• होम
  • न्यूज़
  • 4 लाख 59 हजार रुपए में नीलाम हुआ महात्मा गांधी द्वारा लिखा गया बिना तिथि वाला एक पत्र

4 लाख 59 हजार रुपए में नीलाम हुआ महात्मा गांधी द्वारा लिखा गया बिना तिथि वाला एक पत्र

By: Pinki Mon, 24 Sept 2018 2:41 PM

4 लाख 59 हजार रुपए में नीलाम हुआ महात्मा गांधी द्वारा लिखा गया बिना तिथि वाला एक पत्र

अमेरिका के बोस्टन में महात्मा गांधी Mahatma Gandhi द्वारा लिखा गया बिना तिथि वाला एक पत्र 6358 डॉलर (4,59,301 रुपए) में नीलाम हुआ है। गांधी जी ने इस पत्र में चरखे के महत्व पर जोर दिया है। यह जानकारी अमेरिका के आरआर आक्शन ने दी है। आक्शन हाउस ने एक बयान में कहा कि पत्र गुजराती भाषा में लिखा है और यह यशवंत प्रसाद नाम के व्यक्ति को संबोधित है। गांधी जी ने पत्र में लिखा है कि हमें मिलों से जो उम्मीद थी वही हुआ है। उन्होंने लिखा है कि यद्यपि आप जो कहते हैं वह सही है, सब कुछ करघे पर निर्भर करता है। चरखे के बारे में गांधी का उल्लेख असाधारण रूप से महत्वपूर्ण है क्योंकि उन्होंने उसे आर्थिक आजादी के प्रतीक के तौर पर अपनाया था। स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान गांधी ने भारतीयों को इसके लिए प्रोत्साहित किया कि वे स्वतंत्रता के लिए भारतीय आंदोलन के समर्थन में प्रतिदिन खादी की कताई में व्यतीत करें। उन्होंने सभी भारतीयों को स्वदेशी आंदोलन के तहत ब्रिटेन निर्मित कपड़े की बजाय खादी पहनने के लिए प्रोत्साहित किया।

उधर, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय द्वारा देश भर के विभिन्न शहरों में मुशायरों का आयोजन किया जाएगा जो महात्मा गांधी के संदेशों-सिद्धांतों पर आधारित होंगे। इन मुशायरों में प्रसिद्ध शायर-कवि गुलजार, जनाब वसीम बरेलवी, जनाब हसीब सोज़, जनाब मंज़र भोपाली, मोहतरमा नसीम निकहत, जनाब इक़बाल अशहर, जनाब सुरेन्द्र शजर, जनाब हसन कमाल, मोहतरमा शबीना अदीब, राजेश रेड्डी, जनाब मंसूर उस्मानी, जनाब पॉपुलर एजाज, जनाब एहसान कुरैशी आदि को आमंत्रित किया गया है। इनके अलावा कुछ अन्य प्रमुख एवं क्षेत्रीय शायर-कवि भी इन कार्यक्रमों में भाग लेंगे। नकवी ने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम जहां एक तरफ महात्मा गांधी के शांति एवं अहिंसा के सन्देश का प्रसार करेंगे वहीं इन कार्यक्रमों से देश में सामाजिक सौहार्द, भाईचारे, समरसता को और मजबूत करने में मदद मिलेगी। अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि इस कड़ी में पहले मुशायरे का आयोजन 6 अक्टूबर को नई दिल्ली के डॉ अम्बेडकर इंटरनेशनल सेंटर, जनपथ में होगा जिसमें देश के प्रसिद्द शायर महात्मा गांधी के सद्भाव, राष्ट्रीय एकता, लोकतान्त्रिक मूल्यों, अहिंसा एवं विश्व शांति के सन्देश पर आधारित अपने कलाम पेश करेंगे। उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त ये मुशायरे मुंबई, लखनऊ, चंडीगढ़, अहमदाबाद, बेंगलुरु, रांची आदि स्थानों पर भी आयोजित किए जाएंगे।

उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर उनके संदेश, सिद्धांतों का प्रसार करने के लिए राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कार्यक्रम आयोजित करने का फैसला किया है। इस उद्देश्य के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की अध्यक्षता में एक राष्ट्रीय समिति गठित की गई है। इस समिति में उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह, राज्यसभा में नेता विपक्ष गुलाम नबी आज़ाद, देश के सभी राज्यों के मुख्यमंत्री, राजनीतिक प्रतिनिधि, गांधीवादी विचारक और सभी क्षेत्रों के जाने-माने व्यक्ति शामिल हैं।

Tags :
|

Advertisement

Home | About | Contact | Disclaimer| Privacy Policy

| | |

Copyright © 2020 lifeberrys.com

Error opening cache file