Advertisement

  • मध्य प्रदेश को कहा जाता है भारत का दिल, जानें यहाँ के 4 प्रसिद्द पर्यटन नगरी के बारे में

मध्य प्रदेश को कहा जाता है भारत का दिल, जानें यहाँ के 4 प्रसिद्द पर्यटन नगरी के बारे में

By: Ankur Wed, 31 Oct 2018 1:22 PM

मध्य प्रदेश को कहा जाता है भारत का दिल, जानें यहाँ के 4 प्रसिद्द पर्यटन नगरी के बारे में

भारत का दिल कहे जाने वाले मध्य प्रदेश का 1 नवम्बर, 1956 को गठन हुआ था। तभी से लेकर यह दिन मध्य प्रदेश के स्थापना दिवस के रूप में मनाया जाता हैं। मध्य प्रदेश को अपने राजसी स्मारकों और प्रसिद्द इतिहास के लिए भी जाना जाता हैं। अपनी ऐतिहासिक घटनाओं के चलते यहाँ पर कई पर्यटन स्थल हैं, जिनको देखने के लिए देश-विदेश से लोग आते हैं। आज मध्य प्रदेश के स्थापना दिवस के ख़ास मौके पर हम आपके लिए यहाँ के प्रसिद्द पर्यटन नगरों की जानकारी लेकर आए हैं। तो आइये जानते है इनके बारे में।

holidays,madhya pradesh,heart of india,4 famous tourist cities,khajuraho,ujjain,sanchi,maheshwar ,मध्य प्रदेश, भारत का दिल, मध्य प्रदेश पर्यटन स्थल, खजुराहो, उज्जैन, साँची, महेश्वर

* खजुराहो

खजुराहो को भारतीय कला का प्रतीक कहा जा सकता है। खजुराहो को विश्व यात्रियों के बीच प्रसिद्ध बनाने के लिए 22 मंदिरों का एक समूह है। बहुत अधिक जटिल नक्काशी और बढ़िया कामुक मूर्तिकला, और भारतीय कला के साथ प्यार किसी भी इतिहास प्रेमी को आकर्षित करने के लिए पर्याप्त है। खजुराहो के मंदिरों को पश्चिमी वर्ग, दक्षिणी समूह और पूर्वी समूह की तीन श्रेणियों में बांटा गया है, जिनमें से मंदिरों के पश्चिमी समूह ने अधिकतम प्रसिद्धि प्राप्त की है। मंदिरों के अलावा, खजुराहो में दो झील भी हैं। मध्य प्रदेश में खजुराहो एक छोटा सा शहर है। इतिहास में गहरी दिलचस्पी रखने वालों के लिए खजुराहो एक शानदार विषय है। यहाँ के आकर्षण के केंद्र कंदारी महादेव, मंदिरलक्ष्मण मंदिर,विश्वनाथ मंदिर, पारस्वनाथ मंदिर, चित्रगुप्त बीजमंदला मंदिर, देवी जगदाम्बा, चौथ योगिनी, वामन मंदिर, दुलादेव मंदिर हैं।

holidays,madhya pradesh,heart of india,4 famous tourist cities,khajuraho,ujjain,sanchi,maheshwar ,मध्य प्रदेश, भारत का दिल, मध्य प्रदेश पर्यटन स्थल, खजुराहो, उज्जैन, साँची, महेश्वर

* उज्जैन

भारत के मध्य प्रदेश राज्य का एक प्रमुख शहर है जो क्षिप्रा नदी के किनारे बसा है। यह एक अत्यन्त प्राचीन शहर है। यह विक्रमादित्य के राज्य की राजधानी थी। इसे कालिदास की नगरी के नाम से भी जाना जाता है। यहाँ हर 12 वर्ष पर सिंहस्थ कुंभ मेला लगता है। भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में एक महाकाल इस नगरी में स्थित है। उज्जैन मध्य प्रदेश के सबसे बड़े शहर इन्दौर से 55 कि॰मी॰ पर है। उज्जैन के प्राचीन नाम अवन्तिका, उज्जयनी, कनकश्रन्गा आदि है। उज्जैन मंदिरों की नगरी है। यहाँ कई तीर्थ स्थल है। यह मध्य प्रदेश का पाँचवा सबसे बड़ा शहर है।

holidays,madhya pradesh,heart of india,4 famous tourist cities,khajuraho,ujjain,sanchi,maheshwar ,मध्य प्रदेश, भारत का दिल, मध्य प्रदेश पर्यटन स्थल, खजुराहो, उज्जैन, साँची, महेश्वर

* सांची

सांची भारत के मध्य प्रदेश राज्य के रायसेन जिले, में बेतवा नदी के तट स्थित एक छोटा सा गांव है। यह भोपाल से 46 कि॰मी॰ पूर्वोत्तर में, तथा बेसनगर और विदिशा से10 कि॰मी॰ की दूरी पर मध्य प्रदेश के मध्य भाग में स्थित है। यहां कई बौद्ध स्मारक हैं, जो तीसरी शताब्दी ई।पू। से बारहवीं शताब्दी के बीच के काल के हैं। यहां का मुख्य आकर्षण साँची का स्तूप, तोरण, और मठ हैं।

holidays,madhya pradesh,heart of india,4 famous tourist cities,khajuraho,ujjain,sanchi,maheshwar ,मध्य प्रदेश, भारत का दिल, मध्य प्रदेश पर्यटन स्थल, खजुराहो, उज्जैन, साँची, महेश्वर

* महेश्वर

महेश्वर ‘मध्य भारत के वाराणसी’ के रूप में जाना जाता है, महेश्वर भगवान शिव को समर्पित एक छोटा सा शहर है। यह नर्मदा नदी के तट पर स्थित, महेश्वर के पास बहुत धार्मिक स्थल है और यह मध्य प्रदेश के प्रमुख लोकप्रिय तीर्थ स्थलों में से एक है। वास्तव में, ऐसा कहा जाता है कि यह पवित्र शहर हिंदू भक्तों के लिए एक बार प्रसिद्ध आध्यात्मिक केंद्रों में से एक था। आध्यात्मिकता के अलावा, महेश्वर उन लोगों के लिए एक उत्कृष्ट केंद्र है जो अपनी आंखों से अच्छी भारतीय वास्तुकला को देखना चाहते हैं।



Advertisement