Advertisement

  • सोशल मीडिया पर कोरोना वायरस को लेकर मजाक बनाना पड़ा भारी, 410 हिरासत में

सोशल मीडिया पर कोरोना वायरस को लेकर मजाक बनाना पड़ा भारी, 410 हिरासत में

By: Pinki Thu, 26 Mar 2020 5:52 PM

सोशल मीडिया पर कोरोना वायरस को लेकर मजाक बनाना पड़ा भारी, 410 हिरासत में

जहां एक तरफ पूरी दुनिया कोरोना वायरस से लड़ रही है वहीं तुर्की सरकार के लिए कोरोना वायरस के साथ-साथ एक और चिंता खड़ी हो गई है। यहां लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन तो कर रहे हैं लेकिन सोशल मीडिया पर र्की के युवा कोरोना वायरस को लेकर 'भड़काऊ' पोस्ट कर रहे हैं। इसके चलते अब तक यहां 410 लोगों को जेल में डाला जा चुका है। तुर्की के इंटीरियर मिनिस्टर सुलेमान सोलू ने जानकारी दी है कि अब तक करीब 2000 सोशल मीडिया अकाउंट्स की पहचान की गई है। इन अकाउंट्स पर कोरोना वायरस की महामारी को लेकर 'भड़काऊ' पोस्ट किए जा रहे थे। इस पर कार्रवाई करते हुए अशांति फैलाने का आरोप लगाया गया है और 410 लोगों को हिरासत में ले लिया गया है। बता दे, तुर्की में अब तक 1892 लोग कोरोना वायरस का शिकार बन चुके हैं जबकि 44 लोगों की मौत हो चुकी है।

सुलेमान ने बताया है कि इनमें से ज्यादातर अकाउंट मिलिटेंट ग्रुप्स से जुड़े हुए हैं। हालांकि, उन्होंने उनकी पहचान के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं दी। जानकारी के मुताबिक ज्यादातर पोस्ट्स युवाओं ने बुजुर्गों का मजाक उड़ाते हुए किए थे। इससे लोगों में नाराजगी फैलने लगी। गौरतलब है कि दुनियाभर में कोरोना वायरस का शिकार ज्यादातर बुजुर्ग बन रहे हैं।

Tags :
|

Advertisement