Advertisement

  • आरोप : डूबती अर्थव्यवस्था से ध्यान भटकाने के लिए हुई चिदंबरम की गिरफ्तारी : कांग्रेस

आरोप : डूबती अर्थव्यवस्था से ध्यान भटकाने के लिए हुई चिदंबरम की गिरफ्तारी : कांग्रेस

By: Pinki Thu, 22 Aug 2019 11:12 AM

आरोप : डूबती अर्थव्यवस्था से ध्यान भटकाने के लिए हुई चिदंबरम की गिरफ्तारी : कांग्रेस

INX मीडिया केस (INX Media Case) में सीबीआई और ईडी पिछले दो दिनों से पी चिदंबरम की तलाश कर रही थी। लेकिन पी चिदंबरम फोन बंद करके लापता थे और किसी की भी पहुंच से बाहर थे। लेकिन बुधवार रात वह कांग्रेस दफ्तर में आए और प्रेस कॉन्फ्रेंस किया, जिसके बाद उनके घर से उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। रातभर उन्हें सीबीआई के मुख्यालय में रखा गया, उनसे पूछताछ हुई और अब तकरीबन 2 बजे उन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा। चिदंबरम की गिरफ्तारी को लेकर कांग्रेस पार्टी मोदी सरकार पर लगातार हमलावर है और बदले की राजनीति का आरोप लगाया जा रहा है। इस बीच आज सुबह कांग्रेस पार्टी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

पी चिदंबरम के मामले में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में देश ने लोकतंत्र का गला घुटते हुए देखा है। जिस तरह से पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के खिलाफ कार्रवाई की गई है, उससे साफ जाहिर होता है कि मोदी सरकार उनके खिलाफ राजनीतिक द्वेष से काम कर रही है। सुरजेवाला ने कहा कि कानून की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। एक तरफ देश की अर्थव्यवस्था गर्त में जा रही है, यही कारण है कि मोदी सरकार लोगों को ध्यान भटकाने के लिए इस तरह का एक्शन ले रहे है। रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि मोदी सरकार ने सिर्फ पी चिदंबरम बल्कि उनके बेटे कार्ति के खिलाफ भी एक्शन ले रही है। उन्हें सिर्फ एक ही अप्रूवर के बयान पर गिरफ्तार कर लिया गया, वो भी उसके बयान पर जिनपर अपनी ही बेटी की हत्या का आरोप है।

रणदीप सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि पी चिदंबरम के खिलाफ एक भी सबूत नहीं हैं, फिर भी सरकार ने कानून का गलत इस्तेमाल करके उन्हें सलाखों के पीछे डाला है। उन्होंने कहा कि FIR में चिदंबरम का नाम नहीं है, आरोपपत्र में भी उनका नाम नहीं है। क्योंकि सीबीआई किसी तरह का सबूत पेश नहीं कर पाई है।

दिल्ली पहुंचे कार्ति चिदंबरम

पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम दिल्ली पहुंच गए हैं। अभी तक वह चेन्नई में थे, लेकिन अब दिल्ली आए हैं। वह लगातार ट्विटर के जरिए अपनी सफाई पेश कर रहे थे और कह रहे थे कि सरकार उनके पिता को राजनीतिक द्वेष के कारण फंसा रही है। बता दें कि कार्ति चिदंबरम भी एयरसेल-मैक्सेस डील में कानूनी शिकंजे में फंसे हुए हैं।

गिरफ्तारी के बाद चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम ने कहा है कि उनके पिता को जिस नाटकीय ढंग से गिरफ्तार किया गया, वह सिर्फ राजनीतिक बदले की भावना से प्रेरित है। कार्ति चिदंबरम ने कहा कि कथित कृत्य 2008 में हुआ और उसमें अब तक कोई आरोप नहीं है।

कार्ति चिदंबरम ने कहा सीबीआई के इस कदम के खिलाफ अदालत जाएंगे, उन्होंने कहा कि अदालत में हम निर्दोष साबित होंगे। कार्ति ने कहा कि उनके पिता को ईडी ने कई बार समन भेजा और वे बार-बार उसके सामने पेश होते रहे है।कार्ति ने कहा कि वे इस मामले का कानूनी रूप से सामना करेंगे।

कार्ति चिदंबरम ने कहा कि गिरफ्तारी सरकार में किसी को संतुष्ट करने के लिए की गई है। उन्होंने कहा कि गंभीर मसलों से देश का ध्यान भटकाने के लिए यह गिरफ्तारी हुई है। उन्होंने इस बात से इन्कार किया कि दिल्ली हाई कोर्ट की तरफ से अग्रिम जमानत खारिज होने के बाद उनके पिता मंगलवार रात से फरार थे।

Tags :
|
|

Advertisement

Error opening cache file