Advertisement

  • RTI से खुलासा : कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में 7 मिनट में खर्च हुए 42 लाख रुपये

RTI से खुलासा : कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में 7 मिनट में खर्च हुए 42 लाख रुपये

By: Pinki Fri, 10 Aug 2018 07:57 AM

RTI से खुलासा : कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में 7 मिनट में खर्च हुए 42 लाख रुपये

कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में एक ही मंच पर कांग्रेस, सपा, बसपा, आप, राजद के साथ अन्य कई दलों के दिग्गज नेताओं ने विपक्षी एकता का जो ढोल पीटा था उसका खर्च आरटीआई के द्वारा सामने आया है। रिपोर्ट के मुताबिक 7 मिनट के शपथ ग्रहण समारोह पर कर्नाटक सरकार ने 42 लाख रुपये खर्च कर डाले।

शपथ ग्रहण में सबसे ज्यादा 8,72,485 रुपये खर्च आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू पर किया गया। इसी प्रकार से कमल हासन भी फाइव स्टार होटल ताज वेस्ट एंड में ही रुके और उन पर करीब 1,02,040 का खर्च आया। उधर दिल्ली के सीएम केजरीवाल के बिल का खर्चा करीब 2 लाख रुपए आया। अरविंद केजरीवाल ने फाइव स्टार होटल ताज वेस्ट एंड में 23 मई को सुबह 9:49 बजे चेक इन किया और 24 मई को सुबह 5:34 बजे चेकआउट किया। केजरीवाल के कर्नाटक आने के दिन से लेकर दिल्ली वापिस जाने तक खाने-पीने में 71,025 रुपये और बेवरेज के 5000 रुपये का बिल बना है। केजरीवाल के बिल का खर्चा करीब 2 लाख रुपए तक पहुंच गया।

दरअसल कर्नाटक में बीते 23 मई को कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार के शपथग्रहण कार्यक्रम में कुमारस्वामी ने विपक्ष के लगभग हर नेता को बुलाया था। आपको बता दें कुमारस्वामी के शपथग्रहण में 42 बड़े नेताओं को आमंत्रित किया था।

आरटीआई की रिपोर्ट के बाद राज्य की सरकार विपक्ष के निशाने पर है, ऐसे में राज्य सरकार की पूर्व लोकायुक्त जस्टिस संतोष हेगड़े ने सरकार की तीखी आलोचना करते हुए कहा कि, सरकार को ऐसी बर्बादी की इजाजत नहीं देनी चाहिए।

आरटीआई के मुताबिक इससे पहले 13 मई 2013 को सिद्धारमैया और 17 मई, 2018 को बीएस येदियुरप्पा के शपथग्रहण के दौरान सरकार ने मेहमानों के रुकने का खर्च नहीं उठाया था, जबकि कुमारस्वामी के शपथग्रहण में 42 बड़े नेताओं को आमंत्रित किया गया था। इन सबके ठहरने और खाने-पीने पर सरकारी धन का इस्तेमाल किया गया है।

शपथ ग्रहण में शामिल हुए प्रमुख नेताओं के खर्च का ब्योरा

यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर 1,02,400 रुपये खर्च हुए।
बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती पर 1,41,443 रुपये।
केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन पर 1,02,400 रुपये।
कांग्रेस नेता अशोक गहलोत पर 1,02,400 रुपये।
सीपीएम नेता सीताराम येचुरी पर 64,000 रुपये।
झारखंड के पूर्वी मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर 38,400 रुपये।
झारखंड के पूर्वी मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी पर 45,952 रुपये।
एनसीपी नेता शरद पवार पर 64,000 रुपये।
एआइएमआइएम प्रमुख असद्दुदीन ओवैसी पर 38,400 रुपये।

# किसी का है होटल तो कोई चलाता है स्कूल, ये है आपके चहेते क्रिकेट खिलाड़ियों के बिज़नेस

# डाटा चोरी होने पर फेसबुक के साथ-साथ आप भी है उतने ही जिम्मेदार, जाने कैसे?

Advertisement