Advertisement

  • पाकिस्तानी PM इमरान खान बोले- अब भारत से बात करने का फायदा नहीं, दी युद्ध की धमकी

पाकिस्तानी PM इमरान खान बोले- अब भारत से बात करने का फायदा नहीं, दी युद्ध की धमकी

By: Pinki Thu, 22 Aug 2019 2:16 PM

पाकिस्तानी PM इमरान खान बोले- अब भारत से बात करने का फायदा नहीं, दी युद्ध की धमकी

कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म करने के मोदी सरकार के फैसले के बाद से ही पाकिस्तानी पीएम इमरान खान लगातार बयानबाजी कर रहे हैं। हाल ही में एक बार फिर पाकिस्तानी पीएम ने कहा कि अब वह भारत से बातचीत करने की अपील नहीं करेंगे। इसके साथ ही उन्होंने एक बार फिर युद्ध की धमकी दे डाली। इमरान ने कहा कि जब दो परमाणु शक्ति संपन्न आमने-सामने होंगे तो कुछ भी हो सकता है। पाकिस्तान पीएम ने कहा कि मेरी चिंता यही है कि कश्मीर के हालात से तनाव बढ़ सकता है। दोनों देशों के परमाणु शक्ति संपन्न होने की वजह से दुनिया को इस पर ध्यान देना चाहिए कि हम किन हालात का सामना कर रहे हैं।

न्यू यॉर्क टाइम्स को दिए इंटरव्यू में इमरान ने कहा,'अब भारत से बात करने का कोई फायदा नहीं है। मैंने बातचीत करने की सारी कोशिशें कर लीं। दुर्भाग्य है कि अब जब मैं पीछे मुड़कर देखता हूं तो लगता है कि मेरी शांति और बातचीत की सारी कोशिशों को उन्होंने तुष्टीकरण में इस्तेमाल किया।' इमरान खान ने कहा मैंने बार-बार बातचीत के लिए अनुरोध किया लेकिन भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नजरअंदाज कर दिया।

# ट्रैफिक पुलिस ने दी गाड़ी सीज और चालान काटने की धमकी, कार सवार को आया हार्ट अटैक, मौत

# जाने क्या है रूस के साथ होने वाली S-400 डील और क्यों जरुरी है भारत के लिए इस सौदे का होना!

इमरान खान ने कहा कि अब भारतीय अधिकारियों से बातचीत करने का कोई औचित्य नहीं रह गया है और अब तक किए गए सारे प्रयास बेकार साबित हुए हैं। इमरान ने कहा, अब इससे ज्यादा हम कुछ और नहीं कर सकते हैं।

पीएम मोदी फासीवादी और हिंदूवादी - इमरान

इमरान खान ने एक बार फिर पीएम मोदी को फासीवादी और हिंदूवादी करार देते हुए आरोप लगाया कि वह कश्मीर की मुस्लिम बहुल आबादी का सफाया कर उसे हिंदू बहुल इलाके में तब्दील कर देना चाहते हैं।

भारत कश्मीर में चला सकता है फर्जी ऑपरेशन - इमरान

न्यू यॉर्क टाइम्स से बातचीत करते हुए इमरान खान ने प्रोपैगैंडा फैलाते हुए कहा कि भारत कश्मीर में फर्जी ऑपरेशन भी चला सकता है जिससे पाकिस्तान के खिलाफ सैन्य कार्रवाई के लिए उसे आधार मिल सके। इमरान ने कहा कि ऐसी स्थिति में पाकिस्तान भी जवाब देने के लिए मजबूर होगा।

दरहसल, पठानकोट आतंकी हमले के बाद से ही भारत ने अपना रुख साफ कर दिया था कि जब तक पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ असल में कार्रवाई नहीं करेगा, तब तक उससे कोई बातचीत नहीं होगी। हालांकि, पाकिस्तान के पीएम इमरान कई मौकों पर बातचीत की अपील कर चुके हैं।

# क्या है 'आयुष्मान भारत योजना', घर बैठे इस तरह पता करें कैसे उठा सकते है इस योजना का लाभ

# एक छोटा सा निवेश और जिंदगीभर मिलेगा आपको पैसा, यह है LIC की बेस्ट पॉलिसी

जब-जब हमने शांति की तरफ कदम बढ़ाये, बुरा साबित हुआ - भारतीय राजदूत

इमरान खान की आलोचना को अमेरिका में भारतीय राजदूत हर्ष वर्धन श्रृंगला ने पूरी तरह खारिज कर दिया है। उन्होंने न्यू यॉर्क टाइम्स से कहा, 'हमारा यही अनुभव रहा है कि जब-जब हमने शांति की तरफ कदम आगे बढ़ाया, यह हमारे लिए बुरा साबित हुआ। हम पाकिस्तान से आतंकवाद के खिलाफ विश्वसनीय और ठोस कार्रवाई की उम्मीद करते हैं।'

पाकिस्तान के झूठे आरोपों को खारिज करते हुए राजदूत ने कहा कि कश्मीर में जनजीवन सामान्य हो रहा है। उन्होंने बताया, हालात को देखते हुए पाबंदियों में ढील दी जा रही है। स्कूल, बैंक और हॉस्पिटल खुल गए हैं। वहां पर्याप्त खाद्य भंडार है। नागरिकों की सुरक्षा के हित में सिर्फ संचार पर कुछ पाबंदियां लगाई गई हैं।

# आतंकी मसूद अजहर : एक प्रिंसिपल का बेटा कैसे बन बैठा इंसानियत के लिए बड़ा खतरा!

# पब्लिक प्रोविडेंट फंड के जरिए कर सकते हैं टैक्स सेविंग, जानिए पीपीएफ (PPF) से जुड़ी पूरी जानकारी

Tags :
|

Advertisement