• PM मोदी और CM योगी पर हो सकता है केमिकल और मेडिसिन अटैक! अलर्ट जारी

PM मोदी और CM योगी पर हो सकता है केमिकल और मेडिसिन अटैक! अलर्ट जारी

By: Pinki Fri, 10 Aug 2018 2:29 PM

PM मोदी और CM योगी पर हो सकता है केमिकल और मेडिसिन अटैक! अलर्ट जारी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर केमिकल और मेडिसिन अटैक हो सकता है। सुरक्षा एजेंसियों को मिले इनपुट से इस बात का खुलासा हुआ है कि कश्मीर से कुछ युवाओं का ग्रुप आतंकियों के संपर्क में है। उसके सदस्य यूपी में मुख्यमंत्री योगी पर अटैक कर सकते हैं। इनके ट्रेन से जम्मू-कश्मीर से लखनऊ पहुंचने की बात कही गई है। ये लोग किसी जनसभा या कार्यक्रम में केमिकल और मेडिसिन अटैक भी कर सकते हैं। मानव बम का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। इनकी लोकेशन और समय को लेकर सुरक्षा एजेंसियां जांच में जुटी हुई हैं। कई एजेंसियों से मिले इनपुट के मुताबिक आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के कमांडर मसूद अजहर ने एक टेप जारी किया है। जिसमें उसने प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी पर अटैक करने की बात कही है। यह हमला किसी जनसभा या कार्यक्रम के दौरान किया जा सकता है। इनपुट है कि लंदन बेस्ड कुछ कश्मीरी संगठन योगी या मोदी को टारगेट कर सकते हैं। सुरक्षा एजेंसियों से यह इनपुट मिलने के बाद योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। मेरठ में उनके दौरे को लेकर खास चौकसी बरती जा रही है। एसपी सीएम सिक्योरिटी ने मेरठ के पुलिस-प्रशासनिक अधिकारियों को रेडियोग्राम भेजा है।

मेरठ में है सीएम का आगमन

- मेरठ में भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक 11 व 12 अगस्त को हो रही है। जिसमें सीएम योगी भी पहुंचेंगे। उनकी सुरक्षा को लेकर बैठक में व्यापक स्तर पर इंतजाम किए जा रहे हैं।
- सीएम सिक्योरिटी के एसपी द्वारा मेरठ पुलिस के अफसरों को भेजे गए रेडियोग्राम में कहा गया कि मेरठ में कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी की जेड प्लस सिक्योरिटी के साथ एनएसजी और दूसरी एजेंसियों के घेरे के भीतर कोई नहीं रहेगा।
- सिक्योरिटी को लेकर येलो और ग्रीन बुक की सारी गाइड लाइन फॉलो करने को कहा गया है।
- सीएम सिक्योरिटी में किसी तरह की कोई चूक न हो, इसको लेकर सुरक्षा घेरे के भीतर उनसे मिलने वाले लोगों के बारे में सिक्योरिटी को पूरी जानकारी होगी। साथ ही लोकल स्तर पर भी पुलिस का पूरा घेरा रहेगा। इसके भीतर जाने वाले लोगों पर पुलिस की नजर रहेगी। हमले के इनपुट मिलने के बाद इंटेलीजेंस और खुफिया विभाग भी चौकन्ना हो गया है। योगी आदित्यनाथ के दौरों को लेकर कार्यक्रम स्थलों पर सघन तरीके से नजर रखी जा रही है। बैग आदि ले जाने वाले लोगों पर खास नजर है।

# क्या देखा है ऐसा प्रधानमंत्री, जिसका एक भाई ऑटो चलाता हैं और दूसरा किराने की दुकान चलाता है : बिप्लब देब

# जाने क्या है रूस के साथ होने वाली S-400 डील और क्यों जरुरी है भारत के लिए इस सौदे का होना!

Advertisement