Advertisement

  • मुंबई वासियों की पसंदीदा जगह बन रहा खोडाला, देखने को मिलता हैं प्राकृतिक सौंदर्य का अद्भुत नजारा

मुंबई वासियों की पसंदीदा जगह बन रहा खोडाला, देखने को मिलता हैं प्राकृतिक सौंदर्य का अद्भुत नजारा

By: Anuj Wed, 13 Nov 2019 3:55 PM

मुंबई वासियों की पसंदीदा जगह बन रहा खोडाला, देखने को मिलता हैं प्राकृतिक सौंदर्य का अद्भुत नजारा

खोडाला महाराष्ट्र राज्य के ठाणे जिले में स्थित एक छोटा सा गांव है। वैतरना झील, इगतपुरी,कसारघाट के कारण यह बडा पर्यटन केन्द्र है। धीरे धीरे खोडाला मुम्बईवासियों के बीच काफी लोकप्रिय हो रहा है। मुंबई नासिक हाइवे से होकर नीचे जवाहरपाटा पर बायीं ओर मुडकर लगभग बाईस किलोमीटर की दूरी तय करके खोडाला पहुंच सकते हैं। अद्भुत प्राकृतिक सौंदर्य,जंगली जानवरों के अलावा यहां बहुत कुछ देखने के लिए न होने के बावजूद यहां की हरियाली और पहाडी रास्तों पर चलकर घूमनें का मजा ही कुछ और है। यहां घूमने का सबसे बेहतरीन समय जून से अक्टूबर तक है।

jungle trekking,explore  khodala,khodala,tourism,holidays,travel,trekking,camping,jungle camping ,जंगल ट्रेकिंग कैम्पिंग, हॉलीडेज, ट्रेवल,खोडाला

सूर्यमाल

अंतहीन मैदानों को देखना बहुत ही रोमांचित कर देता है। आगे बढ़ने के लिए यहां से नीचे वाडा की ओर ड्राइविंग की जा सकती है। सड़क के चारों ओर घना जंगल है। वाडा से कुछ दूरी पर ही वैतरणा बांध है।

देवबंदी मंदिर

यहां गणेश जी का एक मंदिर है। इसके पीछे एक पहाडी झरना बहता है जिसकी आक्रामकता मानसून में देखने लायक होती है। यहां कब बादल आपको आ घेरें और कब झमाझम बारिश होने लगे इसका पूर्वानुमान नहीं लगा सकते।

jungle trekking,explore  khodala,khodala,tourism,holidays,travel,trekking,camping,jungle camping ,जंगल ट्रेकिंग कैम्पिंग, हॉलीडेज, ट्रेवल,खोडाला

सूर्यमाल

अंतहीन मैदानों को देखना बहुत ही रोमांचित कर देता है। आगे बढ़ने के लिए यहां से नीचे वाडा की ओर ड्राइविंग की जा सकती है। सड़क के चारों ओर घना जंगल है। वाडा से कुछ दूरी पर ही वैतरणा बांध है।

देवबंदी मंदिर

यहां गणेश जी का एक मंदिर है। इसके पीछे एक पहाडी झरना बहता है जिसकी आक्रामकता मानसून में देखने लायक होती है। यहां कब बादल आपको आ घेरें और कब झमाझम बारिश होने लगे इसका पूर्वानुमान नहीं लगा सकते।

jungle trekking,explore  khodala,khodala,tourism,holidays,travel,trekking,camping,jungle camping ,जंगल ट्रेकिंग कैम्पिंग, हॉलीडेज, ट्रेवल,खोडाला

माउंटेन रैंज,वाइल्ड कैंप

खोडाला में बाजार से लगभग 2 किलोमीटर दूर यह कैंप एक छोटी सी पहाडी पर है। ट्रेकिंग प्रेमियों के लिए यहां बहुत कुछ है। किराये पर बाइक या साइकिल ले कर आप सह्याद्री श़ृंखलाओं की सैर कर सकते हैं।

अमला वाइल्डलाइफ सेंचुरी

यहां वन्यजीवों को खुले में विचरण करते हुए देखा जा सकता है। चारों और से झरने और पहाडों से घिरा यह स्थान बहुत ही सुंदर लगता है।

jungle trekking,explore  khodala,khodala,tourism,holidays,travel,trekking,camping,jungle camping ,जंगल ट्रेकिंग कैम्पिंग, हॉलीडेज, ट्रेवल,खोडाला

माउंटेन रैंज,वाइल्ड कैंप

खोडाला में बाजार से लगभग 2 किलोमीटर दूर यह कैंप एक छोटी सी पहाडी पर है। ट्रेकिंग प्रेमियों के लिए यहां बहुत कुछ है। किराये पर बाइक या साइकिल ले कर आप सह्याद्री श़ृंखलाओं की सैर कर सकते हैं।

अमला वाइल्डलाइफ सेंचुरी

यहां वन्यजीवों को खुले में विचरण करते हुए देखा जा सकता है। चारों और से झरने और पहाडों से घिरा यह स्थान बहुत ही सुंदर लगता है।

रहने की व्यवस्था

यहां सस्ते और महंगा दोनो तरह के होटल मिल जाते हैं। कैम्पिंग के लिए भी सुविधा उपलब्ध हैं। खोडाला पहुंचने के लिए निकटतम रेलवे स्टेशन कसारा है। राष्ट्रीय राजमार्ग तीन द्वारा भिवंडी,खरडी और कसारा होते हुए खोडाला पहुंचा जा सकता है राणे स्टैंड से वाडा होते हुए नासिक जाने वाली बसें यहां रूकती हैं।

Tags :
|

Advertisement