक उन्होंने लोगों को जागरूक किया। योगी ने संसद के हर सत्र में इसकी आवाज उठाई। योगी की सरकार बनी तो कुछ ग्रुपों ने उन्हीं के माथे पर आरोप लगा दिया। जिस मुद्दे को लेकर वो 30-40 साल से काम कर रह थे, अब उन्हें सफलता मिली है।

ब्रज भाषा में लोगों का किया धन्यवाद

कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन की शुरुआत ब्रज भाषा में की और लोकसभा चुनाव में समर्थन के लिए लोगों का धन्यवाद किया। पीएम ने कहा कि भारत को भगवान कृष्ण से पर्यावरण को बचाने की प्रेरणा मिलती है। पीएम ने कहा कि दूध, दही, माखन, धेनु, प्रकृति, पर्यावरण के बिना बालगोपाल की कल्पना नहीं हो सकती है। PM मोदी बोले कि स्वच्छ भारत, जल जीवन मिशन के बाद अब प्रकृति-विकास में संतुलन बनाकर हम नए भारत के निर्माण की तरफ आगे बढ़ रहे हैं।

कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने कहा कि आज नेशनल एनिमल डिसीज़ कंट्रोल प्रोग्राम को भी लॉन्च किया गया है। पशुओं के स्वास्थ्य, संवर्धन, पोषण और डेयरी उद्योग से जुड़ी कुछ अन्य योजनाएं भी शुरू हुई हैं, इसके अलावा मथुरा के इंफ्रास्ट्रक्चर और पर्यटन से जुड़े कई प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास और उद्घाटन भी आज हुआ है। इस योजना का मकसद है कि गाय या अन्य जानवर सड़क पर फैली गंदगी की वजह से जो प्लास्टिक खा जाते हैं, उनसे बचाया जाए। पीएम मोदी ने यहां प्लास्टिक-कूड़ा अलग करने वाली मशीन का भी इस्तेमाल किया और वहां मौजूद लोगों से बात भी की। इतना ही नहीं प्रधानमंत्री ने उनके काम में हाथ भी बंटाया।

Advertisement

Tags :
|

Advertisement