Advertisement

  • अमृतसर ट्रेन हादसा : चीख पुकारों के बीच एक साथ जलीं 20 लोगों की चिताएं, पूरे इलाके में शोक की लहर

अमृतसर ट्रेन हादसा : चीख पुकारों के बीच एक साथ जलीं 20 लोगों की चिताएं, पूरे इलाके में शोक की लहर

By: Pinki Sat, 20 Oct 2018 4:37 PM

अमृतसर ट्रेन हादसा : चीख पुकारों के बीच एक साथ जलीं 20 लोगों की चिताएं, पूरे इलाके में शोक की लहर

अमृतसर ट्रेन हादसे की चपेट में आए मृतकों और घायलों की लिस्ट जारी कर दी गई है। इस लिस्ट के मुताबिक अभी तक 61 लोगों की जानें जा चुकी हैं और 113 लोग घायल बताए जा रहे हैं। मृतकों के शरीर को अमृतसर के सिविल हॉस्पिटल और गुरू नानक देव हॉस्पिटल में रखा गया है। वहीं, घायलों का इलाज अमनदीप अस्पताल (प्राइवेट), मिलिट्री हॉस्पिटल, हरतेज हॉस्पिटल (प्राइवेट), श्री गुरू राम दास हॉस्पिटल, सिविल हॉस्पिटल और गुरू नानक देव हॉस्पिटल में किया जा रहा है। इस लिस्ट में मृतकों के नाम, उम्र, पति एंव पिता के नाम और घर का पता दिया गया है। इसके साथ ही घायलों के भी नाम, उम्र और पति एंव पिता का नाम दिया गया है, बाकि जांच-पड़ताल जारी है। वहीं, इन सूची में उन 11 लोगों के नाम भी शामिल हैं जिनके शरीर को अस्पताल में लाया गया था, इसमें 10 पुरुष (4 बच्चे और 6 पुरुष) के अलावा एक बुजुर्ग महिला शामिल है। वहीं इस हादसे में मारे गए लोगों की अंतिम रस्मे शुरु हो गई हैं। अमृतसर के दुर्गयाना श्मशान घाट में चीख पुकारों के बीच एक साथ 20 लोगों की चिताएं जलाई गई। इस हादसे में पूरे इलाके शोक की लहर है।

इस मौके पर बीजेपी के नेता तरुण चुघ, राजेश हनी, राजिंद्र मौहन सिंह छीना परिवारों से संवेदना करने के लिए मौके पर मौजूद थे। वहीं शिवपुरी के वायस चेयरमैन नरेश प्राशर ने मृतकों का अंतिम संस्कार फ्री करने का ऐलान किया। बता दें कि इस हादसे में पटरी और इसके आसपास लाशों का अंबार लग गया। जमीन खून से सन गई किसी का सिर तो किसी का धड़, बाजु और टांगें इस उधर बिखरे हुये थे। इस हादसे का ज्यादातर महिलाएं और बच्चे शिकार बने।

Tags :

Advertisement