Advertisement

  • महीने भर पहले मिलने लगते है हार्ट अटैक के ये संकेत, जानें और सतर्क रहें

महीने भर पहले मिलने लगते है हार्ट अटैक के ये संकेत, जानें और सतर्क रहें

By: Ankur Thu, 13 June 2019 6:41 PM

महीने भर पहले मिलने लगते है हार्ट अटैक के ये संकेत, जानें और सतर्क रहें

वर्तमान समय की जीवनशैली ने व्यक्ति को बिमारियों का घर बना दिया हैं। जी हाँ, आजकल के खानपान और व्यायाम ना करने की आदत ने व्यक्ति के शरीर को शिथिल बना दिया हैं और अन्दर से खोखला कर दिया हैं। इसका सबसे बुरा प्रभाव व्यक्ति के दिल पर पड़ रहा हैं। जी हाँ, आजकल हार्ट अटैक का खतरा बढ़ता ही जा रहा हैं। हार्ट अटैक से जुड़ी चिंता यह रहती हैं कि इसका पता नहीं चल पाता हैं। लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसे संकेत बताने जा रहे हैं जो महीने भर पहले ही हार्ट अटैक का खतरा दर्शाते है। तो आइये जानते हैं इन संकेतों के बारे में।

छाती पर दबाव
आपको कई बार छाती पर दबाव महसूस होगा, इसे एनजाइना भी कहते हैं। जब आपके दिल को ज़्यादा ऑक्सीजन वाला खून नहीं मिलता, छाती में दर्द उत्पन्न हो सकता है। कई लोग इसे अपच का कारण मानते हैं, पर अगर यह दबाव लगातार बना रहता है तो आपको दिल का दौरा पड़ सकता है।

Health tips,health tips in hindi,heart attack,heart attack hints,heart attack symptoms ,हेल्थ टिप्स, हेल्थ टिप्स हिंदी में, हार्ट अटैक, हार्ट अटैक के संकेत, हार्ट अटैक के लक्षण

चक्कर और ठन्डे पसीने का आना
रक्त का प्रवाह ठीक तरीके से नहीं होने से सही मात्रा में खून दिमाग तक नहीं पहुंचता है और इसके कारण आपको चक्कर आ सकते हैं। अगर आपको ठन्डे पसीने आ रहे हैं तो जल्द से जल्द डॉक्टर से मिलें।

कमज़ोरी महसूस होना
अगर आपको कमज़ोरी लग रही है, जबड़े में दर्द हो रहा है, काफी पसीना आता है या उल्टी सी लगती है तो आपको दिल का दौरा पड़ सकता है। यह इस बात का संकेत है कि आपकी धमनियां संकीर्ण हो रही हैं और पूरे शरीर में रक्त सही तरह से नहीं पहुँच पा रहा है।

Health tips,health tips in hindi,heart attack,heart attack hints,heart attack symptoms ,हेल्थ टिप्स, हेल्थ टिप्स हिंदी में, हार्ट अटैक, हार्ट अटैक के संकेत, हार्ट अटैक के लक्षण

सांस लेने में दिक्कत
दिल के अलावा रक्त प्रवाह में कमी होने से जो दूसरा अंग सबसे ज़्यादा प्रभावित होता है वह है फेफड़ा। फेफड़े में खून की कमी से आपको सांस लेने में दिक्कत आ सकती है। अगर आप सही तरीके से सांस नहीं लेते हैं तो आपके दिमाग में कम ऑक्सीजन पहुंचता है। इससे भी सांस लेने में दिक्कत आ सकती है।

ज़्यादा थकावट
अगर बिना किसी कारण के आपको हर वक़्त थकावट महसूस होती है तो आपके दिल में रक्त का प्रवाह कम हो रहा होगा। ऐसा धमनियों में प्लाक बनने से भी होता है।

Tags :

Advertisement